मप्र : 53 वर्षीय महिला हवलदार चढेगी माउंट एवरेंस्ट 8,848 मीटर ऊंची चोटी

Advertisements

NEWS IN HINDI

मप्र : 53 वर्षीय महिला हवलदार चढेगी माउंट एवरेंस्ट 8,848 मीटर ऊंची चोटी

भोपाल। पुलिस फोर्स के लिए गर्व और खुशी की बात है कि उनके बीच की एक 53 वर्षीय महिला हवलदार माउंट एवरेस्ट की चोटी पर चढ़ने के लिए तैयार है। वह एक माह का अवकाश लेकर नेपाल में लगाए गए बेसकैंप में हिस्सा लेने के भोपाल से रवाना हो गई है। उसका चयन डिस्वकरी चैनल के टेलेंट सर्च के द्वारा किया गया। अगर वह दुनिया की इस सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ने में सफल हो जाती हैं तो वह भोपाल पुलिस की इकलौती महिला पुलिस कर्मी होंगी। बेसकैंप में भी हिस्सा लेने वाली वह भोपाल पहली पुलिस कर्मी बन गई हैं। वही प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के मंगलवारा पुलिस थाने में तैनात हवलदार अलका केतकर 53 साल की है। वह 23 साल की उम्र में ही पुलिस फोर्स में आ गई थी। वह 20 फरवरी से 20 मार्च तक माउंट एवरेस्ट की 8,848 मीटर ऊंची चोटी के तैयार की जा रही टीम में हिस्सा लेने के लिए नेपाल स्थित बेस कैंप में हिस्सा लेने के लिए पहुंच चुकी है। इससे पहले भी ट्रेकिंग कैंपों में हिस्सा लेती आई हैं। इस बेस कैंप के दौरान उनको तीन स्तरों से गुजरा जाएगा। उनको लंबी दूरी की ट्रैकिंग करवाई जाएगी। उसके बाद उनको कम आक्सीजन में ऊंचाई पर रहने के लिए ट्रेंड किया जाएगा। अतिंम और आखरी दौर में 5,364 ऊंची चोटी पर अलग – अलग क्रम में ट्रेनिंग दी जाएगी।

डिस्कवरी चैनल द्वारा हुई थी चुनी गई:-
अलका केतकर को माउंट एवरेस्ट की 8,848 मीटर ऊंची चोटी को छूने का मौका डिस्वकरी चैनल चुना गया है। जिसमें उनको चयन 2016 में ही हो गया था। 2018 में बेस केंप में जाने के लिए दो माह से उनको शासन स्तर पर अनुमती लेनी थी। जिसकी पूरी प्रक्रिया जिला पुलिस बल भोपाल के द्वारा फरवरी माह में कर ली गई है। वह इस समय बेसकैंप में ट्रैनिंग ले रही हैं।

भोपाल पुलिस की पहली महिला
अलका केतकर भोपाल पुलिस की पहली ऐसी महिला पुलिस कर्मचारी है। जो माउंट एवरेस्ट ऊंची चोटी का चढ़ने के लिए प्रक्रिया में भी शामिल हुई है। इससे पहले पुलिस कोई इस प्रकार के एडवेंचर में नहीं पहुंच पाया है। भोपाल पुलिस के अफसरों का ऐसा मानना है कि वह काफी कठोर परिश्रम करने वाली पुलिस कर्मी है और वह इस बेस कैंप में चयन होने के बाद चोटी पर भी चढ़ने में फतह हासिल करेगी।

डिस्कव़री और महिला पुलिस कर्मी उठाएगी खर्चा
महिल हवलदार अलका केतकर ने पुलिस को दिए आवेदन इस बात का भी स्पस्ट उल्लेख किया है। उसकी ट्रैनिंग और माउंट एवरेस्ट में चढ़ने के दौरान जितना खर्चा आएगा। उसका वह खुद वाहन करेगी। जिसमें उसका सहयोग डिस्कवरी चैनल के द्वारा किया जाएगा।

इनका कहना है
मंगलवारा थाने में तैनात हवलदार अलका केतकर को एक माह का अवकाश स्वीकृत किया गया है। वह माउंट एवरेस्ट चोटी के चढ़ने के लिए रवाना हो गई है। वह पिछले कुछ सालों में एक मात्र भोपाल की पुलिस कर्मी है, जो इस प्रकार के एडवेंचर में चयनित हुई है।
राजेश सिंह चंदेल पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) भोपाल

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

MP: 53-year-old woman constable Mount Everest 8,848 meter high peak

Bhopal. It is a matter of pride and happiness for the police force that a 53-year-old woman from amongst them is ready to climb Mount Everest. He has left from Bhopal to take part in a base camp held in Nepal, taking a month off. She was selected by the talent search of discovery channel. If he succeeds in climbing to the highest peak in the world, he will be the only female police personnel of Bhopal Police. Bhopal, who also participates in the base camp, has become the first police personnel. According to the same information, Hav alka Ketkar, posted in the city’s Mangalwara police station, is 53 years old. He came to the police force at the age of 23. He has reached the base camp from Nepal from February 20 to March 20 to take part in the 8,848 meter high peak of Mount Everest. Before this, have also been taking part in the trekking camps. During this base camp they will pass three levels. They will be tracking long distance. After that they will be trended to stay at low oxygen height. Training will be given in different order at the height of 5,364 in the last and final phase.

Discovery was selected by Channel: –
Alka Ketkar has been selected as the Discovery Channel for the opportunity to touch the height of Mount Everest 8,848 meters high. In which they were selected in 2016. In 2018, for two months to go to the base camp, they had to get permission at the government level. Whole procedure has been done by District Police Force Bhopal in February. He is currently training in BaseCamp.

Bhopal police’s first woman
Alka Ketkar is the first woman police employee of Bhopal Police. Mount Everest also involved in the process of climbing a high peak. Earlier, the police could not reach any such adventure. Bhopal Police officials feel that he is a very hard working police worker and he will get a chance to climb to the top even after the selection in this base camp.

Discovery and Women Police personnel will bear the cost
Women havildar Alka Ketkar also mentioned the application given to the police. Its trainings and Mount Everest will cost as much as you spend. She will own her own vehicle In which it will be collaborated through the Discovery Channel.

They say
Hav Alka Ketkar, posted in Mangalwara police station, has been granted one month leave. He has left Mount Everest to climb the peak. He is the only Bhopal police personnel in the last few years, who has been selected in this type of adventure.
Rajesh Singh Chandel Superintendent of Police (Headquarters) Bhopal

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.