परेड अनुशासन की जड़ है – एसपी बैतूल

Advertisements

परेड अनुशासन की जड़ है – एसपी बैतूल


बैतूल। पुलिस अधीक्षक बैतूल द्वारा रक्षित केंद्र में वार्षिक निरीक्षण एवं सैनिक सम्मेलन का आयोजन किया गया विदित हो पुलिस विभाग में शासकीय आवासी/कार्यालयीन बिल्डिंग परिसर आदि की साफ-सफाई एवं रिकार्डों को दुरुस्त करवाने हेतु वरिष्ठ अधिकारियों का निरीक्षण समय-समय पर किया जाता है। जिसमें परेड,  सैनिक सम्मेलन एवं विभिन्न दस्तावेज, रखरखाव की जांच की जाती हैं एवं उत्तम पाए जाने पर परितोष भी प्रदान किया जाता है पुलिस अधीक्षक द्वारा मंगलवार को परेड का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के सभी एसडीओपी, डीएसपी निरीक्षक एवं थाना प्रभारी और उनका स्टाफ 218 उपस्थित रहा। परेड निरीक्षण के दौरान उत्तम वेशभूषा के लिए पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रशंसा प्रदान किया एवं परेड के महत्व को बताते हुए कहा कि परेड अनुशासन की जड़ है- परेड से जवान फिट एवं अपने आप को तनाव रहित रह सकते हैं।

MT परेड का आयोजन

जनरल परेड उपरांत पुलिस अधीक्षक ने जिले भर के थानों एवं रक्षित केंद्र मैं उपलब्ध वाहनों का निरीक्षण किया निरीक्षण के दौरान एसपी ने ड्राइवरों को फास्ट एड किट रखने अग्निशामक यंत्र की समय-समय पर फीलिंग कराने निर्देश दिए ताकि प्राथमिक उपचार करने एवं आग से बचाव किया जा सके। साथ ही वाहन चलाने वाले ड्राइवरों के लाइसेंस रीन्यू डेट एवं उनके आंखों का परीक्षण हर छह माही कराने के निर्देश रक्षित निरीक्षक मनोरमा बघेल को दिए परेड के दौरान वाहनों के सायरन, इंडिकेटर, ब्रेक, पी एस सिस्टम, जाली आदि को चेक किया ऐसे वाहन चालक जिनके वाहन उत्तम दर्जे के पाए गए उन्हें प्रशंसा प्रदान की किया। आगामी पंचायती चुनाव को देखते हुए फील्ड में चलने वाले समस्त वाहनों में टियर गैस बॉडी हेलमेट जाली आदि को अनिवार्य रूप से रखवाया गया एमटी परेड के दौरान बज्र वाहन से टियर गैस चलावा कर निरीक्षण कराया थाना गंज के वाहन दुरुस्त नहीं होने पर वाहन चालक को फटकार लगाई।

सैनिक सम्मेलन का आयोजन

वार्षिक निरीक्षण के रक्षित केंद्र में आयोजित सैनिक सम्मेलन की अध्यक्षता पुलिस अधीक्षक बैतूल द्वारा की गई सम्मेलन में विभिन्न अधिकारी कर्मचारियों की व्यक्तिगत एवं सार्वजनिक समस्याओं सुझाव को सुना गया समस्याओं के निराकरण के लिए जल्द से जल्द कार्यवाही करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए
कर्मचारियों द्वारा रक्षित केंद्र में सैलून की व्यवस्था कराने का अनुरोध किया गया। आवास पानीआदि की समस्याओं को रखा गया।

दरबार समाप्ति के दौरान पुलिस अधीक्षक ने सभी थाना प्रभारियों एवं एसडीओपी साहबान को थाने के कर्मचारियों की समस्याओं को समय-समय पर सुनने एवं उनके निराकरण करने हेतु पत्राचार करने के निर्देश दिए। दरबार में उपस्थित महिला कर्मचारियों को उनके छोटे बच्चों की समस्या का निराकरण करने के लिएथानों के नजदीक 17 आंगनवाड़ी केंद्र भेजने एवं उनमें जो सुविधाएं जैसे टीवी, फिसल पट्टी, झूला, लाईट, पानी, पुलिस द्वारा दी जा रही हैं। उनका लाभ लेने के सुझाव दिए गए एवं लगातार हो रही दुर्घटनाओं को देखते हुए हेलमेट पहनने एवं यातायात के नियमों का पालन करने एवं अनुशासन का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान उपस्थित रहे

वार्षिक निरीक्षण के दौरान पुलिस विभाग जिले के सभी वरिष्ठ अधिकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीरज सोनी, एसडीओपी बैतूल सृष्टि भार्गव, एसडीओपी शाहपुर महेंद्र मीणा, एसडीओपी मुलताई नम्रता, एसडीओपी सारनी रोशन जैन, एसडीओपी भैंसदेही शिवचरण रोहित, बीएसपी महिला सेल पल्लवी गौर, रक्षित निरीक्षक मनोरमा बघेल एवं जिले के सभी थाना प्रभारी उपस्थित रहे।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.