आते जाते फसलों को बैलों से नुकसान होने पर कृषक ने कर दी पड़ोसी की हत्या

Advertisements

आते जाते फसलों को बैलों से नुकसान होने पर कृषक ने कर दी पड़ोसी की हत्या


छिन्दवाड़ा, (दुर्गेश डेहरिया)। बैलों को पानी पिलाने देनवा नदी रोजाना ले जाने से पड़ोसी के खेत में खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचे से अक्सर शराब पीकर संत कुमार कहार पड़ोसी से गाली गलौज करता था जिससे क्षुब्ध होकर पड़ोसी ने इससे बदला लेने की ठान ली।

माहुलझिर पुलिस थाना अंतर्गत खंचारी टोला में किसान की हत्या का मामला सामने आया। मौके पर पहुंची पुलिस ने लहूलुहान पड़े शव को देखकर जांच पड़ताल की। झोपड़ी में सो रहे संत कुमार पर कुल्हाड़ी से सिर व हाथ पर दे मारा घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई सुबह जब बैलों को लेकर पत्नी खेत पहुंची तो पति मृत अवस्था में पड़ा देखकर पुलिस को इत्तिला कर दी मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रारंभिक जांच कर शव का पंचनामा तैयार किया घटनास्थल पर एफ एस एल टीम ने साक्ष्य जुटाए और मामले की जांच की।

जिसमें पाया कि घटना रात्रि में आखिरी बार गांव के शंकर धुर्वे को विवाद करते हुए देखा गया था। संदेह के आधार पर गिरफ्तार कर हिकमत अमली से पूछताछ की लेकिन पुलिस को गुमराह करते हुए स्पष्ट जानकारी नहीं दे रहा था। कुछ ही देर में पुलिस की सख्ती से सच कबूला। पुलिस ने खून से सनी हुई कुल्हाड़ी ओर कपड़े भौतिक साक्ष्य जप्त कर लिया है। आरोपी के खिलाफ पूर्व में मारपीट जान से मारने की धमकी 25 आर्म्स एक्ट के मामले दर्ज है। अब हत्या का मामला पंजीबद्ध किया।

पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजीव उईके के निर्देश पर एसडीओपी शिव कुमार सिंह के नेतृत्व में आरोपी की गिरफ्तारी के लिए माहुलझिर थाना प्रभारी एसआई मयंक उईके,सउनि लक्ष्मी प्रसाद गुप्ता, एसडीओपी कार्यालय से सुंदर लाल गुर्जर,प्रआ डालचंद, आरक्षक गजेन्द्र पंद्राम, महेंद्र कुमार उईके,नीरज ठाकुर, रोशन मरकाम, रघुराज झाला,चालक घनश्याम सोना की महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.