आंगनबाड़ी पहुंची राज्‍यपाल आनंदी बेन, किशोरियों से पूछा- सेनेटरी पैड मिलते हैं या नहीं

Advertisements

NEWS IN HINDI

आंगनबाड़ी पहुंची राज्‍यपाल आनंदी बेन, किशोरियों से पूछा- सेनेटरी पैड मिलते हैं या नहीं

भोपाल। स्कूल जाते हो या नहीं? सेनेटरी पैड मिलता है या नहीं? शपथ ग्रहण समारोह के एक घंटे बाद राजभवन से बाहर निकलकर राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने टीटी नगर स्थित आंगनबाड़ी में किशोरियों से किए। आनंदी बेन करीब 40 मिनट आंगनबाड़ी में रहीं। आनंदी बेन के साथ उनकी बेटी अनार पटेल और महिला एवं बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस भी पहुंचीं। यहां उन्होंने बच्चों को फूल, चॉकलेट और फल भेंट किए। आनंदी बेन कुछ देर छह साल तक के बच्चों के साथ रहीं। यहां एक कमरे में उन्होंने सभी बच्चों को एक-एक कर फूल, चॉकलेट और फल दिए। इस दौरान उन्होंने अक्षिका और लावण्या के लाडली लक्ष्मी योजना के प्रमाण-पत्र भी स्वीकृत किए।

किशोरियों का स्कूल फिर शुरू करवाएं
किशोरियों से मुलाकात के दौरान आनंदी बेन ने एक-एक कर कई किशोरियों से बातचीत की। एक किशोरी से उन्होंने पूछा कि सेनेटरी पैड मिलते हैं या नहीं, उनका उपयोग कैसे करते हैं? इस पर अंजली ने समय-समय पर सेनेडरी पैड मिलने की जानकारी दी। एक अन्य किशोरी से जब उन्होंने पूछा कि स्कूल जाती हो? तो किशोरी ने स्कूल छोड़ने की जानकारी दी। इस पर आनंदी बेन ने तत्काल अधिकारियों को किशोरी का पता लिखकर उसे वापस स्कूल भिजवाने के निर्देश दिए।

भोपाल में शौचालय को लेकर काम किया था: अनार
आनंदी बेन पटेल की बेटी अनार पटेल ने मीडिया से बातचीत में बताया कि वे पहले भी भोपाल में काम कर चुकी हैं। अनार पटेल ने कहा कि हमारी संस्था इनवायर्नमेंट सेनिटेशन इंस्टीट्यूट ने भोपाल में शौचालय बनाने पर जोर देने के लिए झुग्गी बस्ती में काम किया है। उस समय काफी दिन तक भोपाल आना हुआ था। गुजरात और मप्र में विकास की तुलना पर उन्होंने कहा कि हम सड़क मार्ग से भोपाल आए। गुजरात और मप्र के विकास में कोई अंतर नजर नहीं आया। दोनों ही राज्यों में काफी काम हुआ है। शपथ से पहले महाकालेश्वर के दर्शन करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हम सोमनाथ की धरती से हैं, इसलिए पहले महाकाल की शरण में गए।

 

NEWS IN English

Governor Ananya Ben reached the Anganwadi, asked the teenager- whether sanitary pads are found or not

Bhopal. Go to school or not? Get sanitary pads or not? An hour after the swearing-in ceremony, Governor Rajnath Singh came out of the Raj Bhavan and administered the oath to the governor Ananya Ben Patel at Teen Nagar, Anganwadi. Joy Ben spent 40 minutes in Anganwadi. Her daughter Anar Patel along with Happy Ben and Women and Child Development Minister Archana Chitnis also reached. Here he presented flowers, chocolates and fruits to the children. Joy Ben lived with children up to six years old. Here in one room he gave flowers, chocolates and fruits to each child one by one. During this time, he also accepted the certificates of Ladli Lakshmi Yojana of Aksika and Lavani.

Get girls school started again
During the meeting with the teenager, Anand Ben talked to a number of teenagers. He asked a teenager whether sanitary pad meets or not, how do they use it? On this, Anjali briefly provided the information about getting the sedan pad. When he asked another teenager to go to school? So the teenager gave information about leaving school. On this, Mr Ben asked the authorities to immediately write the address of the teenager and send him back to the school.

Worked on toilets in Bhopal: Pomegranate
Ananya Patel, daughter of Anil Bin Patel, told the media that she has already worked in Bhopal. Anar Patel said that our organization, Inuvnement Sanitation Institute, has worked in slum colony to emphasize the construction of toilets in Bhopal. At that time Bhopal was coming for a long time. Compared to development in Gujarat and MP, he said that we came to Bhopal via the road. There is no difference in the development of Gujarat and MP. There has been a lot of work in both the states. On the question of Mahakaleshwar’s visit before the oath, he said that we are from Somnath’s land, so we first went to the shelter of Mahakal.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.