मनसंगी द्वारा प्रकाशित हुआ साँझा संकलन, खामोश लब्ज बना प्रथम साझा संकलक मनसंगी का एक और सफलतम कार्य

मनसंगी द्वारा प्रकाशित हुआ साँझा संकलन, खामोश लब्ज बना प्रथम साझा संकलक मनसंगी का एक और सफलतम कार्य साहित्य। मनसंगी परिवार द्वारा साँझा संकलन सफल रहा जिसका संपादकीय वा संकलक कार्य प्राची पांडेय बलरामपुर (उप्र) ने किया। जिसमें मनसंगी के संस्थापक अमन राठौर जी का विशेष योगदान व मार्गदर्शन रहा संपादकीय प्राची ने किया। संकलन में विभिन्न प्रान्तों के विभिन्न रचनाकारों, साहित्यकारों ने हिस्सा लिया। पुस्तक को सफल बनाने में रचनाकार- कीर्ति उपाध्याय, डी विजय भोई, अरविंद सिंह चारण, आनंद कुमार, रजनीश उपाध्याय, कृष्ण बंसल, एसएच मुकेश कुमार शुभ, त्रिभुवन…

Read More

मनसंगी साहित्य संगम के तत्वाधान में दिल की बात विषय पर काव्य गोष्ठी का सफल आयोजन

मनसंगी साहित्य संगम के तत्वाधान में दिल की बात विषय पर काव्य गोष्ठी का सफल आयोजन साहित्य। सोमवार की संध्या 4 से 5 बजे मनसंगी साहित्य संगम मंच पर दिल की बात विषय पर काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमे मुख्य अतिथि विभा शर्मा “वाची” (अमेरिका से) उपस्थित देकर काव्य गोष्ठी की शोभा बढ़ाई। मनसंगी के संस्थापक अमन राठौर “मन”, सहसंस्थापिका मनीषा कौशल और अध्यक्ष सत्यम द्विवेदी कार्यक्रम के स्तंभ रहे। कार्यक्रम का जोरदार आगाज़ रविशंकर निषाद (ARVI) और संचालिका सुरंजना पांडेय के कुशल संचालन द्वारा किया गया जो…

Read More

मनसंगी पत्रिका ग्यारवा अंक

“हताश करते लोग” का सफल प्रकाशन मनसंगी साहित्य संगम की ओर से मासिक पत्रिका की कड़ी में ग्यारहवें अंक -“हताश,करते लोग ” का सफल प्रकाशन किया गया, जिसे संपादक आ. निहारिका पाटीदार जी के द्वारा सुंदर चित्रों द्वारा सुसज्जित करके पत्रिका को आकर्षक बनाया व संकलन का कार्य आ. जागृति शर्मा ने किया। मनसंगी परिवार की ओर से संस्थापक अमन राठौर “मन” और सह संस्थापिका मनीषा कौशल के सानिध्य में, सत्यम द्विवेदी की अध्यक्षता में मनसंगी परिवार की समाज की वर्तमान स्थिति को दर्शाते हुए व जीवन व लक्ष्यों के…

Read More

मनसंगी साहित्य संगम – काव्य गोष्ठी कार्यक्रम आतंकवाद हटाओ देश बचाओ आयोजित

मनसंगी साहित्य संगम – काव्य गोष्ठी कार्यक्रम आतंकवाद हटाओ देश बचाओ आयोजित साहित्य। मनसंगी साहित्य संगम की ओर से दिनांक 3 जुलाई को रविवार संध्या 6 से 8 बजे तक काव्य गोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका विषय आतंकवाद हटाओ देश बचाओ रखा गया था। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि काव्य जगत के जानी मानी हस्ती माननीय राष्ट्रपति से सम्मानित कई कविसम्मेलनों में शिरकत कर चुके डॉ. मुकेश कबीर ने अपनी उपस्थिति देकर कार्यक्रम को जोश और उत्साह से भर दिया साथ ही विशिष्ठ अथिति आरती बक्षी (इटली से) बहुगुणा…

Read More

मनसंगी के पर्यावरण सप्ताह का समापन, मनसंगी पत्रिका ‘हमारा पर्यावरण’ का विमोचन

मनसंगी के पर्यावरण सप्ताह का समापन, मनसंगी पत्रिका ‘हमारा पर्यावरण’ का विमोचन नन्हीं पाखी जैन का संचालन और रचनाकारों का काव्य पाठ मुख्य आकर्षण रहा साहित्य। मनसंगी साहित्य संगम के पर्यावरण सप्ताह का समापन ऑनलाइन गूगल मीट पर हुआ। मुख्य अतिथि योगेश सिंह धाकरे ‘चातक’ आलीजापुर (म.प्र.) थे। सरस्वती वंदना नरेंद्र वैष्णव ने व स्वागत गीत सुरंजना पांडे ने प्रस्तुत किया। विमोचन कार्यक्रम के संयोजक मंगल कुमार जैन ने बताया कि मनसंगी के संस्थापक अमन राठौर ‘मन’ व सह संस्थापिका मनीषा कौशल के मार्गदर्शन में विश्व पर्यावरण दिवस पर प्रकाशित…

