भोपाल : भारत संचार निगम लिमिटेड के बकायदारों से दबंग करेंगे वसूली,58 करोड़ रुपए की है लेनदारी

Advertisements

NEWS IN HINDI

भोपाल : भारत संचार निगम लिमिटेड के बकायदारों से दबंग करेंगे वसूली,58 करोड़ रुपए की है लेनदारी

भोपाल। मध्यप्रदेश में करोड़ों रुपए की उधारी वसूली के लिए सरकारी दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) ने निजी एजेंसी को ठेका देने का निर्णय किया है। छह माह से ज्यादा अटकी बकाया राशि की वसूली अब एजेंसी के दबंग करेंगे। प्रदेश में करीब 58 करोड़ रुपए की वसूली होना है। फिलहाल लैंडलाइन और भोपाल के बकायादारों से शुरू हुए इस प्रयोग को नतीजों के आधार पर अन्य जिलों में लागू करेंगे। सरकारी महकमों से बीएसएनएल अधिकारी ही तकादा करेंगे।

राजधानी भोपाल परिमंडल में ही सरकारी दूरसंचार कंपनी के 7 करोड़ रुपए से अधिक राशि की वसूली अटकी है। ये सभी लैंडलाइन उपभोक्ता हैं जबकि मोबाइल उपभोक्ताओं पर भी छह करोड़ रुपए बाकी हैं। बकायादारों में कुछ सरकारी महकमे भी हैं। इनमें राज्य शासन के एक विभाग पर तो करीब दो करोड़ रुपए की वसूली निकल रही है।

बताया जाता है कि निजी एजेंसियों के ये कर्मचारी अब बकायादारों से अपने खास और ठेठ अंदाज में वसूली करेंगे। इसके एवज में बीएसएनएल निजी एजेंसी को मेहनताने के रूप में बकाया बिलों की राशि का 25 फीसदी तक कमीशन देने को तैयार हो गया है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि परिमंडल में चार हजार से अधिक उपभोक्ता ऐसे हैं जो एक-सवा साल से डिफाल्टर की श्रेणी में आ चुके हैं। उन्हें कई बार स्मरण पत्र भेजे, टेलीफोन अदालत भी लगाई लेकिन उन्होंने पैसे देने का मन नहीं बनाया।

निजी बैंक की तर्ज पर शुरू किया प्रयोग
अभी तक निजी और राष्ट्रीयकृत बैंक अपनी कर्ज वसूली के लिए निजी एजेंसियों की सेवाएं लेती हैं। किसानों के मामले में कई बार वसूली एजेंट की ज्यादती की खबरें सुर्खियों में रही हैं। इसी तर्ज पर बीएसएनएल ने यह प्रयोग शुरू किया है। फिलहाल भोपाल परिमंडल में यह ठेका इस शर्त पर दिया गया है कि छह माह और एक साल से अधिक बकायादारों से ही वसूली की जाएगी। इसके लिए एजेंसी को सभी बकायादारों की सूची के साथ बीएसएनएल का एक अधिकार पत्र भी दिया जाएगा।

शालीनता के दिए निर्देश
हमने निजी एजेंसी से बकाया वसूली कराने का निर्णय कर लिया है। फिलहाल लैंडलाइन के डिफाल्टरों की वसूली कराएंगे। एजेंसी को स्पष्ट कहा गया है कि ग्राहकों से शालीनता और सभ्यता के साथ पेश आएं – डॉ. महेश शुक्ल, प्रधान महा प्रबंधक बीएसएनएल भोपाल

 

NEWS IN English

Bhopal: Recovering from the defaulters of Bharat Sanchar Nigam Limited, Recovery of Rs. 58 crores

Bhopal. Government of India Telecom Company Bharat Sanchar Nigam Limited (BSNL) has decided to give contract to private agency for recovery of crores of rupees in Madhya Pradesh. Recovery of outstanding amount stuck for more than six months will now be overbearing by the agency. There is a recovery of about Rs. 58 crores in the state. At present, starting with the landlines and the arrears of Bhopal, these experiments will be implemented in other districts on the basis of the results. BSNL officials will make a complaint from government departments.

In the capital, Bhopal, the government telecom company is recovering more than seven crore rupees. These are landline consumers, while on mobile consumers, there are still six crore rupees left. There are also some government departments in the defaulters. In these, recovery of about two crore rupees is being collected on a department of state government.

It is said that these employees of private agencies will now recover the defaulters in their special and typical style. In lieu of this, BSNL has agreed to pay 25% of the amount of outstanding bills as a wage to the private agency. Departmental sources say that there are more than four thousand consumers in the circle, who have been in the Defaulter category for one-and-a-half years. He sent reminders to them several times, even set up a telephone court but they did not feel like giving money.

Experiment launched on the lines of private bank
So far private and nationalized banks take the services of private agencies for their debt recovery. In the case of farmers many times the news of the excesses of the recovery agent has been in the headlines. BSNL has started this experiment on the same lines. At present, the contract is in place in the Bhopal circle on the condition that recovery will be done only from six months and more than one year’s arrears. For this, the agency will also be given an official letter of BSNL along with the list of all the defaulters.

Courtesy of courtesy
We have decided to recover the outstanding recovery from the private agency. At present, we will make landline defaulters recoverable. The agency has been explicitly told to present clients with complacency and civilization – Dr. Mahesh Shukla, Principal General Manager BSNL Bhopal

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.