न्यूयॉर्क : भारतीय डॉक्टर सिज हेमल ने 35 हजार फीट की ऊंचाई पर उड़ते विमान में कराया प्रसव

Advertisements

NEWS IN HINDI

न्यूयॉर्क : भारतीय डॉक्टर सिज हेमल ने 35 हजार फीट की ऊंचाई पर उड़ते विमान में कराया प्रसव

न्यूयॉर्क। भारतीय डॉक्टर सिज हेमल ने उड़ते विमान में एक महिला के प्रसव में मदद कर बच्चे का सकुशल जन्म कराया। पेरिस से न्यूयॉर्क जा रही ट्रांस अटलांटिक फ्लाइट उस वक्त 35 हजार फीट की ऊंचाई पर थी। हेमल दिल्ली से पेरिस के रास्ते अमेरिका जा रहे थे। वह अमेरिका के क्लीवलैंड स्थित क्लीनिक्स ग्लिकमैन यूरोलॉजिकल एंड किडनी इंस्टीट्यूट के यूरोलॉजी विभाग (किडनी और मूत्र संबंधी) में दूसरे वर्ष के छात्र हैं।

यात्रा के दौरान विमान कर्मी ने घोषणा की, 41 वर्षीय एक गर्भवती को प्रसव पीड़ा शुरू हो गई है। विमान में कोई डॉक्टर उपस्थित हो तो उनकी मदद करें।
यह सुनकर हेमल और बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर स्टीफन आर्टोलान आगे आए। दोनों ने महिला के प्रसव में मदद की। हेमल ने कहा, ‘विमान को उतारना उस वक्त नामुमकिन था इसलिए हमने वहीं प्रसव कराने का फैसला किया।’

बच्चे की गर्भनाल काटने और बांधने के लिए हेमल ने जूते के फीते का इस्तेमाल किया। खुशी जाहिर करते हुए हेमल ने कहा, ‘मैं पहली बार फर्स्ट क्लास में यात्रा कर रहा था। यह बात बताकर मैं अपने माता-पिता को हैरान करना चाहता था। तभी मुझे इस अद्भुत अनुभव से गुजरने का मौका मिला जिसे मैं जिंदगी भर याद रखूंगा।’ एयर फ्रांस ने इस नेक काम में मदद के लिए हेमल को एक मुफ्त यात्रा टिकट और शैंपेन की बोतल भेंट की।

 

NEWS IN English

New York: Indian doctor Syed Hemel delivered 35,000 feet height flying in a flying plane

New York. Indian doctor Syed Hemel helped the child to deliver a woman in a flying plane and got a good child’s birth. The transatlantic flight from Paris to New York was at a height of 35 thousand feet at that time. Hemel was traveling from Delhi to Paris via the US He is a second year student of the Clinical Glimmain Urological and Kidney Institute in Cleveland, the Urology Department (Kidney and Urine).

During the visit the aircraft crew announced, a 41-year-old pregnant woman has started to suffer from labor. If any doctor is present in the plane, help him.
Upon hearing this, Hemel and pediatrician Dr. Stephen Artolan came forward. Both helped in the delivery of women. Heml said, “It was impossible at this time that the plane was unloaded, so we decided to deliver there.”

Heml used shoe lace to bite and bind the child’s umbilical cord. While expressing happiness, Hemal said, ‘I was traveling in the first class for the first time. By telling this, I wanted to surprise my parents. Then I got an opportunity to go through this wonderful experience which I will remember throughout my life. Air France offered a free travel ticket and champagne bottle to Helm for help in this noble work.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.