लोकतंत्र की हत्यारी सरकार को जनता सबक सिखाएगी : सुनील उईके

Advertisements

लोकतंत्र की हत्यारी सरकार को जनता सबक सिखाएगी : सुनील उईके

काँग्रेस ने तिरंगा यात्रा निकालकर मनाया लोकतंत्र सम्मान दिवस


जुन्नारदेव, (दुर्गेश डेहरिया)। जब भारतीय जनता पार्टी तमाम नैतिक मूल्यों और लोकतांत्रिक आदर्शों को कुचलकर सत्ता हथियाने की कोशिशों में लिप्त थी ।तब हमारे आदर्श और नेता ने नैतिकता और लोकतंत्र के उच्चतम मापदण्डो को अपनाते हुए बीते वर्ष आज ही के दिन मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था ।

कांग्रेस के लिए यह दिन इसलिए भी खास है क्योंकि हमारे आदर्श तत्कालीन सीएम कमलनाथ ने जोड़तोड़ की सौदेबाजी और अनैतिक दलबदल करतूतों से खुद को दूर रखते हुए भारतीय संविधान और लोकतंत्र को जो सम्मान दिया उससे प्रदेशवासी खुद को हमेशा गौरवान्वित ही महसूस करेंगे और आनेवाले वक्त में लोकतंत्र की हत्यारी भारतीय जनता पार्टी को सबक भी सिखाएंगे । यह बात जुन्नारदेव विधायक सुनील उइके ने कांग्रेस तिरंगा यात्रा के दौरान अपने संबोधन में कही ।आयोजन प्रदेश कांग्रेस के निर्देश पर प्रत्येक विकासखण्ड मुख्यालय पर किया गया था ।जुन्नारदेव में आयोजित तिरंगा यात्रा को ब्लाक अध्यक्ष घनश्याम तिवारी और पर्यवेक्षक राजीव तिवारी ने भी सम्बोधित किया । दोनों वक्ताओं ने कहा 15 वर्षो बाद प्रदेश की जनता ने बदलाव करते हुए कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस को प्रदेश की कमान सौंपी थी।

उस समय काग्रेस सरकार के किसानों की ऋण माफी, गौशाला निर्माण, सस्ती बिजली,माफिया से मुक्ति ,सामान्य को भी आरक्षण, तथा पेंशन, विवाह अनुदान राशि, डीए तथा ओबीसी आरक्षण में बढ़ोत्तरी ,मेट्रो रेल परियोजना और रोजगार में प्रदेश के युवाओं के लिए 70 फीसद आरक्षण जैसे जन हितैषी फैसलों से सरकार ने प्रदेश की जनता को पहली बार विकास की वास्तविकता से परिचित कराया था। कमलनाथ सरकार के फैसलों ने बीते 15 वर्षो के झूठे और भ्रम से भरे शासन की पोल खोल कर रख दी थी। तभी विपक्षी भाजपा को समझ मे आ गया था कि कांग्रेस ने 5 वर्षीय कार्यकाल पूरा कर लिया तो भाजपा की सत्ता में वापसी की सारी संभावनाएं खत्म हो जाएगी और इसीलिए तिलमिलाई भाजपा ने लोकतंत्र का गला घोंटकर संविधान विरोधी कृत्य कर डाला।

काँग्रेस की तिरंगा यात्रा विधायक सुनील उईके एवं पर्यवेक्षक राजीव तिवारी के नेतृत्व में ब्लॉक काँग्रेस कार्यालय जुन्नारदेव से प्रारंभ हुई। यात्रा में सर्वप्रथम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। यात्रा राम मंदिर, रेल्वे स्टेशन, शिव मंदिर, राज टाकीज, सिनेमा रोड, पुरानी सब्जी मंडी, पुलिस थाना, पुराने बस स्टैंड होते हुए अम्बेडकर तिराहा पहुँची। वहाँ पर विधायक श्री उईके ने संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वहीँ कांग्रेसजनों ने संविधान की प्रस्तावना को सामूहिक रूप से पढ़कर लोकतंत्र की रक्षा का संकल्प लेकर 20 मार्च को लोकतंत्र सम्मान दिवस के रूप में मनाया। पूरी यात्रा के दौरान वरिष्ठजन एवं युवाओं ने लोकतंत्र को बचाने एवं संविधान की रक्षा करने गगन भेदी नारे भी लगाए।

कार्यक्रम में विधायक सुनील उईके, पर्यवेक्षक राजीव तिवारी, ब्लॉक काँग्रेस अध्यक्ष घनश्याम तिवारी, नपाध्यक्ष पुष्पा साहू, जिला महिला कार्यकारी अध्यक्ष पुष्पलता राठौर, नगर अध्यक्ष सुधीर लदरे, रमेश साहू, रमेश राय, आलोक मुखर्जी, बी एल तागड़ी, एल डी राठौर, अरुण साहू, राजुद्दीन सिद्दीकी, हेमराज पवार, निसार गुल खान, उपेंद्र शर्मा, घनश्याम बरखाने, अंकित राय, यशदीप साहू, सनिया कहार, सलमा बेगम, दिलीप साहू, शिवाजी यादव, अंसार खान, अभिषेक विश्वकर्मा, दिलीप साहू, गामा जैन, श्याम यदुवंशी, राधेश्याम अग्रवाल, शिवराम चौरे, विक्रांत विश्वकर्मा, इंद्रजीत धन्डोरे, उमेश बत्रा, रामगति यादव, अविनाश पाठक, रमेश आम्रवंशी, कृष्णा नागवंशी, पिंटू यदुवंशी, रघुनन्दन यदुवंशी, राजा यदुवंशी,प्रिंस सेंगर, विजय खड़से, अजय खड़से, राहुल ठाकुर, शाहरुख खान, संतोष जंघेला, अजय साहू, प्रवीण सिंह, चन्द्र विजय धुर्वे, स्वामीनाथ साहनी, विनोद नागवंशी, दिलीप सरयाम, राजेश आमरे, गोपाल धुर्वे, सतीश कुमरे, पवन धुर्वे, नारायण आम्रवंशी सहित बड़ी संख्या में काँग्रेसजन उपस्थित थे।

Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.