रंगों का त्योहार होली भाईचारे के साथ मनाएं

Advertisements

रंगों का त्योहार होली भाईचारे के साथ मनाएं


जुन्नारदेव, (दुर्गेश डेहरिया)। बसंत ऋतु में मनाया जाने वाला होली पर्व रंगों की खुशी और बाहर लेकर आता है। जिसमें लोग खुशियां बांटकर अपने प्रियजनों के घर जाकर एक दूसरे को गुलाल लगाकर बधाइयां देते है। और गले लगा कर गिले-शिकवे दूर करते है। होलिका दहन कर धुरेंडी में जनसमूह टोली बनाकर ढोल बाजे और मंजीरे के साथ फाग गीत गायन कर संगीत मय माहौल के साथ भ्रमण करते हुए हर्षोल्लास से होली खेली जाती है।

शांति और सद्भाव के साथ होली पर्व मनाया जाना चाहिए जिससे आपसी भाईचारा और एकता हमेशा बरकरार रहे उक्त बातें एसडीएम मधुवंत राव धुर्वे ने कहीं और बताया कि ग्रीष्म ऋतु को देखते हुए हमें पानी बचाने की जरूरत है। होली पर्व में सादगी और उमंग के साथ सूखी होली खेल कर पानी को बचाया जा सकता है।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.