लंदन में कश्मीर पर लॉर्ड नजीर के बयान को लेकर भिड़े भारत समर्थक और विरोधी

Advertisements

NEWS IN HINDI

लंदन में कश्मीर पर लॉर्ड नजीर के बयान को लेकर भिड़े भारत समर्थक और विरोधी

लंदन। गणतंत्र दिवस पर जहां भारत में जश्न मानाया जा रहा था वहीं लंदन में भारतीय मूल के लॉर्ड नजीर अहमद के कश्मीर पर दिए बयान से विवाद पैदा हो गया। उनके आजाद कश्मीर के बयान को लेकर भारतीय उच्चायोग के बाहर भारत समर्थक और विरोधी आपस में भिड़ गए। खबरों के अनुसार इस दौरान लॉर्ड नजीर की अगुवाई में भारत विरोध प्रदर्शन भी हुआ जिसका कई भारतीय और ब्रिटिश समुहों ने विरोध किया। गणतंत्र दिवस के दिन पाकिस्तान द्वारा काला दिवस अभियान चलाया गया। मध्य लंदन में स्थित भारतीय उच्चायोग के बाहर भारत विरोध प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी की। नजीर के नेतृत्व में सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने कश्मीर के साथ ही खालिस्तान के लिए आजादी का आह्वान किया।

हालांकि इन प्रदर्शनकारियों को भारत के समर्थकों से कड़ा मुकाबला झेलना पड़ा। थोड़ी ही देर में भारत के समर्थकों और भारत विरोधी प्रदर्शनकारियों की बीच के टकराव ने हिंसा का रूप ले लिया। जिसके बाद पुलिस के हस्तक्षेप से मामले को शांत कराया गया। भारतीय समर्थकों ने लॉर्ड नजीर को निशाने पर लेते हुए कहा कि वह पाकिस्तान के खेल को खुले तौर से खेलकर ब्रिटिश प्रणाली का मजाक उड़ा रहा है। इस बीच लंदन में तैनात भारतीय उच्चायुक्त ने इस प्रदर्शन को ‘एक बदनाम नेता की बेसब्र कोशिश’ बताया।

नजीर के प्रदर्शन को धता बताने के लिए लंदन में भारतीय नागरिकों के एक समूह ने ‘चलो इंडिया हाउस’ का आह्वान किया था। भारतीय उच्चायोग की इमारत के बाहर दोनों पक्षों के दर्जनों लोगों ने एक-दूसरे पर खूब भड़ास निकाली और जिसके बाद मामला बढ़ता देख स्कॉटलैंड यार्ड के जवानों को बीच-बचाव करना पड़ा।

बता दें कि लॉर्ड नजीर पर काफी विवादास्पद व्यक्ति है, जिस पर कई घोटाले के आरोप हैं। उसे खतरनाक ड्राइविंग के लिए सजा भी मिल चुकी है। इसके अलावा लेबर पार्टी से उनके विरोधी विचारों के कारण निकाल दिया गया था। साथ-साथ कट्टरपंथी इस्लामवादियों की ओर उनकी कथित सहानुभूति भी जगजाहिर है। नजीर को यहूदी विरोधी विवाद के बाद 2013 में लेबर पार्टी से निलंबित कर दिया गया था।

 

NEWS IN English

India’s supporters and opponents of Lord Najir’s statement on Kashmir in London

London. While celebrating in India on Republic Day, there was a controversy over the statement of Lord Najir Ahmed of Indian origin in Kashmir on Kashmir. On the statement of their independent Kashmir, pro-Indian and anti-India activists clashed outside the Indian High Commission. According to the reports, during this time, there was an India protests led by Lord Nazir, many of the Indian and British groups protested. Black Day campaign was launched by Pakistan on Republic Day India protesters outside the Indian High Commission in central London shouted slogans. Hundreds of demonstrators under Nazir’s leadership called for freedom for Khalistan along with Kashmir.

However, these protesters had to face tough competition from the supporters of India. In a short span of time the conflict between India’s supporters and anti-India protesters took the form of violence. After which the matter was calm after the intervention of the police. Indian supporters, taking on the target of Lord Najir, said that he was jokingly playing the Pakistan game openly and making fun of the British system. Meanwhile, the Indian High Commissioner in London called this demonstration “a brave attempt of a bad leader”.

In order to defy Nazir’s performance, a group of Indian citizens in London called ‘Chalo India House’. A dozen people from both sides took out a lot of trouble outside the Indian High Commission building, and after which the Scotland Yard troops had to intervene to see the case rising.

Tell that Lord Najir is a very controversial person, who is accused of several scams. He has also got punishment for dangerous driving. Apart from this, the Labor Party was fired because of their opposing views. Together, their alleged sympathy towards radical Islamists is well known. Nazir was suspended from the Labor Party in 2013 after anti-Zionism controversy.

Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.