उज्‍जैन में महाकाल के आंगन में बिखरे होली के रंग

Advertisements

NEWS IN HINDI

उज्‍जैन में महाकाल के आंगन में बिखरे होली के रंग

उज्जैन। राजाधिराज महाकाल के आंगन में होली की शाम फागुन के रंग बरसे। संध्या आरती में पुजारियों ने भगवान को वासंती पुष्प तथा गुलाल अर्पित किया। देश-विदेश से आए भक्त राजा के रंग में नजर आए। इससे पूर्व गोधुलि वेला में मंदिर परिसर में पुजारी परिवार की महिलाओं ने होलिका का पूजन किया। पश्चात होलिका दहन किया गया। महाकाल की होली के दर्शन के लिए हजारों भक्त उमड़े। धुलेंडी पर शुक्रवार को सबसे पहले भस्मारती में महाकाल में रंग पर्व मनाया जाएगा। पुजारी और भक्त भगवान के साथ गुलाल होली खेलेंगे। इसके बाद नगर में उत्सव मनाया जाएगा। महाकाल के साथ नगर में करीब 150 से अधिक स्थानों पर होली उत्सव मनाया गया।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Holi colors scattered in the courtyard of Mahakala in Ujjain

Ujjain; In the courtyard of Rajadhiraj Mahakal, the color of the fogun dawns on Holi evening. In the evening arti, the priests offered Vasanti flowers and gulas to God. The devotees from India and abroad come in the color of the king. Prior to this, the women of the priestly family worshiped Holika in the temple complex in Godhrai Vela. Post-Holika combustion was done. Thousands of devotees emerged for the Holi festival of Mahakala. On Friday, Dhuleandi will be celebrated for the first time in the Mahakala to celebrate the color festival. The priest and devotee will play Gulal Holi with God. After this the festivities will be celebrated in the city. Holi celebrations were held at more than 150 places in the city with Mahakal.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.