शाहपुर : न्यायालय आदेश के बाद भी नहीं हटा शाहपुर विकसखण्ड के ग्राम पंचायत धपाड़ा का अवैध अतिक्रमण

Advertisements

NEWS IN HINDI

शाहपुर : न्यायालय आदेश के बाद भी नहीं हटा शाहपुर विकसखण्ड के ग्राम पंचायत धपाड़ा का अवैध अतिक्रमण

आशीष राठौर
बैतूल/शाहपुर। शाहपुर विकसखण्ड के ग्राम पंचायत धपाड़ा का अवैध अतिक्रमण इस समय प्रसासन के लिए किसी चुनौति से कम नही है। इस पर न्यायालय तहसीलदार शाहपुर द्वारा अवैध अतिक्रमणकारी को अतिक्रमण हटाने के पूर्व में तीन आदेश दे चुके है। चौथा आदेश 19 जनवरी को दिया गया। जिस पर 25 जनवरी को कार्यवाही शुनिश्चित की गई थी। लेकिन अवैध अतिक्रमण नही हट पाया। पूर्व में तहसील न्यायालय द्वारा अवैध अतिक्रमण के निर्माण में रोक लगा दी गई थी, लेकिन अतिक्रमणकारी द्वारा अपना निर्माण कार्य जारी रखा गया। राजस्व भूमि पर किए गए अवैध अतिक्रमण की शिकायत जिला कलेक्टर के जन शिकायत निवारण शिविर में की गई है।

परंतु 4 माह बीत जाने के बाद राजस्व विभाग अवैध अतिक्रमण हटाने के लिए कार्यवाही नही कर पाया। पूर्व में अतिक्रमणकारी जयराम पिता साहबलाल एक हजार रूपये का अर्थदंड एवं राजस्व निरीक्षक को अवैध अतिक्रमण तुड़वाने के आदेश प्रस्तावित किये थे । तहसीलदार कार्यालय से सरपंच सुमरलाल भलावी को 19 जनवरी को पुनः जेसीबी मशीन एवं मजदूर करने के लिये आदेश पारित किये गए । सरपंच द्वारा अभी तक चार बार जेसीबी मशीन बुला ली गई है, लेकिन अतिक्रमण तोड़ने की कार्यवाही नही हो पाई। मशीन को वापिस लौटना पड़ता है ।

राजस्व विभाग नियत समय पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही नही कर रहा महज पंचनामा तैयार कर खाना पूर्ति कर ली गई है। चार माह बीत जाने के बाद भी राजस्व विभाग को ग्राम धपाड़ा के अवैध अतिक्रमण को हटाने की सुध नही है। जिसके चलते अतिक्रमणकरियों के हौसले बुलंद है । अतिक्रमणकारी पूरे प्रसासन पर हावी होता नजर आ रहा है। इतनी शिकायत के बाद भी अतिक्रमणकारी द्वारा अपना निर्माण कार्य चालू रखा गया है।

 

NEWS IN English

Shahpur: illegal encroachment of Gram Panchayat Dhapada of Shahpur Vikaskhand not even removed after court order

Ashish Rathore
Betul / Shahpur Illegal encroachment of Gram Panchayat Dhapada of Shahpur Vikaskhand is no less challenging for the administration at this time. On this, the court has given three orders before Tehsildar Shahpur to remove encroachment by the illegal encroachment. The fourth order was given on 19 January. On which the proceedings were confirmed on 25th January. But illegal encroachment did not go away. In the east, the Tehsil Court was banned from building illegal encroachments, but the encroachment continued its construction work. Complaints of illegal encroachment done on revenue land have been made in the District Collector’s Public Grievance Redressal Camp.

But after 4 months, the revenue department was unable to take action to remove the illegal encroachment. In the past, encroachment of Jairam father Sahabalal had proposed the payment of one thousand rupees and the revenue inspector ordered to break illegal encroachment. Orders for Sarpanch Sumallal Bhalavi to return JCB machine and labor on January 19 from Tehsildar’s office. The Sarpanch has called the JCB machine four times so far, but the action to break the encroachment has not been done. The machine has to return.

The Department of Revenue is not taking action to remove encroachment at regular intervals, but only the Panchnama has been prepared and the food has been supplied. Even after four months have passed, the revenue department does not have the right to remove illegal encroachment of Village Dhapada. Because of which the encroachment is very fresh. The encroachment seems to dominate the whole process. Even after complaining, the encroachment has continued its construction work.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.