ग्रीष्मकालीन खेल शिविर का समापन

Advertisements

ग्रीष्मकालीन खेल शिविर का समापन


सारनी। खेल एवं युवक कल्याण विभाग बैतूल के मार्गदर्शन व दिशानिर्देश में उत्कल स्पोर्ट्स सारनी ने हाईस्कूल फुटबॉल मैदान सारनी में चल रहे ग्रीष्मकालीन खेल शिविर का भव्य रंगारंग समापन किया।

ग्रीष्मकालीन खेल शिविर के संचालक कोच रंजीत डोंगरे वरिष्ठ फुटबॉल खिलाड़ी ने जानकारी देते हुए बताया की विगत एक माह से चल रहे खेल शिविर जिसमे सारनी पाथाखेड़ा मैदान में लभगभ 170 बच्चो ने एक माह लगातार खिलाडियों ने समर कैम्प में भाग लिया ओर जिसका समापन किया गया।समापन समारोह में अधिकारीगण व वरिष्ठ खिलाड़ियों ने आकर मिलकर उनका हौसला बढ़ाया।

जिसमे अंबादास सुने समाजसेवी, दीपक वर्मा समाजसेवी, शैलेंद्र शर्मा खेल प्रशिक्षक घोड़ाडोंगरी, मुरारी सिंदूर ऑल इंडिया फुटबॉल खिलाडी, पीतम सिंदूर आल इंडिया फुटबॉल खिलाड़ी, वासुदेव साकरे ऑल इंडिया वालीवाल खिलाड़ी, श्याम डोंगरे ऑल इंडिया फुटबॉल खिलाड़ी विठ्ठल ढोके, वरिष्ठ फुटबॉल खिलाड़ी सत्यभान डोंगरे, रामा पंवार खेल प्रशिक्षक अतिथियों की उपस्थिति में समापन समारोह कार्यक़म किया।

कार्यक़म की शुरुआत आगन्तुक अतिथियों के करकमलों से माँ सरस्वती के छाया चित्र पर दीप प्रज्वलन व पूजन करके किया गया। अतिथियों के स्वागत हेतु कैम्प के बच्चो ने स्वागत गीत गाकर एव तिलक लगाकर व पुष्प गुच्छ भेंट देकर किया गया। वही समर के संचालित सभी कोच ने भी अतिथियों को माला पहना कर सवागत सत्कार किया।

वही बताया जा रहा हैं कि वरिष्ठ फुटबॉल खिलाड़ियों ने समर केम्प में समापन समारोह में अतिथि के रूप में उपस्थित होकर सभी खिलाड़ियों को मार्गदर्शन देते हुए बच्चो को कहा कि जैसे फुटबॉल वालीवाल इत्यादि खेलो को खेलने के टिप्स बारीकियां स्टेमिना सिक्ल पावर आदि मार्गदर्शन दिया और बच्चो को खूब नाम रोशन करने का आशीर्वाद दिए।आगन्तुक अतिथियों के करकमलों से समर केम्प के सभी बच्चो को प्रमाण पत्र वितरण किया गया।

इस अवसर पर खेल प्रशिक्ष बिरंची महानंद कराते ब्लैक बेल्ट, राकेश डोंगरे फुटबॉल कोच जय सिन्दूर कोच, लखवीर डोंगरे कोच, आशीष डोंगरे कोच, रोमांच डोंगरे, निखिल सोनी कोच, मोंटू सिन्दूर कोच, राजीब सोनी, धीरज सोनी, रामप्रसाद दास, मुकेश नागले एवं बच्चो के माता पिता व अन्य लोग कार्यक़म में मौजूद थे।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.