अब छोटे फोन से करें यूपीआई पेमेंट, बिना इंटरनेट होगा मनी ट्रांसफर, जानिए कैसे

Advertisements

अगर आपके पास इंटरनेट कनेक्शन नहीं है। फिर भी यूपीआई का इस्तेमाल कर पाएंगे। दरअसल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने गैर-स्मार्टफोन यूजर्स के लिए नई सुविधा शुरू की है। इस सर्विस का नाम UPI 123PAY है। इसके जरिए सुरक्षित डिजिटल लेनदेन किया जा सकेगा। आरबीआई के नए फीचर्स से 40 करोड़ से अधिक लोगों को लाभ मिलेगा।

भारतीय रिजर्व बैंक  के गवर्नर शक्तिकांत दास  ने एक नई सेवा शुरू की, जिसके जरिए 40 करोड़ से अधिक फीचर फोन  या सामान्य मोबाइल फोन उपयोगकर्ता सुरक्षित तरीके से डिजिटल भुगतान कर सकेंगे।  जिन लोगों के पास इंटरनेट कनेक्शन नहीं है, वे ‘यूपीआई 123पे’ नाम से शुरू की गई इस सेवा के जरिए डिजिटल भुगतान कर सकते हैं और यह सेवा साधारण फोन पर काम करेगी। दास ने कहा कि अब तक यूपीआई की सेवाएं मुख्य रूप से स्मार्टफोन पर ही उपलब्ध हैं, जिसके चलते समाज के निचले तबके के लोग इनका इस्तेमाल नहीं कर पाते हैं।उन्होंने कहा कि खासतौर से ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसा है।

उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2021-22 में अब तक यूपीआई लेनदेन 76 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच गया है, जबकि पिछले वित्त वर्ष में यह आंकड़ा 41 लाख करोड़ रुपये था |  उन्होंने कहा कि वह दिन दूर नहीं है, जब कुल लेनदेन का आंकड़ा 100 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगा |

फीचर फोन यूजर्स अब कई तरह के लेन-देन कर सकेंगे। जैसे दोस्तों और परिवार को मनी ट्रांसफर, बिलों का भुगतान, फास्ट टैग रिचार्ज और बैंक अकाउंट की राशि जांच करना। इन सभी सर्विस को चार विकल्पों के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है –

1. एक आईवीआर (इंटरैक्टिव वॉयस रिस्पांस) सिस्टम, जिसे यूजर्स लेनदेन करने के लिए कॉल कर सकते हैं।

2.फीचर फोन में एप के द्वारा।

3. मिस्ड कॉल करके।

4. प्राक्सिमिटी साउंड बेस्ड पेमेंट।

डिजिटल भुगतान के लिए हेल्पलाइन शुरू

आईबीआई ने डिजिटल भुगतान के लिए हेल्पलाइन भी शुरू है। जिसे भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम द्वारा स्थापित किया गया है। इस हेल्पलाइन का नाम डिजीसाथी है। उपयोकर्ता अपनी शिकायत के लिए www.digisaathi.info या 14431 और 1800 891 3333 पर कॉल कर सकते हैं।

Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.