बजट 2018 : हलवा रस्म के साथ बजट प्रपत्र छपाई का काम शुरू

Advertisements

NEWS IN HINDI

बजट 2018 : हलवा रस्म के साथ बजट प्रपत्र छपाई का काम शुरू

नई दिल्ली संवाददाता
नई दिल्ली। नॉर्थ ब्लॉक में आज वित्त मंत्री अरुण जेटली की मौजूदगी में हलवा रस्म निभाई गई। हलवा रस्म की अदायगी के बाद बजट से जुड़े डॉक्यूमेंट्स की प्रिंटिग का काम आधिकारिक रूप से शुरू हो जाता है। आज हल्वा रम्स में जेटली के साथ वित्त राज्य मंत्री शिव पी शुक्ला और नॉर्थ ब्लॉक के वरिष्ठ अधिकारियों ने शिरकत की। आपको बता दें कि 1 फरवरी को वित्त मंत्री वित्त वर्ष 2018-19 के लिए लिए आम बजट की पेशकश करेंगे। दरअसल वित्त मंत्री बजट के दौरान जिन दस्तावेजों को पढ़ता है उसकी बाकायदा दो भाषाओं में (हिंदी और अंग्रेजी) छपाई की जाती है। इस छपाई प्रक्रिया से पहले एक रस्म अदायगी की जाती है जिसे हलवा रस्म कहते हैं। एक बड़ी कढ़ाही में हलवा तैयार कर मंत्रालय के सभी कर्मचारियों के बीच इसे बांटा जाता है। ‘हलवा रस्म’ के बाद बजट बनाने और उसकी छपाई से सीधे जुड़े अधिकारियों और सहयोगी कर्मचारियों को मंत्रालय में ही रहना पड़ता है। वहीं जब तक वित्त मंत्री संसद में बजट पेश नहीं कर देते, तब तक मंत्रालय का पूरा स्टाफ अपने परिवार से कटा रहता है। इतना ही नहीं इन कर्मचारियों को ईमेल, मोबाइल समेत किसी भी संचार साधनों से घरवालों से संपर्क करने की अनुमति भी नहीं होती है। हालांकि इस पूरी प्रक्रिया के दौरान वित्त मंत्रालय के केवल सीनियर ऑफिसर्स को ही घर जाने की अनुमति होती है। देश का आम बजट तैयार करने में वित्त मंत्रालय के तमाम अधिकारियों की प्रमुख भूमिका होती है। वित्त मंत्री और वित्त सचिव समेत तमाम अधिकारी बजट का खाका तैयार करने में अपने अपने हिस्से की भूमिकाओं का निर्वहन करते हैं।

 

NEWS IN English

Budget 2018: Starting the work of budget form with halwa ritual

New Delhi correspondent
new Delhi. Halwa ritual was performed in the presence of Finance Minister Arun Jaitley in North Block today. Following the payment of Halwa ritual, the printing work of documents related to the budget starts officially. Today, Joint Secretary Joint Secretary Shah P. Shukla and senior officials of North Block attended Haldwa Rums. Let us know that on February 1, the Finance Minister will offer a general budget for the fiscal year 2018-19. In fact, the documents that the finance minister reads during the budget are printed in two languages ​​(Hindi and English). Prior to this printing process, a ritual is paid, which is called Halva Rasmas. The pudding is prepared in a big kadhai and it is distributed among all the employees of the ministry. After ‘Halwa Rasta’, the officials and associate employees directly connected to the printing and printing of their products have to stay in the ministry. By the time the finance minister does not present the budget in Parliament, the entire staff of the ministry is cut off from his family. Not only this, these employees are not allowed to contact households, including email, mobile, any communication tools. However only senior officers of the Finance Ministry have permission to go home during this entire process. In the preparation of the country’s general budget, all the officials of the Finance Ministry have a major role. All the executives, including the finance minister and the finance secretary, discharge their roles in preparing the budget for the budget.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.