शाहपुर : खनिज विभाग ने अवैध कोयला उत्खन्ना कर स्टोरेज पर की कार्यवाही कर दस टन कोयला जब्त

Advertisements

NEWS IN HINDI

शाहपुर : खनिज विभाग ने अवैध कोयला उत्खन्ना कर स्टोरेज पर की कार्यवाही कर दस टन कोयला जब्त

आशीष राठौर
बैतूल/शाहपुर। खनिज विभाग के दल ने शनिवार देर शाम दौड़ीमरदानपुर ग्राम में अवैध रूप से उत्खन्ना कर स्टोरेज करके रखे 10 टन कोयले को जब्त करने में सफलता प्राप्त की है। उक्त संबंध में खनिज अधिकारी अशोक नागले ने बताया कि शनिवार देर शाम कलेक्टर शशांक मिश्र के निर्देशन पर दौड़ीमरदानपुर ग्राम पहुंचकर एक खेत के समीप नाले में छुपाकर रखे करीब 10 टन कोयले को जब्त कर उसे उठवाकर तहसील कार्यालय में लाया गया। इसकी आगामी दिनों में नीलामी की जाएगी। खनिज विभाग के अधिकारियों ने लावारिस पड़े कोयले की मालिकों की पतासाजी करने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिल पाई। मौके पर पंचनामा की कार्रवाई कर कोयले को जब्त करने की कार्रवाई की गई। गौरतलब हो कि दौड़ीमरदानपुर, गोलई, गौनापुर ग्रामों में इन दिनों में भारी मात्रा में कोयले का अवैध उत्खन्ना कर ब्लाक के र्ईट-भट्टों एवं अन्य स्थानों पर परिवहन किया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि दौड़ीमरदानपुर ग्राम में स्थानीय एवं शाहपुर के एक नए कोल माफियाओं द्वारा कोयले का अवैध उत्खन्ना कराकर स्टोरेज करके रखा गया था। जिसकी सूचना पर खनिज विभाग के दल ने छापामार कार्रवाई कर कोयले को जब्त करने की कार्रवाई की। कोल माफियाओं द्वारा इन दिनों सक्रिय होकर तवा एवं माचना नदी के किनारों से कोयले का उत्खन्ना करने में लगे हुए हैं। जिनमें दौड़ीमरदानपुर, सिलपटी, गौनापुर, गोलई में नदी-नालों एवं खेतों में कोयले की अवैध खदानें खोदकर कोयला निकाला जा रहा है। जब्त किया गया कोयला पत्थर रहित नंबर वन ग्रेड का है, जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि कोल माफिया बेसकीमती खनिज का दोहन करने में लगे हुए हैं, जिससे एक ओर नदियों का स्वरुप भी बिगड़ रहा है। खनिज निरीक्षक अभिषेक पटले ने बताया कि अवैध खनिज माफियों के विरुद्ध विभाग द्वारा लगातार कार्रवाई की जाती है, जल्द ही खनिज विभाग द्वारा कोयले की अवैध खदानों को जेसीबी से बंद किया जाएगा।

 

NEWS IN English

Shahpur: Mineral Department seized illegal coal and seized ten tonnes of coal for the operation.

Ashish Rathore
Betul / Shahpur The team of mineral department has successfully succeeded in seizing 10 tonne of coal stored in the village of Ranikarmanpur village on Saturday late evening and stored and stored. Mineral officer Ashok Nagale said that on the directions of Collector Shashank Mishra on the directions of Collector Shashank Mishra on Saturday late evening, after seizing 10 tonnes of coal, which was concealed in a drain near a farm near the village, and was brought to Tehsil office, it was raised and brought to the Tehsil office. It will be auctioned in the coming days. Mineral Department officials tried to find out the owners of the unclaimed coal, but the success was not achieved. Action taken for seizing coal by Panchnama on the spot was taken. It is worth mentioning that in the villages of Dondimanpur, Golii, Gaonpur, these days, there is a lot of illegal excavation of coal and transportation is being carried out at the sites of the block and other places. Sources said that a new Coal Mafia of local and Shahpur was kept in storage and kept in illegal storage of coal by the police in Dandimandanpur village. On whose information the team of mineral department took action to seize the coal by carrying out raids. By activating the coal mafia these days, Tawa and Machina are engaged in excavation of coal from the banks of the river. In which the coal mines of Koliwala coal are being extracted from the rivers, nallahs and fields in Dondimanpur, Silipati, Goanapur and Golii. The seized coal-fired number is one grade, which can be estimated that the Coal Mafia is engaged in exploiting the precious mineral, due to which the nature of the rivers is also deteriorating. Mineral inspector Abhishek Patwale said that the department is constantly being prosecuted against illegal mining mafia, soon the mineralogy will stop the illegal mining of coal from JCB.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.