दर्द से कराहती रही गर्भवती महिला एंबुलेंस के लिए, नहीं मिली घंटों तक एंबुलेंस

Advertisements

दर्द से कराहती रही गर्भवती महिला एंबुलेंस के लिए, नहीं मिली घंटों तक एंबुलेंस


जुन्नारदेव, (दुर्गेश डेहरिया)। विधानसभा क्षेत्र जुन्नारदेव 122 के आदिवासी बाहुल्य इलाके तामिया और जुन्नारदेव इमरजेंसी में 108का लाभ मरीजों को नही मिल रहा है। बिमार के तिमारदार जब इस नंबर पर काल कर के 108 की मदद लेते है तब मरीज के पास 108 पहुंचने में देरी होने से ग्रामीण क्षेत्रों के मरीज को असुविधा हो रही है।

तामिया की एक गर्भवती महिला ने जानकारी देते हुए बताया कि लगभग 2 घंटों से अधिक दर्द से तड़पने के बाद एंबुलेंस की सुविधा नहीं मिल पाई 108 में 27 बार फोन लगाया गया। गर्भवती महिला राजकुमारी पति सुमित परतेती निवासी राजथारी को एंबुलेंस की सुविधा नहीं मिल पाई साथी जुन्नारदेव में मरीज अत्याधिक गंभीर अवस्था में था। जिसे डॉक्टर द्वारा जिला हॉस्पिटल रिफर कर दिया गया उसे भी 2 घंटे के बाद तड़पने के बाद एंबुलेंस की सुविधा मिली।

सरकार को संजीवनी 108 के परिचालन को लेकर कुछ बदलाव किए जाने की आवश्यकता पड़ रही है। जिससे दूरस्थ क्षेत्रों में गंभीर मरीजों को अस्पताल पहुंचाने के लिए जतन करना ना पड़े।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.