मेघालय: कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, राज्यपाल को सौंपा लेटर

Advertisements

NEWS IN HINDI

मेघालय: कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, राज्यपाल को सौंपा लेटर

शिलांग। मेघालय में सबसे बड़ी पार्टी बनने के बावजूद कांग्रेस बहुमत हासिल नहीं कर पाई. कांग्रेस को यहां सबसे ज्यादा 21 सीटों पर जीत मिली है. गोवा और मणिपुर जैसा हाल मेघालय में न हो, इसके लिए कांग्रेस का हाईकमान एक्टिव हो गया है. यही वजह है कि देर रात मेघालय कांग्रेस के अध्यक्ष विंसेंट पाला और कांग्रेस के महासचिव सीपी जोशी ने राज्यपाल गंगा प्रसाद से मुलाकात की. साथ ही कांग्रेस की तरफ से सरकार बनाने की दावेदारी वाला लेटर भी सौंपा.

लेटर में लिखा गया है कि कांग्रेस पार्टी राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर बनकर उभरी है. संवैधानिक नियमों के अनुसार कांग्रेस को जल्द से जल्द सरकार बनाने के लिए निमंत्रण दिया जाना चाहिए. विधानसभा में तय दिन और समय के अनुसार पार्टी बहुमत सिद्ध कर देगी. वहीं एक तरफ जहां जोशी और पाला ने राज्यपाल से मुलाकात की तो कांग्रेस की तरफ से सरकार बनाने के लिए मेघालय भेजे गए दिग्गज नेता अहमद पटेल, कमल नाथ और मुकुल वासनिक दूसरी पार्टियों से समर्थन लेने के लिए प्रतिनिधियों से बातचीत की.

इसी पर दिग्गज नेता कमल नाथ ने कहा कि हमने राज्यपाल को लेटर सौंप दिया है, जिसमें कांग्रेस पार्टी को सरकार बनाने के लिए निमंत्रण देने की मांग की गई है. साथ ही बताया गया है कि चुनाव में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई है. साथ ही हम दूसरी पार्टियों के साथ भी बातचीत कर रहे हैं. कमल नाथ के अनुसार कांग्रेस राज्य में सरकार बनाने को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त है.

कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी
मेघालय की 60 सीटों वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस बहुमत के आंकड़े से कुछ पीछे रह गई है. उसे 21 सीटों पर जीत मिली है, जबकि बहुमत के लिए उसे 31 सीटों पर जीत चाहिए थी. वहीं नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) को 19 सीटों पर जीत हासिल हुई है. एनपीपी ने बीजेपी से अलग चुनाव लड़ा था लेकिन बहुमत से पिछड़ने पर वो बीजेपी से गठबंधन कर कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर सकती है. वैसे भी नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) में एनपीपी बीजेपी की सहयोगी है और बीजेपी नेता भी उससे गठबंधन को तैयार दिख रहे हैं. बीजेपी को भी राज्य में दो सीटें मिली हैं.

बैठकों का दौर शुरू
बीजेपी से पहले ही कांग्रेस नेतृत्व ने वरिष्ठ नेता कमलनाथ और अहमद पटेल को शिलांग भेज दिया है. शिलांग पहुंचते ही अहमद पटेल ने कहा कि हम यहां सरकार बनाने आए हैं. इस क्रम में मेघालय कांग्रेस के नेताओं के साथ केंद्रीय नेतृत्व शिलांग में बैठक कर रहा है. नतीजों से साफ है कि कांग्रेस अगर कुछ निर्दलीय या छोटे दलों के विधायकों को अपने साथ लाने में सफल होती है तो वह राज्य में अपनी सत्ता बचा सकती है. ऐसे में जो भी पहले निर्दलीय या छोटे दलों को अपने खेमे में ले लेगा, वही मेघालय में सरकार बना पाएगा.

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Meghalaya: Congress presented the claim of forming a government, letter assigned to the governor

Shillong Congress, despite being the largest party in Meghalaya, could not win the majority. Congress has won the maximum number of 21 seats here. The hikmanship of the Congress has become active for the same reasons as Goa and Manipur are not in Meghalaya. This is the reason why late night Meghalaya Congress President Vincent Pala and Congress General Secretary CP Joshi met Governor Ganga Prasad. At the same time, the Congress has given the claimant’s letter to form the government.

The letter states that the Congress party has emerged as the largest party in the state assembly elections. According to constitutional rules, Congress should be invited to form the government at the earliest. According to the day and time fixed in the assembly, the party will prove majority. On the one hand, where Joshi and Pala met the Governor, the veteran leader Ahmed Patel, Kamal Nath and Mukul Wasnik, who were sent to Meghalaya to form a government from the Congress, spoke to the delegates to seek support from other parties.

On this, veteran leader Kamal Nath said that we have handed over the letter to the governor, in which Congress party has been invited to invite the government to form the government. It has been said that Congress has come to be the largest party in the elections. At the same time, we are also interacting with other parties. According to Kamal Nath, Congress is fully confident about forming a government in the state.

Congress biggest party
In Meghalaya’s 60-seat Assembly elections, the Congress has remained behind the majority figure. He has won 21 seats, while for the majority it should win 31 seats. The National People’s Party (NPP) has won 19 seats. The NPP had fought a different election than the BJP, but if it is behind the majority, they can combine with the BJP and make the Congress out of power. Anyway, in the North East Democratic Alliance (NEDA), NPP is a BJP ally, and BJP leaders are also looking forward to the coalition. BJP has also got two seats in the state.

Start of meetings
Even before the BJP, Congress leadership has sent senior leaders Kamal Nath and Ahmed Patel to Shillong. On reaching Shillong, Ahmed Patel said that we have come here to form the government here. In this order, the central leadership is meeting with leaders of Meghalaya Congress in Shillong. It is clear from the results that if the Congress succeeds in bringing some independents or small party MLAs with them, then they can save their power in the state. In this case, whichever first non-partisan or minor parties will be taken into their camp, they will be able to form government in Meghalaya.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.