घोड़ाडोंगरी : ग्राम पंचायत छत्तरपुर के ग्रामीण रोजगार के आभाव में कर रहे है पलायन

Advertisements

NEWS IN HINDI

घोड़ाडोंगरी : ग्राम पंचायत छत्तरपुर के ग्रामीण रोजगार के आभाव में कर रहे है पलायन

बैतूल/सारनी। जनपद पंचायत घोड़ाडोंगरी के ग्राम पंचायत छत्तरपुर के ग्रामीण रोजगार के आभाव में कर रहे है पलायन। गांव के मनोज वरकडे बताते है की हर महीने यह से रोजगार के लिए पलायान कर रहे है, पंचायत में रोजगार के आभाव में जीवन यापन भी कठिन हो गया है। इस वर्ष कम बारिश व् खेतो के निचे माइंस होने के कारन जल स्तर काफी निचे जा चूका है यही वजह है की पानी के आभाव में खेती की तो बात दूर की है। कई बार रोजगार की तलाश में ग्रामीण जान तक गवा चुके है और लाफ़ता भी हो चुके है। गांव के युवासमाजसेवी सुनिल सरयाम ने कहा की वर्तमान में रोजगार की कमी एक विकराल रूप ले रहा है, कई युवा अपनी जीविका के लिए कई बार चोरी के लिए बाध्य होते है, पर वर्तमान सरकार इसकी ओर कोई संतोषजनक कार्यवाही की और अग्रसर नही हुई है। ग्राम पंचायत में सैकड़ो ग्रामीणों ने रोजगार के लिए आवेदन दिया है पर सरपंच सूंदरलाल कुमरे की लाफरवाहि से वह भी प्रारंभ नही हो पाया है। वही वेस्टर्न कोल् फील्ड लिमिटेड द्वारा गोदनामा पंचायत होने के बाद भी कोई रोजगार उपलब्ध नही करा पाया हैं जिससे ग्रामीण कंपनी द्वारा ठगा सा महसूस कर रहे है।यह के जनप्रतिनिधि स्तब्ध है जिसका ये परिणाम है की ग्रामीण पालयन् हो रहे है जिसका परिणाम उनको आगामी चुनाव में दिया जायेगा। रोजगार उपलब्ध न होने पर ग्रामीण उपसरपंच देवकराम काकोडिया,मोहित, सन्जय, मुन्नालाल, धनराज आदि ने रोष व्यक्त किया है।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Ghoradongri: Gram panchayat is missing out of the absence of Rural Employment of Chhattarpur

Betul / Sarani Gram Panchayat Grood Panchayat of Ghoradongri is passing away in the absence of rural employment of Chhatrapal. Manoj Varak of the village explains that every month it is wandering for employment from this, living in the Panchayat due to lack of employment has become difficult. This year, due to the low rainfall and low mines of the Kheta, the water level has gone down considerably, which is why the lack of water is far from the point of farming. Many times, rural life has been lost in search of employment and lafata has also happened. Yuvaasamajsevi of the village, Sunil Siram said that the present lack of employment is taking a distant form, many youth are forced to steal many times for their livelihood, but the present government has taken any satisfactory action on it and has not been forwarded. Hundreds of villagers have applied for employment in the village panchayat but they have not even started from Sarpanch Sundarlal Kumra Lafarvahi. Even after getting the Godani panchayat by the same Western Koll Field Limited, there is no employment available, so that the villagers are feeling a little cheated by it. This is the people’s representative who is the result of this, that the rural manpower is going on, Will be given in If the employment is not available, the village’s Deputy Chief Devkram Kakodia, Mohit, Sanjay, Munnalal, Dhanraj etc. have expressed their anger.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.