सारनी : तिरंगा यात्रा रोकने तथा गोली मारकर हत्या करने वालों पर राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज कराने की की मांग,हिंदू संगठन ने राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन

Advertisements

NEWS IN HINDI

सारनी : तिरंगा यात्रा रोकने तथा गोली मारकर हत्या करने वालों पर राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज कराने की की मांग,हिंदू संगठन ने राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन

कैलाश पाटिल
बैतूल/सारनी। 30 जनवरी को दोपहर 12 बजे हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा रोकने और गोली मारकर हत्या करने वालों पर राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज कराने के संबंध में एसडीओपी को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन सौपने वालों ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि 26 जनवरी को कासगंज उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीयता कि भावना से प्रेरित युवाओं ने तिरंगा यात्रा निकाली थी। यात्रा को रोकना राष्ट्रीय भावना का हनन होता है। संविधान के अनुरुप तिरंगा यात्रा रोककर वाद-विवाद करने वालों पर राष्ट्रद्रोह का मामला पंजीबद्ध किया जाए। हिंदू संगठन के लोगों ने कहा कि जब मुस्लिम समाज के लोग इस राष्ट्र को अपना नहीं मानते तो हम भी इन्हें अपना भाई मानने से इनकार करते हैं। और यदि कहीं यात्रा या राष्ट्रवाद को लेकर किसी घटना को अंजाम दिया गया तो हिंदू समाज इसे स्वीकार नहीं करेगा। महामहिम आप पूरे राष्ट्र के पालक है। हम सभी हिंदू बंधु आपसे अपील करते हैं कि काशगंज में शहीद चंदन गुप्ता की क्या गलती थी, किसने गोली मारी और गोली मारने वालों का धर्म और जाति क्या थी और अगर मुस्लिम भाई है तो हर बार मुस्लिम ही क्यों ? हम सभी राष्ट्रप्रेमी, हिंदू भाई आपसे अपील करते हैं कि कासगंज में जो घटना घटित हुई उसकी पूरी नैतिक जिम्मेवारी तिरंगा यात्रा रोकने वालों की है। इसलिए आपसे अनुरोध है कि इस सभी पर राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज किया जाए। ज्ञापन सोचने वालों में जगन्नाथ दरिया जोगेंद्र सिंह संदीप झपटे नागेंद्र निगम सहित बड़ी संख्या मे हिंदू संगठन के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

NEWS IN English

Sarni: Demand for lodging cases of sedition on those who stop the tri-color tour and shot dead, Hindu organization has given memorandum to the President

Kailash Patil
Betul / Sarani On January 30, at 12 noon, the activists of Hindu organization handed over the memorandum to the SDOP in the name of the President in connection with lodging a case of sedition on people who had stopped and killed the Tricolor on January 26. Those entrusted by the memorandum through a press release told that on January 26, youths inspired by the spirit of nationalism in Kasganj Uttar Pradesh had drawn the tricolor journey. Prohibiting the journey is a violation of national sentiment. In case of the Constitution, the case of sedition will be registered against the people who have made a controversy by stopping the Tiranga Yatra. The people of Hindu organization said that when people of Muslim society do not consider this nation as their own, then we deny them as their brothers. And if any incident took place regarding travel or nationalism, then Hindu society will not accept it. Your Excellency You are the guardian of the whole nation. All Hindu brothers appeal to you that what was the mistake of Shaheed Chandan Gupta in Kashganj, who was shot and shot, what was the religion and caste, and if there is a Muslim brother then why every time Muslims? All the nation-states, the Hindu brothers, appeal to you that the entire moral responsibility of the event that happened in Kasganj belongs to those who keep the trip. That is why you are requested to register a case of sedition on all this. Among the thinkers, Jagannath Darya Jogendra Singh Sandeep Jhapate Nagendra Nigam, a large number of workers of Hindu organization were present.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.