दो माह में नौ हजार करोड़ रुपए वसूलने के लिए छोटे शहरों में होगी बड़ी कार्रवाई

Advertisements

NEWS IN HINDI

दो माह में नौ हजार करोड़ रुपए वसूलने के लिए छोटे शहरों में होगी बड़ी कार्रवाई

भोपाल। आयकर विभाग के सामने अगले दो महीने में नौ हजार करोड़ रुपए टैक्स वसूली का लक्ष्य है। आयकर का दायरा बढ़ाने और छोटे शहरों से टैक्स वसूली बढ़ाने के लिए विभाग ने नई रणनीति बनाई है। इसे लेकर मीडिया से चर्चा करते हुए मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ के प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त पीके दाश ने कहा है कि करदाता हमारा ‘भगवान” है, लेकिन टैक्स चोरों को बिल्कुल नहीं बख्शेंगे। आयकर भवन में बुधवार को प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त दाश ने बताया कि दोनों राज्यों के मुख्य आयुक्त और आयुक्तों के साथ हुई समीक्षा बैठक में नई रणनीति बनाई गई है। हमारे सामने 22 हजार 173 करोड़ रुपए टैक्स वसूली का लक्ष्य है। 24 जनवरी तक 13 हजार 612 करोड़ रुपए की वसूली हो चुकी है। बचे हुए दो महीने में करीब नौ हजार करोड़ जुटाने का लक्ष्य है। वित्त वर्ष के अंतिम दिनों में ज्यादा वसूली के लिए टैक्स चोरों पर विभाग सख्ती भी करेगा।

लागू होगा इंदौर का मॉडल
उन्होंने बताया कि इंदौर की तर्ज पर दोनों राज्यों में करदाता विस्तार अभियान और कर संग्रहण मुहिम चलाएंगे। इसके लिए दोनों राज्यों के छोटे नगर-कस्बों पर भी फोकस करेंगे। टैक्स चोरों और डिफाल्टरों पर निगरानी की जाएगी। लगातार ‘डिमांड” के बाद भी जो लोग टैक्स नहीं दे रहे, उन्हें जेल की हवा भी खिलाएंगे। समाज में उनके नामों की सूची प्रचारित की जाएगी। मुकदमे दर्ज करवाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि तीन मामले ऐसे हैं जिनमें जेल भेजने की तैयारी कर ली गई है। पांच डिफाल्टर्स की संपत्ति नीलाम होगी।

भगोड़े पर शिकंजा
दाश ने बताया एक करदाता इसलिए चार साल से दुबई में जाकर बस गया था, ताकि उसे टैक्स न देना पड़े। उस पर विभाग ने नजर रखी। इस दौरान पिछले सप्ताह वह इंदौर पहुंचा तो उसके खिलाफ धारा 230 के तहत ‘प्रॉहिबिटरी आर्डर” जारी करा दिया। अब वह आयकर की ‘क्लीयरेंस” के बगैर भारत नहीं छोड़ सकता। उसने 20 लाख रुपए जमा कर दिए हैं, उस पर दो करोड़ रुपए की डिमांड है। दाश ने बताया कि ऐसे चार मामले हैं जिनमें लोग देश छोड़ कर भाग गए हैं। पत्रकारवार्ता में मौजूद इंदौर के चीफ कमिश्नर अजय चौहान ने करदाता की पहचान छिपाते हुए मामले का ब्योरा दिया।

बनाएंगे ब्रांड एंबेसडर
प्रधान मुख्य आयुक्त दाश ने जानकारी दी कि विभाग की छवि चमकाने और लोगों के मन से डर दूर करने ब्रांड एंबेसडर भी नियुक्त करेंगे। दोनों राज्य में अपने क्षेत्र की किसी बड़ी शख्सियत को एंबेसडर बनाएंगे जो कि लोगों को प्रेरित कर सके। वैसे प्रदेश की ग्रोथ रेट 19 फीसदी है जो देश की औसत ग्रोथ से ज्यादा है।

बेनामी के सौ मामले
उन्होंने बताया कि दोनों राज्यों में बेनामी संपत्ति के 100 प्रकरण सामने आ चुके हैं। कुछ और प्रकरण भी पाइपलाइन में हैं। दाश ने कहा कि बेनामी संपत्ति के मामले में सांठगांठ में लिप्त पाए जाने वाले अफसरों के खिलाफ विभाग सीबीआई अथवा प्रवर्तन निदेशालय को भी शिकायत भेजेगा।

 

NEWS IN English

Big action will be taken in big cities to recover nine thousand crores in two months.

Bhopal. In the next two months in front of the Income Tax Department, the target of tax collection is Rs 9, 000 crores. To increase the income tax scope and increase tax collection from small towns, the department has created a new strategy. Speaking to the media about this, PK Das, the Chief Income Commissioner of Madhya Pradesh-Chhattisgarh, has said that the taxpayer is our “God”, but the tax will not be spared the thieves.Day Dash, chief of the Income Tax Commissioner, A new strategy has been made in the review meeting held with the Chief Commissioners and Commissioners of the States. We have a target of tax collection of 22 thousand 173 crores Has been collected 13 thousand Rs 612 crore till January 24th. Leftover closer to raising nine billion in two months. Department on tax evaders to recover much in the last days of the fiscal year will vigorously.

The model of Indore will be implemented
He said that on the lines of Indore, the taxpayers will be able to carry expansion campaigns and tax collections in both the states. For this, they will also focus on small towns of both states. Tax thieves and defaults will be monitored. Even after continuous ‘demand’, those who are not taxing will also feed the prison’s air. The list of their names in the society will be publicized and the cases will be registered. They said that there are three cases in which the prisoners are ready to send the prison The property of five defaulters will be auctioned.

Screws on fugitive
Das told that a taxpayer had gone to Dubai for four years, so that he did not have to pay tax. The department has kept an eye on him. During this time, he reached Indore last week and issued a ‘Prohibitory Order’ under section 230. He can no longer leave India without ‘clearance’ of income tax. He has deposited Rs 20 lakh, he has a demand of two crore rupees. Das said that there are four such cases in which people have left the country and fled. Indore’s Chief Commissioner Ajay Chauhan, in the press briefing, gave details of the case while hiding the identity of the taxpayer.

Will create brand ambassador
Principal Chief Commissioner Dash informed that the brand ambassador would also be appointed to remove the image of the department and remove the fear of the people. In both states, an ambassador for some of your area will be able to inspire people. The state’s growth rate is 19 per cent, which is more than the average growth of the country.

Hundred cases of benami
He told that 100 episodes of Anonymous property have been revealed in both the states. Some other episodes are also in the pipeline. Dash said that the department will also send a complaint to the CBI or Enforcement Directorate against the officers who are involved in the nexus in the case of benami property.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.