भोपाल : एम्स में नहीं करना पड़ेगा मरीजों को इंतजार, मार्च तक शुरू होगा 600 बिस्तर का अस्पताल

Advertisements

NEWS IN HINDI

भोपाल : एम्स में नहीं करना पड़ेगा मरीजों को इंतजार, मार्च तक शुरू होगा 600 बिस्तर का अस्पताल

भोपाल। ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (एम्स) भोपाल में मार्च अंत तक 600 बिस्तरों का अस्पताल शुरू हो जाएगा। 960 बिस्तर के अस्पताल में अभी सिर्फ 400 बिस्तर ही शुरू हो पाए हैं यानि इनमें 200 बिस्तरों की और बढ़ोतरी हो जाएगी। इस वजह से मरीजों को भर्ती करने के लिए वेटिंग चल रही है। बेड खाली होने पर मरीजों को फोन करके बुलाया जाता है। एम्स भोपाल के डायरेक्टर डॉ. नितिन एम नागरकर ने बताया कि फैकल्टी की संख्या 136 तक हो गई है। वार्ड भी तैयार हैें। बेड व अन्य सामान आ चुका है। धीरे-धीरे कर मार्च तक 600 बेड कर दिए जाएंगे। इस साल अंत तक सभी 960 बेड का अस्पताल शुरू करने की पूरी तैयारी है। डॉ. नागरकर ने बताया कि बिल्डिंग का करीब 96 फीसदी काम पूरा हो चुका है। एक महीने के भीतर 11 ऑपरेशन थियेटर शुरू हो जाएंगे। इससे ऑपरेशन के लिए वेटिंग नहीं रहेगी। स्तन कैंसर की जांच के लिए मेमोग्राफी मशीन, एक एमआरआई मशीन और लग जाएगी। इसके बाद एमआरआई के लिए वेटिंग कम होगी।

उन्होंने बताया कि अब सबसे ज्यादा फोकस ट्रामा और इमरजेंसी की सुविधा पूरी तरह से शुरू करने को लेकर है। हालांकि, इमरजेंसी मरीजों को भर्ती किया जा रहा है, अभी पूरी क्षमता के साथ इसे शुरू करने में दो महीने लगेंगे।

फैकल्टी के लिए फरवरी में शुरू होगी भर्ती प्रक्रिया
एम्स में विभिन्न विभागों में अभी 136 कंसल्टेंट्स (फैकल्टी) हैं, जबकि यहां पर 305 पद हैं। कंसल्टेंट्स की कमी के चलते अभी ओपीडी में सीमित मरीजों को ही टोकन दिए जा रहे हैं। बेड भी नहीं बढ़ाए जा रहे हैं। एम्स में अब तक पूरे 960 बेड शुरू हो जाने थे, लेकिन फैकल्टी की कमी के चलते दिक्कत हो रही थी। एम्स के अधिकारियों ने बताया कि फैकल्टी की भर्ती प्रक्रिया फरवरी में शुरू हो जाएगी। सब कुछ सामान्य रहा तो मई तक चयन हो जाएगा।

251 पदों की भर्ती में मिले सिर्फ 80
एम्स प्रबंधन ने 2016 में 251 पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू की थी। इस प्रक्रिया के तहत 80 कंसल्टेंट्स ही मिले हैं। शुरुआती भर्ती से 56 कंसल्टेंट मिले थे। इस तरह अभी 136 कंसल्टेंटस काम कर रहे हैं। एम्स भोपाल के अफसरों का कहना है कि लगभग सभी एम्स में इतने की कंसल्टेंट्स मिल पाए हैं, बल्कि अन्य जगह इससे कम ही हैं।

इनका कहना है
मार्च तक कई सुविधाएं शुरू हो जाएंगी। बिस्तर भी बढ़ाए जा रहे हैं। 400 बिस्तर शुरू हो चुके हैं। मार्च तक छह सौ बिस्तर हो जाएंगे। ट्रामा एंड इमरजेंसी की सुविधा भी मार्च तक शुरू करने की तैयारी है –
डॉ. नितिन नागरकर, डायरेक्टर, एम्स भोपाल

 

NEWS IN English

Bhopal: Patients will not have to wait in AIIMS, 600 beds will start till March

Bhopal. 600 bedded hospital will start by the end of March at the All India Institute of Medical Sciences (AIIMS) Bhopal. In the 960-bed hospital, only 400 beds are started, that is, 200 beds will increase. Because of this, weighting is going on for recruitment of patients. Patients are called upon by phone when the beds are empty. Dr. Nitin M Nagarakar, Director, AIIMS Bhopal said that the number of faculty has increased to 136. Ward is ready too. Bed and other things have come. Slowly, up to 600 beds will be done by March. By the end of this year, there is a complete preparation of all the 960 beds in the hospital. Dr. Nagarkar said that about 96 percent of the building’s work has been completed. Within one month, 11 operational theaters will be started. It will not be waiting for the operation. To investigate breast cancer, the mammography machine, an MRI machine and will be found. After this, waiting for MRI will be less.

He said that now the highest focus is on introducing Trauma and Emergency facilities completely. However, Emergency patients are being recruited, with just the full capacity, it will take two months to begin.

Recruitment process for faculty to start in February
In AIIMS, there are now 136 consultants in various departments, while there are 305 posts here. Due to the lack of consultants, only tokens are given to limited patients in OPD. Beds are not being raised too. So far, 960 beds would have started in AIIMS, but due to lack of faculty problems were getting started. Officials of AIIMS told that the recruitment process of the faculty will start in February. If everything is normal then the selection will be done till May.

251 posts recruited only 80
The AIIMS management started the recruitment process for 251 posts in 2016. Under this process, 80 consultants were found. 56 consultants were received from the initial recruitment. So 136 consultants are working like this now. Officials of AIIMS Bhopal say that in almost all AIIs, many such consultants have been found, but rather less than the other.

They say
Many facilities will start by March. The beds are also being extended. 400 beds have started. By March it will be six hundred beds. Trauma and Emergency facility is also set to begin by March –
Dr. Nitin Nagarkar, Director, AIIMS Bhopal

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.