राहुल गांधी ने नेताओं को चेताया, बर्दाश्त नहीं की जाएगी अनर्गल बयानबाजी

Advertisements

NEWS IN HINDI

राहुल गांधी ने नेताओं को चेताया, बर्दाश्त नहीं की जाएगी अनर्गल बयानबाजी

रायपुर। चुनाव के समय कांग्रेस का कोई भी नेता अनर्गल बयानबाजी करेगा तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के नेताओं को इस बात पर चेताया है। उन्होंने चुनाव के लिए टिकट वितरण का नया फॉर्मूला भी बता दिया है कि विधानसभा क्षेत्र के ही नेताओं और कार्यकर्ताओं को टिकट दी जाएगी। दिल्ली में राहुल गांधी ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद 25 जनवरी को पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल, नेता-प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव समेत 20 नेताओं की पहली बार बैठक ली थी। उन्होंने सभी नेताओं से वन-टू-वन चर्चा भी की थी। इस बीच किसी नेता ने राहुल गांधी को बताया था कि एक-दो नेता प्रदेश में बाहर से आकर बसे लोगों के खिलाफ बयानबाजी करते रहते हैं। यह तक कहा गया है कि परदेशियों को भगाना है।

राहुल गांधी ने सभी नेताओं साफ तौर पर चेताया है कि वे किसी भी समाज, वर्ग या बाहर से आकर बसे लोगों के खिलाफ बयानबाजी बिल्कुल भी न करें। इससे चुनाव में पार्टी को ऐसे समय में नुकसान हो सकता है, जब प्रदेश में भाजपा सरकार के खिलाफ माहौल बना हुआ है।

विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी चयन और टिकट बंटवारे को लेकर राहुल गांधी ने कहा है कि इस बार विधानसभा क्षेत्र के बाहर के नेता या कार्यकर्ता को कतई टिकट नहीं देनी है। बाहर के नेता को टिकट देने पर दूसरी पार्टी उसे ही मुद्दा बना लेती है। राहुल गांधी ने प्रत्याशियों की सूची तैयार करने से पहले इस बात का पूरा ध्यान रखने के लिए कहा है।

 

NEWS IN English

Rahul Gandhi warned leaders, unrestrained rhetoric will not be tolerated

Raipur. At the time of election, if any Congress leader unrestrained rhetoric, then he will not be tolerated. The party’s national president, Rahul Gandhi, has warned Chhattisgarh leaders about this. He has also given a new formula for ticket distribution for the elections that only leaders of the assembly constituency and workers will be given the ticket. On 25 January, after Rahul Gandhi became the national president of the Congress, PCC President Bhupesh Baghel, leader of the Opposition TS Sinhadev, took the first meeting of 20 leaders. He also discussed the one-to-one discussion with all the leaders. Meanwhile, a leader had told Rahul Gandhi that one or two leaders continued to make statements against those who came out of the state. It has been said that the foreigners have to be deported.

Rahul Gandhi has clearly warned all the leaders not to speak rhetoric against the settlers, those who came from outside, or those who came from outside. This can cause a loss to the party in elections, when there is an atmosphere in front of the BJP government in the state.

Rahul Gandhi has said that in the Assembly elections, for the selection of candidates and ticket sharing, this time, there is no ticket to the leader or worker outside the Assembly constituency. On the ticket to the outside leader, the other party makes it the only issue. Rahul Gandhi has asked to take full care of this matter before preparing the list of candidates.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.