इंदौर: दो दिन तक जलती रही केमिकल फैक्टरी, दो लग्जरी गाड़ियां खाक

Advertisements

NEWS IN HINDI

दो दिन तक जलती रही केमिकल फैक्टरी, दो लग्जरी गाड़ियां खाक

इंदौर। सांवेर रोड स्थित केमिकल फैक्टरी दूसरे दिन भी जलती रही। गुरुवार शाम आग पर काबू पाया जा सका, जिसमें 200 टैंक से ज्यादा पानी और 6 हजार लीटर फोम डाला गया। इससे पहले सालभर में 7 फैक्टरी में आग लग चुकी है। सभी की जांच में पाया गया कि लंबा रूट होने से फायर ब्रिगेड जल्दी नहीं पहुंच पाती है व छोटी-सी घटना विकराल रूप ले लेती है।

खास बात यह है कि सांवेर रोड पर फायर स्टेशन तो बन गया है, लेकिन नगर निगम का दखल होने से दमकल वाहन और स्टाफ अभी तक नहीं मिल पाया। बुधवार को जसपाल सिंह अरोरा की केमिकल फैक्टरी में आग लगी थी। सामने वाली फैक्टरी भी चपेट में आ गई थी। रात करीब 2 बजे तक काफी हद तक आग पर काबू पा लिया था, लेकिन रह-रहकर भभकती रही। गुरुवार सुबह दोबारा फैक्टरी के जमीदोज हुए शेड और दीवारों के नीचे से आग की लपटें निकलने लगी। फायरकर्मियों ने दोबारा पानी डालना शुरू किया। शाम तक आग बुझाने की कवायद चलती रही। दो गाड़ियां और 15 फायरकर्मी दिनभर मौजूद रहे। 26 घंटे की मशक्कत के साथ दो सौ टैंक पानी डालने पर आग शाम तक ठंडी पड़ी।

भंगार हो गई लाखों की कारें
देर रात आग से फैक्टरी का शेड पिघलकर धराशायी हो गया था। उसे उठाने के लिए देर रात कटर मशीन और पोकलेन बुलवाई गई। शेड हटा तो उसके अंदर रखी अरोरा की दो लग्जरी कार (बीएमडब्ल्यू और पॉर्श मक्कन) जिनकी कीमत 80 से 90 लाख रुपए हैं भंगार नजर आई।

स्टेशन बनकर तैयार, स्टाफ और गाड़ियों की है कमी
तत्कालीन फायर एसपी राजेश सहाय का कहना है कि सरकार से जमीन लेकर फायर स्टेशन बनवाया था। फायर विभाग नगर निगम के हाथों में चला गया है इसलिए निगम के अधिकारी ही गाड़ियों की खरीददारी व स्टाफ की भर्ती कर इसे शुरू कर सकते हैं।

लकड़ी पीठे में लगी भीषण आग
चंदननगर में बुधवार रात करीब सवा दो बजे मो. उस्मान के लकड़ी पीठे में आग लग गई। लकड़ियां और भारी मात्रा में बुरादा होने से आग ने कुछ ही देर में विकराल रूप ले लिया। फायर ब्रिगेड की टीम ने 9 टैंक पानी डालकर आग पर काबू पाया। आग बुझाने में चार घंटे लगे। दमकलकर्मी गुरुवार सुबह सवा 6 बजे आग बुझाकर लौटे। आग से लकड़ी, फर्नीचर सहित अन्य सामान जल गया।

 

 

NEWS IN ENGLISH

Chemical factory burning for two days, two luxury carts

Indore The chemical factory located at Sewer Road was also burning on the second day. On Thursday evening fire could be controlled, more than 200 tank water and 6 thousand liters of foam was inserted. Before this, there has been a fire in 7 factories in a year. It was found in all the investigations that having a long route, the fire brigade could not be reached quickly and the small incident took a futuristic look.

The special thing is that a fire station has been built on Sawer Road, but firefighters and staff could not get the help of the municipal intervention. On Wednesday, a chemical factory of Jaspal Singh Arora was on fire. The front factory was also vulnerable. At around 2 o’clock in the night, the fire was able to control the fire, but remained frantic. On Thursday morning, again the factory’s shaded sheds and flames started flowing beneath the walls. Firemen started pouring water again. By the evening the fire extinguishing exercise continued. Two cars and 15 firemen remained present throughout the day. After pouring two hundred tank water with 26 hours of junk, the fire got cold till evening.

Millions of cars scratched
The factory’s shade was melted by the night after the fire was melted. Late night cutter machine and pokleen were called for lifting it. When the shade was removed, the two luxury cars (BMW and Porsche Mccann) in Aurora, worth Rs 80 to 90 lakh, were found in the scratches.

Station is ready, staff and lack of trains
The then Fire SP Rajesh Sahay said that the Fire Station was constructed with land from the government. The fire department has gone in the hands of the municipal corporation, so the officials of the corporation can start it by recruiting trains and recruiting the staff.

Wood fire
Wednesday night at Chandan Nagar at around 2 pm There was a fire in Usman’s wooden peak. Fire and heavy quantities of filings have taken the form of a fire in a while. The fire brigade team managed to control the fire by adding 9 tank water. It took four hours to extinguish the fire. The firefighters returned after fireing at 6:30 in the morning. Fire burnt wood, furniture and other belongings

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.