भावपूर्ण समर्पण हासिल करना है अभियान का उद्देश्य :  आदित्य शुक्ला

Advertisements

भावपूर्ण समर्पण हासिल करना है अभियान का उद्देश्य :  आदित्य शुक्ला

भाजपा जिलाध्यक्ष ने ली घोड़ाडोंगरी में बैठक


बैतूल। स्वर्गीय कुशाभाऊ ठाकरे के जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर समर्पण निधि अभियान में हमें अपना लक्ष्य हासिल करना है। इस अभियान में पार्टी का उद्देश्य केवल धन एकत्र करना ही नहीं है अपितु कार्यकर्ताओं एवं समर्थकों का भावपूर्ण समर्पण प्राप्त करना है। यह विचार भाजपा जिला अध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला ने रविवार की दोपहर घोड़ाडोंगरी में जनपद स्तरीय कार्यकर्ता बैठक को संबोधित करते हुए व्यक्त किए।

बैठक में पूर्व संसदीय सचिव रामजीलाल उइके, पूर्व विधायक गीता उइके, महिला आयोग की पूर्व सदस्य गंगा उइके, मंडल प्रभारी दीपू सलूजा, मंडल अध्यक्ष राजेश महतो, वरिष्ठ नेता विशाल बत्रा, राजेंद्र मालवीय, दीपक उइके, मोहन मोरे, पूरन साहू, तपन विश्वास, जनपद अध्यक्ष सुशीला धुर्वे, जिला पंचायत सदस्य श्यामवती तेम्रवार, सुरेश सेन, प्रशांत गावंडे, राकेश वर्मा आदि नेता भी मंचासीन रहे। भाजपा जिला अध्यक्ष शुक्ला ने कार्यकर्ताओं को बूथ विस्तारक अभियान की सफलता की बधाई देते हुए इसी तरह प्राण प्रण से समर्पण निधि अभियान को भी सफल बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हमारा कार्यकर्ता परिश्रमी है और पार्टी के लिए तन मन धन से लगातार समर्पित और सक्रिय रहता है। ऐसे देव दुर्लभ कार्यकर्ताओं के रहते कोई भी अभियान मुश्किल नहीं है। उन्होंने कहा कि हमें हमारे कार्यकर्ताओं एवं समविचारी समर्थकों से ही समर्पण निधि हासिल करना है। स्वर्गीय कुशाभाऊ ठाकरे जी के जन्म शताब्दी वर्ष में पहले हमने समय का समर्पण किया। अब हम यथाशक्ति धन का समर्पण कर पार्टी संगठन को आत्मनिर्भर बनाएंगे।

इस दौरान जिला अध्यक्ष ने सभी मंडलों में समर्पण निधि एकत्र करने वाली टोली का गठन करते हुए करते उन्हें सभी स्तर पर कार्यकर्ताओं व समर्थकों से संपर्क करने का आह्वान की भी किया। बैठक में घोड़ाडोंगरी जनपद क्षेत्र के घोड़ाडोंगरी, चोपना, पाढर एवं सारणी ग्रामीण मंडल के कार्यकर्ता एवं जनप्रतिनिधि शामिल हुए। बैठक का संचालन मंडल महामंत्री बिजीलाल धुर्वे ने और आभार प्रदर्शन सारणी ग्रामीण मंडल अध्यक्ष मोहन मोरे ने किया।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.