आमला : राजस्व और खनिज विभाग की टीम ने कार्रवाई कर अवैध रेत सहित 4 ट्रैक्टर किए जब्त

Advertisements

NEWS IN HINDI

राजस्व और खनिज विभाग की टीम ने कार्रवाई कर अवैध रेत सहित 4 ट्रैक्टर किए जब्त

दुर्गाप्रसाद जोनजारे
बैतूल/आमला। ब्लाक के ग्राम लालवाड़ी राजस्व विभाग सहित माइनिंग विभाग ने रेत माफियाओं पर बडी कार्यवाही करते हुए अवैध रेत भंडारण सहित 4 ट्रेक्टर ट्रालियां जप्त की। मिली जानकारी के मुताबिक लालवाड़ी तिरमहु मार्ग के बीच मे स्थित हेडली घाट बेल नदी पर पिछले कई दिनों से रेतमाफिया दर्जनों ट्रेक्टर ट्रालियों से रेत का अवैध उत्खननं तथा परिवहन कर रहे थे ,वहीं नदी किनारे स्थित किसानों के खेत किनारे बड़ी-बड़ी खदान निर्मित कर खनिज माफिया रेत निकाल रहे थे, जिसकी शिकायत किसानों द्वारा तहसील कार्यालय में की जा रही थी वहीं आज इस मामले में गम्भीरता बरतते हुए राजस्व विभाग की टीम व पुलिस बल सहित मौके पर पहुंचकर अवैध उत्खननं कर रहे ट्रैक्टरों पर कार्यवाही की और मौके पर पहुंचकर पंचनामा बनाकर खनिज माफियाओं की सूची जारी की गई। मौके पर से कई ट्रेक्टर चालक फरार हो गए लेकिन 4 ट्रेक्टर जप्त कर पुलिस थाने पहुंचाया गया, लेकिन 4 ट्रेक्टर सड़क से पुलिस को ठेंगा दिखाकर गायब हो गए ।मामले की शिकायत राजस्व ने माइनिंग विभाग के आला अधिकारियों को की। जिस पर खनिज निरीक्षक अशोक नागले ने खनिज माफियाओं के घर पहुंचकर ट्रेक्टर ट्रालियां जप्त की। गौरतलब होगा कि राजस्व विभाग द्वारा लगभग 50 ट्राली रेत का अवैध भंडारण पकड़ा गया व रेत स्टाक स्थानीय कृषकों के सुर्पदनामे रखा गया । राजस्व विभाग द्वारा बेल नदी पर रेत का अवैध परिवहन करने वाले सवन्या पिता शंकर निवासी छावल, कमलेश पिता शंकर निवासी छावल, संजय पिता नीलकंठ गवाहडे निवासी हरिभाटा निवासी डोडावनी , कृष्णा गवाहड़े निवासी तिरमहु के खिलाफ रेत का अवैध उत्खनन व रेत का अवैध भंडारण करने का प्रतिवेदन पंचनामा बनाकर माइनिंग विभाग को सौंपा ।दूसरी तरफ पकड़े गए ट्रेक्टरों को पुलिस के सुपुर्द कर थाने ले जाने सौंपा, लेकिन रेत माफिया मौके से पुलिस को चकमा देकर भाग खड़े हुए। माइनिंग विभाग के खनिज निरीक्षक अशोक नागले द्वारा रेत का उत्खननं करने वाले ट्रैक्टरों को ग्रामो में पहुंचकर जप्त कर पुलिस थाने के सुपुर्द किया गया।

बिना रजिट्रेशन पंजीयन के पाए गए वाहन
इस मामले में राजस्व विभाग द्वारा रेत परिवहन उत्खननं में लगे ट्रेक्टर ट्रालियों के कागजात रजिट्रेशन बीमा मांगने पर किसी के पास कागजात नही मील पाए, वहीं ट्रेक्टर चला रहे चालकों के पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नही थे। यहां तक कि किसी भी ट्रेक्टर ट्राली पर रजिट्रेशन पंजीयन तक नही था, उल्लेखनीय होगा कि कृषि उपयोग के ट्रैक्टरों को खनिज माफिया व्यावसायिक उपयोग में नियमों की धज्जियां उड़ाकर ले रहे है।

इनका कहना है।
कृषको के खेतों को खराब करने व अवैध उत्खनन की लगातार शिकायतें मिल रही थी जिस पर कार्यवाही की गई।
दिनेश साल्वे, तहसीलदार आमला

ट्रैक्टरों को खनिज माफियाओं के घरों पर जाकर जब्त करना पड़ा, मौके से सभी फरार हो गए थे।
अशोक नागले ,खनिज निरीक्षक बैतूल

 हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करकेhttps://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Amla: Revenue and Mineral Department team seized 4 tractors including illegal sand

Durgaprasad Jonjare
Betul / Amla The Department of Block, Lalwadi Revenue Department of Block, seized 4 tractor trolleys including illegal sand storage while taking massive action on sand mafia. According to the information received from the information that, in the middle of the Lalwadi Thiramahu Marg between the Headley Ghat Bell River, for the past several days, sandmafia had been digging and transporting sand from dozens of tractor trolley while the farmers on the river banks made huge quarries, The mafia was extracting sand, whose complaint was being done by the farmers in the Tehsil office, while today, there was seriousness in this matter. Self are reaching illegal Utknnan on the spot, including the department’s team and police action on tractors and arrived at the scene went to the list of mineral mafia by postmortem. On the spot, many tractor drivers were absconding but 4 tractors were seized and taken to the police station, but 4 tractors disappeared by showing the police chasing the road. The complaint was filed by the revenue collector to the top officials of the mining department. On which mineral inspector Ashok Nagle reached the house of mineral mafia and seized tractor trolleys. It would be worthwhile that the revenue department was arrested by the revenue department about 50 trolley sand and the sand stock was placed in the plots of local farmers. Sawanya father Shankar resident who has illegally transported sand on the Bell river by the revenue department, Chhoval Kamlesh, resident of Shankar resident, Sanjay father Nilkanth Guwahade resident Haribhota resident Dodavani, illegal immigrant of sand against illegal immunization of sand against cattle and illegal storage of sand The report was submitted to the mining department. The tractors caught on the other side were handed over to the police and handed over to the police station. Which sand mafia ran away after dodging the police. The mining inspector of the mining department Ashok Nagle reached the village and was handed over to the police station after reaching the village.

Found vehicles without registration registrations
In this case, the Department of Revenue did not find any documents with the tractor trolley in questioning the demand for registration of sand transport in the sand transport, whereas drivers running the tractor did not have a driving license. Even registering registration on any tractor trolley was not enough, it would be remarkable that the mineral mafia for agricultural use tractors has been taking the brunt of rules in commercial use.

They have to say
There was constant complaints of poor farmers’ farming and illegal exploration, which was taken up.
Dinesh Salve, Tehsildar Amla

The tractors had to confiscate the mineral mafia houses and all were absconding.
Ashok Nagale, Mineral Inspector Betul

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.