बैतूल – बादलपुर में पीएम आवास में से 17 हजार सर्वे के नाम पर हड़पे

Advertisements

NEWS IN HINDI

बैतूल – बादलपुर में पीएम आवास में से 17 हजार सर्वे के नाम पर हड़पे

लोहारिया में न सुविधाएं और न ही योजनाओं का लाभ

बैतूल संवाददाता
बैतूल। बघोली पंचायत के लोहारिया गांव में न तो लोगों को बुनियादी सुविधाएं मिल पा रही हैं और न ही सरकारी योजनाओं का लाभ ही मिल रहा है। बादलपुर पंचायत के सचिव ने एक हितग्राही को पीएम आवास के लिए मिली राशि में 17 हजार रुपए सर्वे के नाम पर हड़प लिए। इन मामलों की शिकायत आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को रैली के रूप में कलेक्ट्रेट पहुंच कर की। पार्टी के अजय सोनी, रितेश शर्मा, शिबू विश्वकर्मा, राजेश सोलंकी, जितेंद्र देशमुख, नामदेव उबनारे सहित अन्य पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने शिकायत में बताया है कि बादलपुर पंचायत के मनोहर सिंह ने जानकारी दी है कि पीएम आवास के लिए मिली पहली किश्त में से पंचायत सचिव ने 17 हजार रुपए यह कह कर ले लिए कि सर्वे करवाना पड़ेगा। सर्वे के बाद राशि वापस करने की बात कही थी। काफी समय बाद जब राशि वापस मांगी तो कहने लगा कि कोई राशि वापस नहीं मिलेगी, जो करना है वह कर लो। इस संबंध में घोड़ाडोंगरी तहसीलदार और जनपद सीईओ से भी शिकायत की गई पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसी तरह बादलपुर की ही सोनिया ठाकुर को सर्वे में 40 वें नंबर पर शामिल होने के बाद भी प्रधानमंत्री आवास का लाभ नहीं मिल पाया है। दूसरी शिकायत में बताया गया है कि बघोली पंचायत के लोहारिया ग्राम में अपात्रों के बीपीएल कार्ड बने हैं और पात्रों के कार्ड ही नहीं बन पाए हैं। मोक्षधाम के नाम पर राशि का दुरूपयोग किया गया है। वृद्घावस्था पेंशन, विधवा पेंशन, विकलांग पेंशन का लाभ नहीं मिल रहा है। शौचालय नहीं बनाए जाने से लोग खुले में शौच को मजबूर हैं। जॉब कार्ड नहीं बनने से मजदूरी नहीं मिल रही है। पानी की उचित व्यवस्था नहीं होने से ग्रामीण हैंडपंप का गंदा मटमैला पानी पीने को मजबूर हैं। स्कूलों में बाउंड्रीवाल तक नहीं है। पार्टी ने इन मामलों में जांच कर उचित कार्रवाई की मांग की है।

NEWS IN English

Betul – Out of the PM housing in Badalpur, 17,000 surveys have been named.

No facilities in Loharia or the benefits of schemes

Betul Correspondent
Betul Neither the people are getting basic amenities nor the benefits of government schemes are available in Loharia village of Bagoli Panchayat. The secretary of the Badalpur Panchayat grabbed a beneficiary in the name of the survey amount of Rs. 17 thousand for the PM house. Complaints of these cases by the Aam Aadmi Party reached the Collectorate on Friday as a rally. Other office bearers and activists including Ajay Soni, Ritesh Sharma, Shibu Vishwakarma, Rajesh Solanki, Jitendra Deshmukh, Namdev Ubnare, have said in the complaint that Manohar Singh of the Badalpur Panchayat has informed that the Panchayat from the first installment for the PM house The secretary has said Rs 17 thousand saying that the survey will have to be done. After the survey, the amount was refunded. After a long time, when the amount asked for back money, then it started saying that no amount will be returned, whatever it is to do. In this regard, Ghoradongri Tehsildar and District CEO also complained but no action was taken. Likewise, Sonia Thakur of Badalpur was not able to get the benefit of the Prime Minister’s residence even after joining the 40th rank in the survey. In the second complaint, it has been reported that BPL cards of ineligible persons have been made in Loharia village of Bagholi Panchayat and the cards of the characters have not been made. In the name of Mokshadham, the amount has been misused. Growth pension, widow pension, disabled pension is not available. With no toilet, people are forced to open in the open. There is no wage due to not being a job card. With no proper water system, the rural handpump is forced to drink the dirty groundwater. There is no boundaries in the schools. The party has examined these cases and demanded appropriate action.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.