ससुर के साथ रहने से खफा इंजीनियर बहू का खौफनाक ‘स्लो पाइजन’ प्लान

Advertisements

NEWS IN HINDI

ससुर के साथ रहने से खफा इंजीनियर बहू का खौफनाक ‘स्लो पाइजन’ प्लान

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में सॉफ्टवेयर इंजीनियर बहू के अपने ससुर को धीमा जहर देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. बहू के नापाक इरादों का खुलासा ब्लड टेस्ट और मोबाइल फोन कॉल रिकॉर्डिंग ऐप के जरिए हुआ. इसके बाद पति ने अपनी पत्नी के खिलाफ पुलिस थाने पर केस दर्ज कराया है.

रिश्तों को शर्मसार करने वाला यह मामला इंदौर के तिलक नगर थाना क्षेत्र के गोयल नगर का है. यहां रहने वाले अमित श्रीवास्तव ने अपनी पत्नी भावना के खिलाफ पिता को धीमा जहर देकर जान से मारने की साजिश रचने की शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने प्रारंभिक तहकीकात के बाद भावना के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

बताया जा रहा है कि गोयल नगर में रहने वाले 67 वर्षीय विनोद श्रीवास्तव की पत्नी का 2011 में निधन हो गया था. रिटायरमेंट के बाद कभी बड़े बेटे के पास दिल्ली में तो कभी इंदौर में छोटे बेटे अमित के साथ रह रहे थे. अमित और उनकी पत्नी भावना दोनों सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं. दोनों ने लव मैरिज की थी. पिछले दो साल से विनोद छोटे बेटे और बहू के साथ ही इंदौर में रहते थे.

मई 2017 से जहर दिए जाने का शक
भावना पर आरोप है कि उसने मई 2017 से अपने ससुर को धीमा जहर देना शुरू कर दिया था. पिता की तबीयत खराब होने पर अमित को शक हुआ तो उसने अपनी पत्नी पर नजर रखना शुरू कर दी. इस दौरान उसने पत्नी के मोबाइल फोन में रिकॉर्डिंग ऐप भी एक्टिव कर दिया. मौका देखकर अमित ने एक दिन अपनी पत्नी और उसके भाई की बात की रिकॉर्डिंग सुनी. इस रिकॉर्डिंग में भावना ने ससुर को धीमा जहर देने की बात कही थी.

ब्लड टेस्ट में भी धीमा जहर दिए जाने की बात की भी पुष्टि हुई थी. इसके बाद ही अमित ने पुलिस थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई है. हालांकि, पुलिस अब पूरे मामले की पुष्टि के लिए अपने स्तर पर मेडिकल जांच कराएगी.

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

The dangerous ‘Sloane Pioneer’ plan by the father-in-law of the engineer, living with father-in-law

In Madhya Pradesh’s financial capital Indore, software engineer Bahu has revealed a sensational case for slow poisoning his father-in-law. The negligent intentions of daughter-in-law are revealed through the Blood Test and mobile phone call recording app. After this, the husband filed a case against his wife against the police station.

The case of embarrassing relationships is from Goyal town of Tilak Nagar police station in Indore. Amit Shrivastav, who lives here, has lodged a complaint against his wife Bhavna for conspiring to kill her father with slow poison. After the initial investigation, the police has registered a case against the spirit and started investigations.

It is being told that the wife of 67-year-old Vinod Shrivastav, living in Goyal town, died in 2011. After retirement, the eldest son lived in Delhi and lived in Indore with the younger son Amit. Both Amit and his wife are both software engineers. Both of them had love marriages. For the last two years Vinod used to live in Indore, along with his younger son and daughter-in-law.

Poisoning from May 2017
Emotion is alleged to have started slowing down her father-in-law from May 2017. When Amit was suspicious of his father’s health, he started keeping an eye on his wife. During this, he also activated the recording app in the wife’s mobile phone. Seeing the opportunity, Amit heard the recording of his wife and his brother on one day. In this recording, the spirit said that the father-in-law was slow to poison.

There was also confirmation of slow poisoning in the blood test. After this Amit reached the police station and lodged a complaint. However, the police will now conduct a medical examination at their level to confirm the whole affair.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.