Read More

युवा रचनाकार गौतम केशरी ने लिखा पुस्तक “दर्पण” एक सच

युवा रचनाकार गौतम केशरी ने लिखा पुस्तक “दर्पण” एक सच साहित्य। फारबिसगंज प्रखंड परवाहा के ग्रामीण युवा साहित्यकार गौतम केशरी ने सबसे कम उम्र में अपने प्रखंड में पुस्तक लिखने का रिकॉर्ड बनाया है। ग्रामीण क्षेत्र में रहकर महज 20 साल की उम्र में पुस्तक लिखना उनकी प्रतिभा कौशल को दर्शाता है। गौतम लगातार साहित्य सेवा में जुड़े हुए है लोग साहित्य को नजरअंदाज करते है उनका मानना होता है साहित्य सिर्फ विचार एवं धारणाएं है परंतु गौतम ने पुस्तक लिखकर सबको चोंका दिया है। रचनाकार का कहना है, साहित्य…

Read More

मनसंगी मंच पर विषय ” घर की नींव” पर आयोजित प्रतियोगिता मे नरेन्द्र ,रामकुमारी,लता देवी ने मारी बाजी

*मनसंगी मंच पर विषय ” घर की नींव” पर आयोजित प्रतियोगिता मे नरेन्द्र ,रामकुमारी,लता देवी ने मारी बाज मनसंगी साहित्य संगम जिसके संस्थापक अमन राठौर मन जी सहसंस्थापिका मनीषा कौशल जी अध्यक्ष सत्यम जी के तत्वाधान में काव्यधारा समूह पर आयोजित प्रतियोगिता जिसका विषय घर की नींव रखा गया उसमें कई रचनाकारों ने विभिन्न राज्यों से भाग लिया अपनी स्वरचित रचनाए प्रेषित की समीक्षक का कार्यभार आदरणीय इंदु धूपिया जी ने बखू बी संभाला इन्होंने कहा सभी रचनाएं एक से बढ़कर एक है जिससे उन्हें चयन करने में काफी समस्या…

Read More

जल, जन और जीवन का सफल प्रकाशन

जल, जन और जीवन का सफल प्रकाशन साहित्य। मनसंगी साहित्य संगम की ओर से मासिक पत्रिका की कड़ी में नौवें अंक -“जल,जन और जीवन” का सफल प्रकाशन किया गया, जिसे संपादक आ. निहारिका पाटीदार जी के द्वारा सुंदर चित्रों द्वारा सुसज्जित करके पत्रिका को आकर्षक बनाया व संकलन का कार्य आ. जागृति शर्मा ने किया। मनसंगी परिवार की ओर से संस्थापक अमन राठौर “मन” और सह संस्थापिका मनीषा कौशल के सानिध्य में, सत्यम द्विवेदी की अध्यक्षता में मनसंगी परिवार की समाज को जल का जन जीवन में महत्व व संरक्षण…

Read More

मनसंगी मंच पर सत्यम द्वारा विषय ” बोलती तस्वीर” पर आयोजित प्रतियोगिता मे इंदु धूपिया की बेहतरीन समीक्षा

मनसंगी मंच पर सत्यम द्वारा विषय ” बोलती तस्वीर” पर आयोजित प्रतियोगिता मे इंदु धूपिया की बेहतरीन समीक्षा साहित्य। मनसंगी साहित्य संगम जिसके संस्थापक अमन राठौर जी सहसंस्थापिका मनीषा कौशल, अध्यक्ष सत्यम जी के तत्वाधान में काव्यधारा समूह पर आयोजित प्रतियोगिता जिसका विषय बोलती तस्वीर रखा गया। उसमें कई रचनाकारों ने विभिन्न राज्यों से भाग लिया अपनी स्वरचित रचनाए प्रेषित की समीक्षक का कार्यभार आदरणीय इंदु धूपिया ने बखूबी संभाला इन्होंने कहा सभी रचनाएं एक से बढ़कर एक है जिससे उन्हें चयन करने में काफी समस्या हुई छोटी छोटी बारीकियों…

Read More

दिव्यालय परिवार में “सरि के सम्मान में” ई पत्रिका का भव्य लोकार्पण

दिव्यालय परिवार में “सरि के सम्मान में” ई पत्रिका का भव्य लोकार्पण साहित्य। दिव्यालय एक साहित्यिक यात्रा द्वारा किये जा रहे विविध एवम साहित्य उत्थान के अनेकानेक प्रयासों की पटल संस्थापिका व्यंजना आनंद ‘मिथ्या’ जी के कुशल मार्गदर्शन में नदियों के सम्मान में किये सृजन किया गया। “दिव्यालय एक साहित्यिक यात्रा ” का तीसरा अंक ” सरि के सम्मान में ” ई पत्रिका का भव्य लोकार्पण जूम एप्प के माध्यम स हुआ। व्यंजना आनंद मिथ्या, राजश्री शर्मा, राजकुमार छापड़िया, मंजिरी निधि, नरेंद्र वैष्णव “सक्ति” आदि विद्वतजनों की सम्माननीय उपस्थिति में…

Read More