एमपीईबी आफिस पर प्रदर्शन कर मांगा 10 लाख मुआवजा एवं नौकरी

Advertisements

एमपीईबी आफिस पर प्रदर्शन कर मांगा 10 लाख मुआवजा एवं नौकरी


छिन्दवाड़ा, (दुर्गेश डेहरिया)। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, युवा सांसद नकुलनाथ के निर्देश पर एमपीईबी के मृत आउटसोर्सकर्मी संतोष ताराम के परिजनों से मिलने उनके गांव गुटेरा पहुंचे कामगार कांग्रेस के जिला अध्यक्ष वासुदेव शर्मा, उनके साथ आउटसोर्स कर्मियों के नेता राकेश सांवले, कन्हैया राजपूत, कामगार कांग्रेस के ब्लाक अध्यक्ष बबलू डेहरिया सहित बडी संख्या में कर्मचारी उपस्थित रहे।

वासुदेव शर्मा ने विधायक कमलेश शाह को मृत आउटसोर्स कर्मी संतोष ताराम की मौत की जानकारी दी और उनसे परिजनों को आर्थिक सहयोग करने का आग्रह किया, जिस पर विधायक ने मृत कर्मचारी के साथ न्याय कराने एवं जल्द ही आर्थिक सहयोग करने की बात कही। मृतक की मां, पत्नी, बच्चों, भाई एवं परिजनों से मिलकर सांत्वना दी और कहा कि युवा सांसद नकुलनाथ ने एमपीईबी के अधिकारियों को निर्देश दिए है। कि मृत आउटसोर्सकर्मी संतोष के परिजनों को आर्थिक सहायता एवं नौकरी देकर उनके साथ न्याय किया जाएं। मृतक के परिजनों ने घटना की पूरी जानकारी दी और कहा कि विभाग की लापरवाही के कारण उनकी जान गई है।

ग्राम गुटेरा के सैकडों ग्रामीण कामगार कांग्रेस के अध्यक्ष वासुदेव शर्मा के साथ अमरवाडा पहुंचकर एमपीईबी कार्यालय पर प्रदर्शन किया और डीई योगेश उईके, जेई राव से संतोष की मौत के बारे में बात करते हुए मांग की कि उक्त मामले की जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई की जाए साथ ही मृत संतोष के परिवार को 10 लाख मुआवजा एवं परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। डीई योगेश उईके ने ग्रामीणों को भरोसा दिया कि मैं कल आपके गांव आऊंगा और मुआवजा तथा नौकरी दिलाने की प्रक्रिया जल्दी शुरू कराई जाएगी।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.