होमवर्क नहीं करने पर टीचर का टॉर्चर, पिटाई से छात्र की आंख फूटी

Advertisements

NEWS IN HINDI

होमवर्क नहीं करने पर टीचर का टॉर्चर, पिटाई से छात्र की आंख फूटी

रतलाम। जावरा में निजी स्कूल में टीचर की पिटाई से बच्चे की एक आंख फूट गई. मासूम का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने होमवर्क नहीं किया था. इस मामले में बच्चे के पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने महिला टीचर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. हालांकि महिला टीचर की गिरप्तारी अभी नहीं हुई है. स्कूल प्रबंधन ने मामले में चुप्पी साध रखी है.

दरअसल रतलाम जिले के रिंगनोद के रहने वाले रोहित लालवानी का 7 वर्षीय बेटा जेनम जावरा के सेंट पीटर स्कूल में कक्षा एक का स्टूडेंट है. स्कूल में परीक्षा चल रही थी. जेनम भी स्कूल गया था. परीक्षा के दौरान ही क्लास टीचर मनोरमा कारपेंटर ने जेनम को होमवर्क नहीं करने की बात पर नाराजगी जताते हुए स्केल से पीट दिया. पिटाई के बाद जेनम स्कूल से छुट्टी होने पर घर चला गया.

घर पहुंचने के बाद उसने अपनी आंख में दर्द होने की बात परिजनों को बताई. इस पर परिजन उसे जावरा के एक निजी चिकित्सक के पास इलाज की लेकर पहुंचे. जहां जेनम जांच करने पर पता चला कि उसकी आंख में गंभीर अंदरूनी चोट आई है, जिससे कि उसे दिखना कम हो गया. बच्चे ने परिजनों को बताया कि क्लास टीचर मनोरमा कारपेंटर ने स्केल से मारा था, जिसकी वजह से आंख में चोट आई. जिसके बाद परिजनों ने जावरा पहुंचकर पुलिस को शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Teacher’s eyebrows on not doing homework, beating student’s eye by beating

Ratlam A child’s eyes were split with the teacher’s beating at a private school in Jawara. The innocence of the innocent was just that she had not done homework. In this case, the police has registered a case against the woman teacher on the report of the father of the child. However, the arrest of the lady teacher has not yet taken place. School management has kept quiet in the matter.

In fact, the 7-year-old son of Rohit Lalwani, a resident of Ringnod in Ratlam district, is a class one student in St. Peter’s School of Jenam Javra. The examination was going on in the school. Genom also went to school. During the examination, Class Teacher Manorama Carpenter expressed his displeasure over the issue of not doing homework, and beat him with the scale. After beating, Genom went home after leaving school.

After reaching home, he told the family that he had a pain in his eye. On this, the family came to him with a treatment at a private doctor of Jawra. Where, after examining the genom, it was revealed that there was a serious internal injury in his eye, so that the appearance of it reduced. The child told the family that class teacher Manorama Carpenter had hit the scale, due to which the eye was hurt, after which the families reached Jawa and lodged a complaint to the police. Police have started the investigation in various streams and started investigations.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.