उपनिरीक्षक के सिर पर मारी बोतल, वर्दी फाड़ी, पुलिस ने बैतूल में आरोपियों का निकाला जुलूस

Advertisements

उपनिरीक्षक के सिर पर मारी बोतल, वर्दी फाड़ी, पुलिस ने बैतूल में आरोपियों का निकाला जुलूस


बैतूल। जिले में लोगों के हौसले इस कदर बुलंद हो गए हैं कि वे पुलिस पर हमला करने से भी नहीं हिचक रहे हैं। दबंगई इतनी की पुलिस पर हमला कर अधमरा कर अपनी दबंगता दिखा रहे हैं। ऐसे दबंग युवकों पर पुलिस की कार्रवाई निश्चित ही सही है क्योंकि अगर आज पुलिस एक्शन नहीं लेती तो भविष्य में यह अपनी छह आरोपियों मनमानियों को फिर से दोबारा करने में पीछे नहीं हटते। धन के घमंड में चूर यह छह अपराधी यह तक भूल गए कि इस बार उनका सामना पुलिस से हो पड़ा है। पर फिर क्या पुलिस ने बिना कुछ सोचे समझे मामले में तीव्र गति से कार्रवाई करते हुए पाथाखड़ा से हिरासत में लेकर छह आरोपियों अपनी कार्रवाई की शुरुआत कर दी।

क्योंकि यही हुई युवक घटना को अंजाम देकर अपने घरों में चैन की निद्रा से आराम कर रहे थे। लेकिन पाथाखेड़ा एवं सारनी पुलिस ने अगली सुबह होते ही इन छह आरोपियों को इनके अलग-अलग ठिकानों से हिरासत में लेकर शाहपुर पुलिस को सौंप दिया। ऐसे ही बुलंद हौसलों का सबूत देते हुए कुछ लोगों द्वारा छिंदवाड़ा की पुलिस टीम पर हमला किए जाने का मामला सामने आया है। घटना शाहपुर थाना क्षेत्र के बरेठा-सारणी रोड की बताई जा रही है। पुलिस ने शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली है।

हमले का शिकार हुई पुलिस टीम एक गुमशुदा बालिका की तलाश के लिए सिहोर गई थी। बालिका को दस्तयाब कर वापस लौटते वक्त यह घटना हुई। पुलिस ने शिकायत पर मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना गुरुवार अलसुबह की बताई जा रही है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार कुंडीपुरा छिंदवाड़ा थाने के सब इंस्पेक्टर पंकज पिता गोवर्धन राय ने शिकायत दर्ज कराई है कि वो एक गुमशुदा बालिका की तलाश के लिए सिहोर के कुबेरेश्वर धाम गए थे।

टीम में उनके साथ बालिका के पिता, महिला आरक्षक रुखमणी और वाहन चालक प्रवेश उईके भी साथ था। यह चारों बच्ची को दस्तयाब कर वापस निजी वाहन से छिंदवाड़ा लौट रहे थे। इसी बीच एक स्विफ्ट कार क्रमांक एमपी-04/सीयू-3037 द्वारा पुलिस के वाहन को कट मारी गई। उन्होंने इसका विरोध किया तो कार में सवार छह युवक आए और बरेठा-सारणी रोड पर गाड़ी को रोका। इसके बाद ओवरटेक को लेकर युवकों ने विवाद कर टीम पर हमला कर दिया।

इस दौरान सब इंस्पेक्टर पंकज राय के सिर पर बॉटल मार दी गई, उनकी वर्दी भी फाड़ दी। साथ ही टीम में शामिल अन्य लोगों को धमकाया गया। शाहपुर पुलिस ने सब इंस्पेक्टर की शिकायत पर छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले को जांच में लिया है। मामले में सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। वाहन भी जप्त कर लिया गया है। आरोपियों के खिलाफ धारा 353, 332, 294, 34 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर मामले को जांच में लिया है।

वहीं शुक्रवार को बैतूल में पुलिस ने इनका जुलूस निकालकर यह मिसाल कायम की गई कि अगर पुलिस पर कोई अपराधी हमला करने की वारदात करता है तो उसका हश्र क्या होता है बता दिया। पुलिस ने एक मिसाल यह भी कायम करने की कोशिश की है कि अगर जनता के रक्षकों के साथ इस तरह का व्यवहार होगा तो स्वभाविक है कि पुलिस भी उनके साथ तक कोई मानवीय व्यवहार नहीं करेगी। शायद इसीलिए पुलिस ने सख्ती के साथ इस मामले में जुलूस निकालकर ऐसे अपराधियों के लिए एक सख्त संदेश छोड़ा है। जबकि छह आरोपियों को आज बैतूल न्यायालय में पेश किया गया।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.