इसे सिर्फ तोप समझने की गलती कर बैठे लोग, नीचे छिपी थी कुछ और सच्चाई

Advertisements

NEWS IN HINDI

इसे सिर्फ तोप समझने की गलती कर बैठे लोग, नीचे छिपी थी कुछ और सच्चाई

रूस के व्लादिवोस्तोक शहर से कुछ किलोमीटर दूर कुछ ट्रेवलर्स की नजर एक अजीबोगरीब चीज पर पड़ी। इन्होंने इस चीज को देखकर इसे सिर्फ तोप समझने की गलती कर दी। जब इन लोगों ने तोप को पास जाकर देखने का फैसला किया तो सच जानकर वे हैरान हर गए। आखिर क्या था इसके नीचे…

-तोप को करीब से देखने पर पता चला कि उसके नीचे एक पूरा का पूरा किला था। उन्हें ऐसी ही और तोपें दिखाई दीं जो किले के ऊपर स्थित थीं। किले का आधा हिस्सा जमीन के नीचे था। जब इन लोगों से इसके बारे में छानबीन शुरू की तो पता चला कि ये किला किसी राजा महाराजा का नहीं बल्कि रूसी सेना का था, जिसे 19वीं शताब्दी में जापान के हमलों को नाकाम करने के लिए बनाया गया था।

साथ बने थे और कई किले
– व्लादिवोस्तोक में ये अकेला किला नहीं था। इससे सटे हुए कई दर्जनों किलेनुमा मिलिट्री बेस ट्रेवलर्स ने यहां देखे, जो इस शहर से लेकर पीटर आयलैंड तक फैले थे।

1923 में बंद किया गया था ये मिलिट्री बेस
– रूसी सेना के इस बेस को 1923 में बंद कर दिया गया। इसके बाद 1930 में यहां कुछ और तोपें लगाई गईं थीं, लेकिन इन्हें रूसी सेना ने कभी इस्तेमाल नहीं किया और तब से ये वीरान पड़ा है। जब ट्रेवलर्स ने इसके अंदर देखा तो उनके होश उड़ गए। यहां आज भी जंग के दौरान इस्तेमाल की गई काफी चीजें मौजूद थीं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

It was just the people who made the mistake of understanding the gun, some other truth was hidden.

A few kilometers away from the Vladivostok city of Russia, some travelers caught sight of a strange thing. Seeing this thing, he made the mistake of treating it as a cannon. When these people decided to go and see the cannon, they were surprised to know the truth and they were surprised. After all what was …

-With the chanting of Tope, it was found that under it there was a complete fort. They saw similar guns and were located above the fort. Half of the fort was under the ground. When these people began investigating about it, it was discovered that this fort was not a King of Maharaja but of the Russian army, which was made to circumvent the attacks of Japan in the 19th century.

Were built and many forts
– This was not the only fort in Vladivostok. Several dozen Kilenuma Military Travelers, adjacent to this, see here, which spread from this city to Peter Island.

The Military Base was closed in 1923
– This base of the Russian army was closed in 1923. After this, some more artillery was installed here in 1930, but these were never used by the Russian army and since then it has been deserted. When the travelers looked inside it, their senses were flown. There are still plenty of things used during the war.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.