मज़दूरों के बलिदान और एकता का प्रतीक सीटू

Advertisements

मज़दूरों के बलिदान और एकता का प्रतीक सीटू


सारनी। वेकोलि क्षेत्र पाथाखेड़ा में सीटू का 50वा स्थापना दिवस मनाया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार एरिया में वेकोलि कल्याण बोर्ड सदस्य कामेश्वर राय कॉमरेड अशोक बुन्देला अध्यक्ष महासचिव जगदीश डिगरसे, एरिया समन्वय समिति सदस्य जितेन्द्र निरापुरेज़ जगदीश रघुवंशी, एरिया टीएससी एनएम पुनसे, गजेन्द्र डोंगरे, कोषाध्यक्ष जे वेवेकानद सहित सभी प्रमुख पदाधिकारियों व सदस्यों की उपस्थिति में सीटू का 50वा स्थापना दिवस मनाया गया।

कार्यक्रम में सब से पहले सीटू के ध्वज फहराने के बाद अध्यक्ष महामंत्री ने सीटू संगठन के इतिहास पर अपने विचार व्यक्त किए। वेकोलि कल्याण बोर्ड सदस्य कामेश्वर राय ने बताया कि लाल झंडा कोल मज़दूर यूनियन सीटू देश के हर वर्ग के हक़ अधिकार के लिये लड़ते हुए आज देश के सबसे बड़े मज़दूर संगठन के रूप मे अपनी पहचान बना चुका है।

इस मौके कुतुबुद्दीन अंसारी, दलवीर सिंह, चंदन राय, इकाई के अध्यक्ष सचिव में राजू एरलु, हरि चौहान, अचिंत डे, गणेश गुजरे, पवन जगदेव, मोगल ख़ान, प्रभुनाथ गोस्वामी, शैलेश सुधीर, मुलायम यादव सहित पाथाखेड़ा एरिया के मजदूरों का समहू उपस्थित थे।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.