बिहार: शराब के साथ वाली Viral हुई फोटो को लेकर मंत्री ने दर्ज कराई FIR

Advertisements

NEWS IN HINDI

बिहार: शराब के साथ वाली Viral हुई फोटो को लेकर मंत्री ने दर्ज कराई FIR

पटना। पिछले हफ्ते गुरुवार को बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा की एक तस्वीर बड़ी तेजी से वायरल हुई जिसमें दिख रहा था कि वो एक कमरे में बैठे हैं और उनके सामने टेबल पर शराब की गिलास रखी हुई है. इस तस्वीर में उनके साथ कुछ अन्य लोग भी दिख रहे हैं और टेबल पर ड्राई फ्रूट्स, अंगूर और सेब रखे हुए हैं.

इस तस्वीर के वायरल होने के साथ ही विरोधियों ने कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा पर सवाल खड़े कर दिए और साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बिहार में शराबबंदी लागू करने के बावजूद मंत्री के शराब पीने को लेकर चर्चा होने लगी. हालांकि, यह तस्वीर कब की थी और कहां खींची गई? इस बात को लेकर गुरुवार को ज्यादा कुछ तो स्पष्ट नहीं हुआ था मगर शिक्षा मंत्री से लगातार सवाल पूछे जा रहे थे. लेकिन, इस तस्वीर की सच्चाई को लेकर कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा सामने आए हैं और उन्होंने बताया है कि यह तस्वीर उन्हीं की है और 16 फरवरी की खींची हुई है. वर्मा ने बताया कि इसी दिन वह औरंगाबाद गए थे जहां पर उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर जयंती में शामिल होना था. औरंगाबाद दौरे के दौरान उन्हें स्थानीय नेता संजय सिंह कुशवाहा ने अपने घर पर आमंत्रित किया था और वहां पर उन्हें इत्तेफाक से शराब के रंग के गिलास में पानी पिलाया गया था.

मंत्री ने स्पष्ट किया है कि तस्वीर में टेबल पर रखा गिलास भले ही शराब की तरह दिख रहा हो, लेकिन वह शराब नहीं है, बल्कि शराब के रंग का गिलास है, जिसमें पानी है. कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा ने कहा कि यह तस्वीर वायरल करने के पीछे उनको और बिहार सरकार को बदनाम करने की साजिश है. इसको लेकर शिक्षा मंत्री ने शनिवार को जहानाबाद में प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज करवाई. प्राथमिकी जहानाबाद के टेहटा पुलिस चौकी में दर्ज करवाई गई है. जहानाबाद के पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार ने कहा कि मंत्री की शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी.

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Bihar: Minister filed FIR against Viral Photo with liquor

Patna. On Thursday, a photograph of Bihar Education Minister Krishna Nandan Prasad Verma was viral on Thursday, showing that he was sitting in a room and there was a wine glass on the table in front of him. In this picture some other people are also seen with them and on the table are dried fruits, grapes and apples.

Apart from being viral of this photo, opponents questioned Krishna Nandan Prasad Verma, and even after the Chief Minister Nitish Kumar imposed prohibition in Bihar, the minister started discussing about drinking liquor. However, when did this picture and where was it drawn? More about this was not clear on Thursday, but the education minister was constantly asking questions. However, Krishna Nandan Prasad Verma has come out on the veracity of this picture and he has told that this picture belongs to him and it is drawn on February 16. Verma said that on this day he went to Aurangabad where he was to join former Chief Minister Karpuri Thakur Jayanti. During the Aurangabad tour, he was invited by the local leader Sanjay Singh Kushwaha to his house and there he was served water to the wine-colored glass.

The minister has clarified that the glass on the table in the picture may look like alcohol, but it is not liquor, but the glass of wine is in it, which has water. Krishna Nandan Prasad Verma said that behind this viral picture, there is conspiracy to defame him and Bihar government. On this, Education Minister filed an FIR (FIR) in Jehanabad on Saturday. The FIR has been lodged in Tehaha police post in Jehanabad. Jehanabad Superintendent of Police Manish Kumar said that action will be taken against the minister’s complaint.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.