सीएमपीएफ 727 करोड़ माफ करने के निर्णय को करेगा रद्ध  

Advertisements

सीएमपीएफ 727 करोड़ माफ करने के निर्णय को करेगा रद्ध  


सारनी। भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ के अध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह एवं महामंत्री ओमकार शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि अखिल भारतीय खदान मजदूर संघ (महासंघ) के निर्णयानुसार दिनांक 24.03.2022 को सीएमपीएफ कार्यालय, धनबाद एवं पूरे कोल इंडिया में क्षेत्रीय आयुक्त कार्यालयों पर भारतीय मजदूर संघ द्वारा एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन कर दिवान हाऊसिंग फाईनेन्स कार्पोरेशन में कोयला कामगारों खून पसीने की कमाई सी.एम.पी.एफ. निवेश घोटाले के विरोध में एवं 727 करोड़ रूपये की राशि वापस लाने की मांग को लेकर माननीय कोयला मंत्री भारत सरकार के नाम से ज्ञापन सौंपा गया था, जिसका तत्कालिक असर देखने को मिल रहा है। सीएमपीएफ के प्रभारी आयुक्त ने सीएमपीएफ के 727 करोड़ माफ करने के निर्णय को रद्ध करने का आश्वासन दिया है। यह भारतीय मजदूर संघ की मजदूर हित में बड़ी जीत है।

इसी कड़ी में सीएमपीएफ कार्यालय छिन्दवाड़ा के समक्ष भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ, पेंच-कन्हान एवं पाथाखेड़ा क्षेत्र द्वारा 24 मार्च को संयुक्त रूप से धरना-प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा था। इसके पूर्व पाथाखेड़ा क्षेत्र की सभी खदानों पर 21 से 24 मार्च 2022 तक संघ द्वारा गेट मिटींग कर जन-जागरण किया था। पाथाखेड़ा क्षेत्र से धरना-प्रदर्शन में प्रमोद कुमार सिंह, बिजेन्द्र सिंह, शेषराव बिजवे, एस. के. लाल, ललित सिन्हा, ओमकार शुक्ला, संजय सिंह, राकेश सिंह, नरेन्द्र मिश्रा, सत्यम गिरि, मोन्टी मालवी, अशोक मालवीय, महेन्द्र सिंह ठाकुर, प्रकाशराव, विजय मिश्रा, के के राय, जयप्रकाश निगम, दिनेश मोहबे, नरेन्द्र सिंह सहित सैकड़ों कार्यकर्ता सम्मिलित हुए थे।

दोनों पदाधिकारियों ने बताया कि भारतीय मजदूर संघ हमेशा ही कामगारों एवं कर्मचारियों के हितों की रक्षा के लिए लड़ाई लड़ते रहेगा एवं उनके हितों की रक्षा करेगा आपने सभी कामगार एवं कर्मचारियों का इस लड़ाई में सहयोग देने के लिए आभार व्यक्त करते हुए भविष्य में भी इसी प्रकार का भारतीय मजदूर संघ को सहयोग प्रदान करने की अपेक्षा व्यक्त की।

Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.