कलेक्टर ने ली समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक, जिला अस्पताल के लिए नई सेंट्रीफ्यूज मशीन क्रय करने के दिए निर्देश

Advertisements

कलेक्टर ने ली समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक, जिला अस्पताल के लिए नई सेंट्रीफ्यूज मशीन क्रय करने के दिए निर्देश


छिंदवाड़ा। कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने निर्देश दिए हैं कि एनआरएलएम की टीम स्व-सहायता समूहों द्वारा यूनिफॉर्म सिलाई का कार्य व शालाओं में प्रदाय का एक सप्ताह के अंदर सत्यापन का कार्य पूर्ण कराएं और जिला परियोजना समन्वयक स्व-सहायता समूहों को राशि का यथाशीघ्र भुगतान कराना सुनिश्चित करें। महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र इमलीखेड़ा के पास कंपनी को दी गई जमीन का समुचित उपयोग नहीं होने के संबंध में नोटिस जारी कराने की कार्यवाही करें। कलेक्टर सुमन सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे । उन्होंने जिलेवासियों की सुविधा और आवश्यकता को देखते हुए जिला अस्पताल के लिए एक नई एडवांस्ड सेंट्रीफ्यूज मशीन क्रय करने के निर्देश सिविल सर्जन को दिए । बैठक में कलेक्टर सुमन द्वारा सीएम हेल्पलाइन, समाधान ऑनलाइन, जनप्रतिनिधियों, विभिन्न आयोगों व वरिष्ठ कार्यालयों से प्राप्त पत्रों पर कार्यवाही, सी.एम.मॉनिट में लंबित शिकायतों के निराकरण, आयुष्मान कार्ड निर्माण में प्रगति, फेल्ड ट्रांजेक्शन आदि की भी विस्तारपूर्वक समीक्षा की गई और आवश्यक निर्देश दिए गए।

कलेक्टर सुमन ने संबल योजना के अंतर्गत अंत्येष्टि सहायता का लाभ आवेदन निर्धारित अवधि के बाद प्राप्त होने के कारण नहीं मिलने के प्रकरणों में संबंधित सीईओ जनपद और सीएमओ पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने निर्देश दिए कि अधिकारी प्रोएक्टिव होकर काम करें। आवेदन प्राप्त करना आपकी नैतिक जिम्मेदारी है। जरूरतमंदों को समय पर आवेदन करने के बारे में समय पर बताएं और इसमें पूरी मदद व मार्गदर्शन करें। इस तरह की लापरवाही पर संबंधित सभी शासकीय सेवकों की जिम्मेदारी तय की जायेगी। कलेक्टर सुमन ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार अंकुर कार्यक्रम के अंतर्गत 1 से 5 मार्च तक जिले में पौधारोपण महाअभियान चलाया जायेगा। अधिक से अधिक जन भागीदारी सुनिश्चित करते हुए कम से कम 10 हजार पौधे लगाने का प्रयास करें। समुचित कार्ययोजना बनाकर समाज के सभी वर्गों की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए इस अभियान को सफल बनाएं। पौधे उन स्थानों पर लगाए जाएं जहां उनकी नियमित देखभाल होती रहे।

उप संचालक उद्यानिकी ने बताया कि इस महाभियान के लिए पौधे वन विभाग अथवा उद्यानिकी विभाग की नर्सरियों से प्राप्त किए जा सकते हैं। कलेक्टर श्री सुमन ने बताया कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक श्रमिकों को लाभान्वित किया जाना है। इसके लिए योजना के बारे में श्रमिकों को जागरूक करें। उनकी सहमति लेकर ही उन्हें योजना से जोड़ा जाए। उन्होंने सभी सीईओ जनपद पंचायत और सीएमओ को संबल योजना के अंतर्गत स्वीकृत सभी प्रकरणों का पुनः भौतिक सत्यापन कर पोर्टल पर पात्रता या अपात्रता अद्यतन करने की कार्यवाही एक सप्ताह के अंदर अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर सुमन ने सीएमएचओ को निर्देश दिए कि मोहखेड़ अस्पताल नहीं खुलने के संबंध में शिकायत प्राप्त हुई है, यह सुनिश्चित कराएं कि अस्पताल नियमित रूप से खुले। क्षेत्र के मरीजों को परेशान नहीं होना पड़े। उन्होंने तहसीलदार परासिया को पटवारी स्व. ईश्वरी प्रसाद के स्वत्वों के भुगतान के लिए अपेक्षित कार्यवाही शीघ्र पूर्ण करने, जिला शिक्षा अधिकारी को सीएम राइज योजना के अंतर्गत चयनित विद्यालयों की भूमि का अतिक्रमण हटने के उपरांत नपवाकर अधिपत्य में लेने, जिला कोषालय अधिकारी को व्याख्याता एस.एस.बघेल की सर्विस मैटर की जांच करने, एमपीआरडीसी के अधिकारी को परासिया रोड निर्माण कार्य की गुणवत्ता सुधारने के निर्देश देने के साथ ही समय सीमा के अन्य प्रकरणों की भी विस्तृत समीक्षा की।

इस दौरान सीईओ जिला पंचायत हरेंद्र नारायण, एडीएम ओ.पी.सनोडिया, एसडीएम छिंदवाडा अतुल सिंह, एसडीएम अमरवाडा अभिषेक सराफ, जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी एस.के.गुप्ता, नगर निगम आयुक्त हिमांशु सिंह, उप संचालक कृषि जितेंद्र सिंह, सीएमएचओ डॉ.जी.सी.चौरसिया व सिविल सर्जन डॉ.शिखर सुराना सहित अन्य जिला अधिकारी कलेक्ट्रेट सभाकक्ष से, जबकि शेष जिला अधिकारी व खंड स्तरीय अधिकारी वीसी के माध्यम से बैठक में शामिल हुए।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

One Thought to “कलेक्टर ने ली समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक, जिला अस्पताल के लिए नई सेंट्रीफ्यूज मशीन क्रय करने के दिए निर्देश

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.