सीजन के हिसाब से किराया तय करने की तैयारी में रेलवे

Advertisements

NEWS IN HINDI

सीजन के हिसाब से किराया तय करने की तैयारी में रेलवे

नई दिल्ली। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि फ्लेक्सी फेयर्स की नीति पर रेलवे पुनर्विचार कर रहा है। इसमें सीजन के हिसाब से किराये में परिवर्तन होगा। अगर यात्रियों की संख्या किसी सीजन विशेष में कम है तो रेलवे किराया कम कर देगा और तादाद बढ़ने पर टिकट दर बढ़ जाएगी। राज्यसभा में रेल मंत्री ने बताया कि रेल विभाग घाटे में नहीं है, लेकिन समय को देखते हुए नीतियों में परिवर्तन करना लाजिमी है। प्रश्न काल के दौरान कुछ सदस्यों ने फ्लेक्सी फेयर्स पर सवाल उठाए थे। भाजपा के राम विचार ने कहा कि कई बार रेल किराया काफी ज्यादा बढ़ जाता है। गोयल ने कहा कि समिति ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि किस तरह से टिकटों की दरें निर्धारित की जाएं, जिससे महकमा फायदे में आ सके। कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने सवाल उठाया कि रेलवे अपने सामाजिक दायित्वों को पूरा करने के लिए किस तरह से योजना बना रहा है। उन्होंने पूछा कि इस मद में खर्च होने वाली रकम को कैसे समायोजित करेंगे। रेल मंत्री का कहना था कि क्षमता में इजाफा करके मंत्रालय अपनी आमदनी बढ़ाकर सामाजिक दायित्वों को पूरा करेगा। एक सवाल के जवाब में उनका कहना था कि अगले पांच-छह साल में सिग्नल प्रणाली को पूरी तरह से तब्दील करेंगे। इसमें एक लाख 10 हजार से ज्यादा लंबी रेल लाइनों पर सिग्नलों को तब्दील किया जाएगा। रेलवे ईटीएस-2 प्रणाली को अपनाने पर विचार कर रहा है। यह सबसे बेहतरीन तकनीक है। उनका कहना था कि सिग्नल प्रणाली बहुत ज्यादा पुरानी है और इसकी वजह से ही ट्रेनें लेट होती हैं। एक बार इसे तब्दील कर लेंगे तो फिर क्षमता बढ़ाने पर काम होगा।

 

NEWS IN English

Railway ready to fix rent for season

new Delhi. Railway Minister Piyush Goyal has said that Railways is reconsidering the Flexi Fairs policy. It will change the rental according to the season. If the number of passengers is less in a particular season then the railways will reduce the rent and the ticket rates will increase if the number of passengers increases. In the Rajya Sabha, the Railway Minister said that the railway department is not in deficit, but considering the time, the changes in the policies are inevitable. During the Question Hour some members questioned Flexi Fears. BJP’s Ram Samaj said that many times the rail fare increases considerably. Goyal said that the committee has stated in its report how the rates of tickets should be determined, which would benefit them. Congress leader Jairam Ramesh raised the question of how the railway is planning to fulfill its social obligations. He asked how to adjust the amount spent in this item. The Railway Minister said that by increasing the capacity, the ministry will increase its income to meet social obligations. In response to a question, he said that in next five-six years the signal system will be completely transformed. In this, signals will be converted to more than one lakh 10 thousand long rail lines. Railways are considering adopting the ETS-2 system. This is the best technique. He said that the signal system is too old and due to this the trains are late. Once it is transformed then it will work to increase the capacity.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.