पानी के लिए मशक्कत

Advertisements

पानी के लिए मशक्कत


जुन्नारदेव, (दुर्गेश डेहरिया)। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में आने वाले आदिवासी विकास खंड जुन्नारदेव में भीषण गर्मी के दौरान पेयजल संकट की स्थिति निर्मित हो जाती है पहाड़ी क्षेत्र होने के कारण कई इलाके ऐसे हैं जहां पानी के लिए लोगों को भारी मशक्कत करना पड़ता है सुबह 4 बजे उठकर हैंडपंप और कुएं में पीने का पानी भरने के लिए लोग जाते है और पानी भरकर लाते हैं ग्राम करन पिपरिया, खामखेड़ा, दातलावादी डुंगरिया जैसी अन्य ग्राम पंचायतों में पानी की भारी किल्लत होती है। इतना ही नहीं नगरी निकाय में भी 2 से 3 दिन के अंतराल में पेयजल आपूर्ति होती है। लेकिन नगरी निकाय और ग्राम पंचायतें पेयजल संकट से उबरने के लिए कोई सार्थक पहल नहीं कर पाते है।

बिना जल सुनिश्चित नहीं कर

जनता को चाहिए की जल संरक्षण के प्रति जनता को जागरूक होना पड़ेगा आने वाले दौर में पताल में पानी चला जाएगा प्रतिदिन लोग पानी का उपयोग करते है। धरती से नीर लिया जाता लेकिन दिया नही जिसे ध्यान रखकर वर्षा ऋतु में पानी को संरक्षण करके मानव अपने आसपास जल स्तर बढ़ाने के लिए प्रयास कर पानी की कमी दूर कर सकता है।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.