घर घर हो बेटीयो का सम्मान – अनिल यादव

Advertisements

NEWS IN HINDI

घर घर हो बेटीयो का सम्मान – अनिल यादव
गजेंद्र सोनी 
बैतूल। मंगलवार को कृष्णपुरा वार्ड टिकारी निवासी पिता मोहर सिह पँवार माता रेखा पँवार की बेटी नुपूर और भगतसिंह वार्ड निवासी पिता बलवतं सिंह कौर की बेटी जशलिन कौर की नेम प्लेट भेंट की इस अभियान को आगे बढ़ाने मे सहयोग करेगे। डिजिटल इंडिया विद लाडो का अभियान लगातार समाज मे बेटीयो को पहचान और सम्मान दिलाने का कार्य किया जा रहा है कयोकि समाज मे बेटीयो को उचित स्थान और पहचान के लिए अभी भी संघर्ष करना पढ़ रहा ,पहले हमारा देश महिला प्रधान देश कहलाया जाता था। लेकिन आज महिलाएँ और बेटीयो को समाज मे मान सम्मान और पहचान के लिए जुझना पढ रहा है। 
समाज सेवी अनिल यादव की पहल बेटी के नाम से घर की पहचान आज समाज मे बेटीयो को उचित स्थान और पहचान दिलाने मे महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है आज  माता पिता अपने घरों के सामने बेटी के नाम की नेमपलेट लगा रहे है। और दूसरों को प्रेरित भी कर रहे है। बेटीया अपने हाथो से नेमपलेट घर के बहार लगा रही है। हर तरफ समाज सेवी अनिल यादव के अभियान की प्रशंसा हो रही अच्छी बता ये भी है कि शासन और जनप्रतिनिधि भी अभियान की प्रशंसा कर रहे है। यह अभियान 30 वार्डो ,लगभग 20 गाँव 15 जिले और 5 राज्यों तक पहुँचा चुके है धीरे धीरे इस अभियान को भारत मे पहुँचाने का प्रयास किया जा रहा है। सहयोग के रूप मे उपस्थित कौर परिवार और सदस्य चंद्र प्रकाश प्रजापति कमलेश पँवार मौजूद थे।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

House of Honor – Respect for the children – Anil Yadav

Gajendra Soni
Betul Tuesday, Krishanpura ward Tikari resident father Mohar Singh Pandwar, daughter of Nupur Mata Rekha Pawar and Bhagat Singh Ward resident father Balwant Singh Kaur’s daughter Jasilin Kaur will support the expedition. Digital India with Lado’s campaign is being done to give recognition and respect to the children in a continuous society, because in the society, the children were still struggling to find the right place and identity, before our country was called a women’s country. But today women and children are studying to respect and honor in the society.

Social worker Anil Yadav’s initiative is to identify the house in the name of daughter. In today’s society, it is playing an important role in giving a proper place and identity to the children in the society. Today parents are putting namesplate of the daughter named in front of their houses. And also motivating others. Bettyya is handling nameplate house with her hand. It is also good to be praised for the campaign of social worker Anil Yadav on every side, that the government and people’s representatives are also praising the campaign. The campaign has reached 30 wards, about 20 villages in 15 districts and 5 states, efforts are being made to reach this mission gradually in India. In the form of cooperation, Kaur family and member Chandra Prakash Prajapati Kamlesh Pawar was present.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.