कलेक्ट्रेट मीटिंग हॉल वाले दादा हुए रिटायर, सेवानिवृति पर कलेक्टर सहित सभी जिलाधिकारियों ने दी भावभीनी विदाई

Advertisements

कलेक्ट्रेट मीटिंग हॉल वाले दादा हुए रिटायर, सेवानिवृति पर कलेक्टर सहित सभी जिलाधिकारियों ने दी भावभीनी विदाई


छिंदवाड़ा। मीटिंग हॉल वाले दादा के नाम से पहचाने जाने वाले शासकीय सेवक श्याम राव पवार को शायद ही कोई उनके असली नाम से पहचानता होगा। उनकी असली पहचान उनका नाम नहीं, बल्कि उनका काम था, जिसे वे अपने पूरे समर्पण, निष्ठा और सेवा भाव से करते थे। सर पर गांधी टोपी और खाकी या सफेद रंग की ड्रेस पहने मीटिंग हॉल वाले दादा आज 33 वर्ष की अधिवार्षिकी आयु पूर्ण कर सेवानिवृत्त हो गए हैं।

सेवानिवृति के अवसर पर कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने उनके सेवा भाव, कर्तव्य निष्ठा और कार्य के प्रति समर्पण के लिए उनकी सराहना की, साधुवाद दिया और शॉल श्रीफल एवं पुष्पगुच्छ से सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हम सभी को भी अपने दायित्व के प्रति उनके सेवाभाव और निष्ठा से सीख लेना चाहिए। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री हरेंद्र नारायण, एडीएम ओ.पी.सनोडिया, एसडीएम अतुल सिंह व नगर निगम आयुक्त हिमांशु सिंह सहित सभी जिला अधिकारियों ने उन्हें भावभीनी विदाई दी और सुखमय, स्वस्थ्य व दीर्घायु भावी जीवन की शुभकानाएं दीं।

उल्लेखनीय है कि चतुर्थ श्रेणी शासकीय सेवक श्याम राव पवार ने वर्ष 1988 से लगातार अपने शासकीय दायित्वों का पूरी ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा से निर्वहन किया है। वे पिछले 15 सालों से लगातार कलेक्ट्रेट में अपनी सेवाएं देते रहे हैं। नियमित समय पर उपस्थित होकर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष की पूरी व्यवस्थाएं संभालते रहे हैं । कोरोना के समय सभी के हैंड सेनिटाइजेशन कराने का कार्य पूरी जवाबदारी से किया। वर्ष 2019 में गणतंत्र दिवस के जिला स्तरीय समारोह में पवार को उत्कृष्ट सेवाओं के लिए जिला प्रशासन द्वारा सम्मानित भी किया जा चुका है ।

Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.