सूखा और कर्ज से परेशान किसान ने की खुदकुशी

Advertisements

NEWS IN HINDI

सूखा और कर्ज से परेशान किसान ने की खुदकुशी

ग्वालियर। पानी की कमी से खेत सूखने और फसल खराब होने के साथ सिर पर बेटी की शादी की चिंता से परेशान किसान ने कीटनाशक पीकर जान दे दी। किसान ने रविवार सुबह कीटनाशक पी लिया था। सोमवार सुबह अस्पताल में तड़पते हुए दम तोड़ दिया। घटना घाटीगांव के महारामपुरा गांव की है। मृतक पर साहूकारों और बैंक का लगभग 5 लाख रुपए से अधिक का कर्ज था। पानी की कमी से फसल चौपट होने और कर्जदारों के घर के चक्कर काटने से परेशान किसान के पास दूसरा कोई रास्ता नहीं था। परिजन ने फिलहाल किसी पर सीधा आरोप नहीं लगाया है। लेकिन गांव में सूखे के हालात का जिक्र जरुर कर रहे हैं।

घाटीगांव थाना क्षेत्र से तीन किलोमीटर दूर महारामपुरा गांव निवासी 50 वर्षीय विजय सिंह गुर्जर पुत्र छोटेसिंह गुर्जर किसान थे। गांव में अपनी जमीन के दम पर ही तीन बेटों और एक बेटी की जिम्मेदारी उन पर थी। पिछले कुछ साल से लगातार पानी की कमी से फसल खराब हो रही थी। इस बार उन्होंने बैंक और गांव के कुछ साहूकारों से कर्ज लिया था।

पिछले साल का भी कुछ कर्ज उन पर था। लेकिन इस बार भी मौसम ने साथ नहीं दिया। घाटीगांव के महारामपुरा में पानी की कमी से खेतों में हरियाली वैसी नहीं है जैसे पिछले कुछ सालों में होती थी। पानी नहीं मिलने से विजय के खेत में फसल खराब हो गई। इधर बेटी की शादी सिर पर थी। कर्जदार अलग घर के चक्कर लगा रहे थे।

रविवार को विजय ने एक साथ सारी परेशानियों से जूझते हुए खेत में डालने वाला कीटनाशक पी लिया। कीटनाशक पीते ही उसकी हालत बिगड़ी और परिजन उसे लेकर जेएएच पहुंचे। यहां हालत नाजुक होने पर हॉस्पिटल रोड स्थित कल्याण हॉस्पिटल पहुंचे। यहां कुछ घंटे इलाज के बाद सोमवार सुबह विजय सिंह ने दम तोड़ दिया। घटना की सूचना मिलते ही कोतवाली थाना पुलिस अस्पताल पहुंची। शव को निगरानी में लेकर मर्ग कायम कर लिया है।

लगातार सूख रहे हैं खेत-
मृतक के भतीजे रविन्द्र सिंह गुर्जर ने बताया कि ताऊ पर कितना कर्ज था साफ तो नहीं पता, लेकिन 5 से 6 लाख रुपए का कर्जा था। जो उन्होंने बेटी की शादी और फसल के लिए लिया था। घाटीगांव सर्कल में सूखे जैसे हालात हैं, लेकिन अभी तक प्रशासन ने उसे सूखाग्रस्त घोषित नहीं किया है।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Farmer suicides with drought and debt

Gwalior With the lack of water, due to drying of the fields and worsening the crop, the distressed farmer, worried by the daughter’s marriage, gave birth to pesticide and gave birth. The farmer had consumed pesticide on Sunday morning. On Monday morning, succumbed to suffering in the hospital. The incident is from Maharampura village of Ghatigao. The debtors and the bank had debt of more than Rs. 5 lakhs on the deceased. The farmer had no other way to the crop due to the lack of water and the troubled farmer’s house rotting. The kin have not made any direct allegation at the moment. But there is a need to mention the condition of the drought in the village.

Vijay Singh Gurjar son of 50, resident of village Maharampura village, three km away from Ghatigao police station, was a small village Gurjar farmer. In the village itself, the responsibility of three sons and a daughter was on their own. For the last few years, the crop was getting worse due to lack of water. This time he had taken loan from the bank and some moneylenders in the village.

Last year too there was some loan on them. But this time the weather did not support it. The lack of water in Maharampura of Ghatiagaon is not like greenery in the fields as it was in the last few years. Due to lack of water, the crop was damaged in the field of victory. Here the daughter’s marriage was on the head. The borrowers were turning around different homes.

On Sunday, Vijaya drank all the insect pesticides in the farm struggling with all the problems. At the time of drinking pesticides, her condition worsened and her family reached JAH with her. When the condition was critical, the Kalyan Hospital located on the Hospital Road reached. Vijay Singh died here on Monday morning after treatment for a few hours. Upon receiving the information of the incident Kotwali police station reached the police hospital. The body has been taken into custody by monitoring the dead body.

Continuous drying is farm-
The nephew of the deceased Ravindra Singh Gurjar told that how much debt was there on Tau, but it was not possible to have a loan of 5 to 6 lakh rupees. Which he had taken for the daughter’s marriage and harvest. Droughts are there in Ghatigon circle, but so far the administration has not declared it as drought-prone.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.