पीएनबी स्कैम: एनसीएलटी ने 60 इकाइयों को एसेट्स बेचने से रोका

Advertisements

NEWS IN HINDI

पीएनबी स्कैम: एनसीएलटी ने 60 इकाइयों को एसेट्स बेचने से रोका

नई दिल्ली। पीएनबी धोखाधड़ी मामले की अनेक एजेंसियों द्वारा जारी जांच के बीच नैशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल(एनसीएलटी) ने 60 से अधिक इकाइयों को अपने एसेट्स बेचने से रोक दिया है। जिन इकाइयों को अपने एसेट्स बेचने से रोका गया है उनमें नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, कुछ इंडिविजुअल्स, कंपनियां और लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप फर्म्स शामिल हैं।

कॉर्पोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री द्वारा जारी सार्वजनिक सूचना के अनुसार एनसीएलटी ने नीरव मोदी और मेहुल चौकसी, उनकी फर्मों और रिश्तेदारों सहित अन्य इकाइयों के खिलाफ निर्देश जारी किए हैं। कॉर्पोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री ने इस बारे में कंपनी कानून 2013 की विभिन्न धाराओं के तहत दाखिल अर्जी दाखिल की थी। एनसीएलटी ने उसपर दूसरे पक्षों को सुने बिना ही यह आदेश जारी किया है। पीएनबी में लगभग 12,600 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में नीरव मोदी और मेहुल चौकसी मुख्य आरोपी हैं। जिन कंपनियों और इकाइयों पर रोक लगाई गई है उनमें पंजाब नेशनल बैंक स्कैम से जुड़ी कुछ इकाइयां, गीतांजलि जेम्स, गिल्ली इंडिया, नक्षत्र ब्रैंड और फायरस्टार डायमंड शामिल है।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

PNB scam: NCLT prevented 60 units from selling assets

new Delhi. The National Company Law Tribunal (NCLT) has prevented more than 60 units from selling their assets between investigations conducted by several agencies of the PNB fraud case. The units which have been prohibited from selling their assets include Neerav Modi, Mehul Vigilance, some Individuals, Companies and Limited Liability Partnership Firms.

According to public information issued by the Corporate Affairs Ministry, NCLT has issued instructions against other units, including Neerav Modi and Mehul Vigilance, their firms and relatives. The Corporate Affairs Ministry had filed the application in this regard under various sections of Company Law 2013. The NCLT has issued this order without hearing the other parties. Neerav Modi and Mehul Surakshi are the main accused in a fraud of Rs 12,600 crore in PNB. The companies and units which have been banned include some of the units associated with the Punjab National Bank scam, including Gitanjali James, Gilli India, Nakshatra Brands and Firestars Diamond.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.