आवेदन लगाया विवाद विच्छेद का और लोक अदालत में साथ रहने का प्रण लेकर हुये विदा

Advertisements

आवेदन लगाया विवाद विच्छेद का और लोक अदालत में साथ रहने का प्रण लेकर हुये विदा

बिछड़े दंपत्तियों का हुआ पुनर्मिलन


छिंदवाड़ा। नेशनल लोक अदालत में कुटुम्ब न्यायालय के समक्ष लंबित 10 प्रकरण जो विवाह विच्छेद के लिये प्रस्तुत किये गये थे तथा 16 ऐसे प्रकरण जिनमें पति-पत्नी दीर्घकाल से अलग रह रहे थे और एक पक्ष के द्वारा दाम्पत्य जीवन की पुनर्स्थापना के लिये न्यायालय में आवेदन प्रस्तुत किया गया था।

इन प्रकरणों में पीठासीन अधिकारी और सुलहकर्ता सदस्यों द्वारा समझाईश दिये जाने के बाद दंपत्तियों ने एक-दूसरे को माला पहनाकर अपने प्रकरण में सहमतिपूर्वक राजीनामा किया तथा भविष्य में विवाद नहीं करने का प्रण करते हुये मुस्कुराकर न्यायालय से विदा हुये और विवाद का अंत किया। इसके अतिरिक्त भरण-पोषण के 3 प्रकरणों में पक्षकारों द्वारा राजीनामा कराकर न्यायालय से खुशी-खुशी विदा हुए।

इस प्रकार कुटुंब न्यायालय के समक्ष लंबित 37 प्रकरणों में पति-पत्नी द्वारा राजीनामा किया जाकर विवाद का अंत किया और साथ में रहने का प्रण लेते हुये न्यायालय से विदा हुये। जिला विधिक सहायता अधिकारी रजनीश चौरसिया ने सभी न्यायाधीशों एवं सभी अभिभाषकों, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, पत्रकारों, न्यायालय एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के समस्त स्टॉफ के सहयोग से नेशनल लोक अदालत सम्पन्न होने पर सभी के सहयोग के लिये आभार व्यक्त किया है।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.