कर्मी कल्चर को खत्म कर स्कूल शिक्षा में संविदा शिक्षकों को दिया गया सम्मानजनक पद

Advertisements

NEWS IN HINDI

कर्मी कल्चर को खत्म कर स्कूल शिक्षा में संविदा शिक्षकों को दिया गया सम्मानजनक पद

अध्यापक संवर्ग को दिया जा रहा है छठवां वेतनमान

छविनाथ भारद्वाज
बैतूल। मध्यप्रदेश में राज्य सरकार द्वारा शिक्षण क्षेत्र में कर्मी कल्चर को समाप्त कर अध्यापक संवर्ग का गठन कर शिक्षाकर्मियों और संविदा शाला शिक्षकों को सम्मानजनक पदनाम एवं वेतनमान दिया गया है। प्रदेश में वर्ष 1994 से 1997 तक पंचायत एवं नगरीय निकायों में शिक्षकों के नियमित रिक्त पदों के विरूद्ध शिक्षा-कर्मी वर्ग-1, वर्ग-2 एवं वर्ग-3 के पद पर एक हजार, आठ सौ एव पाँच सौ रूपये के मासिक मानदेय पर नियुक्ति की जाती थी। इसके बाद से वर्ष 1998 में विधिवत नियम बनाते हुए स्थानीय निकायों (ग्रामीण एवं नगरीय निकायों) में वर्ष 2003 तक शिक्षाकर्मी वर्ग-1 को 3600, वर्ग-2 को 2990 और वर्ग-3 को 2350 मासिक वेतन दिया जाता था। वर्तमान सरकार ने 1 अप्रैल 2007 से अध्यापक संवर्ग का गठन किया। सहायक अध्यापक को 9100, अध्यापक को 12000 और वरिष्ठ अध्यापक का मासिक वेतन बढ़ाकर 14 हजार 700 रुपये किया गया। इसके बाद 1 अप्रैल 2013 से अध्यापक संवर्ग को दिये जा रहे वेतनमान में पुन: वृद्धि करते हुए रूपये 4500-25000 का वेतन बैण्ड स्वीकृत किया गया। सहायक अध्यापक, अध्यापक और वरिष्ठ अध्यापक को वेतन बैण्ड पद क्रमश: 1250, 1650 और 1900 संवर्ग वेतन तथा शासकीय कर्मचारियों के बराबर महँगाई भत्ता दिया गया, जिससे अध्यापक संवर्ग के वेतन में 1000 से लेकर 2500 रुपये तक की वृद्धि हुई। यही नहीं अध्यापक संवर्ग को शासकीय कर्मचारियों को देय छठवां वेतनमान, जो 1 सितम्बर 2017 से दिया जाना था, एक वर्ष पूर्व एक जनवरी 2016 से स्वीकृत किया गया। छठवां वेतन मान दिये जाने से नवनियुक्त सहायक अध्यापक, अध्यापक और वरिष्ठ अध्यापक को क्रमश: 23 हजार 500, 29 हजार 500 और 33 हजार रुपये मासिक वेतन प्राप्त हो रहा है। पूर्व से कार्यरत सहायक अध्यापक, अध्यापक एवं वरिष्ठ अध्यापक को क्रमश: 33 हजार 500, 37 हजार और 43 हजार 500 रुपये मासिक वेतन प्राप्त हो रहा है। अध्यापक संवर्ग को 12 और 24 वर्ष की सेवा के बाद क्रमोन्नति का लाभ भी दिया जा रहा है। स्कूल शिक्षा विभाग ने छठवें वेतनमान के अनुरूप क्रमोन्नत वेतनमान दिये जाने के आदेश भी जारी कर दिये हैं।

संविदा शाला शिक्षक को दो गुना मासिक पारिश्रामिक
संविदा शाला शिक्षकों को 1 नवंबर 2011 से संविदा मासिक पारिश्रमिक में 100 प्रतिशत वृद्धि करते हुए दो गुना संविदा मासिक पारिश्रमिक दिया जा रहा है। वर्तमान में संविदा शाला शिक्षक श्रेणी-3 को 5000 रुपये, श्रेणी-2 को 7000 और श्रेणी-1 को 9000 रुपये मासिक संविदा वेतन दिया जा रहा है। साथ ही तीन वर्ष की सेवा अवधि के बाद संविदा शाला शिक्षक को अध्यापक के पद पर नियुक्त किया जाता है और शासकीय कर्मचारियों के समान उन्हें छठवाँ वेतनमान दिया जाता है।

अध्यापक संवर्ग वेतनमान संवर्ग वेतन
वरिष्ठ अध्यापक रू. 9300-34,800 रू. 3600
अध्यापक रू. 9300-34,800 रू. 3200
सहायक अध्यापक रू. 5200-20,200 रू. 2400

NEWS IN English

The honorable position given to contracted teachers in school education by eliminating worker culture

The teacher’s cadre is being given the sixth pay scale

CHHAVINATH BHARDWAJ
Betul In Madhya Pradesh, the State Government has given honorary designation and pay scale to the education workers and contractual teachers by setting up teacher cadres by eliminating the worker culture in the teaching sector. Appointment on monthly honorarium of one thousand, eight hundred and five hundred rupees for the post of Education-worker class-1, class-2 and class-3 against regular vacancies of teachers in Panchayat and urban bodies from 1994 to 1997. Was done. After this, in the year 1998, in the local bodies (rural and urban bodies), the education classes were classed as class -1 to 3600, class-2 was given 2990 and square-3 was given 2350 monthly salary. The present government has formed Teacher Cadre since April 1, 2007. Assistant teacher gets 9100, teacher gets 12,000 and senior teacher’s monthly salary is increased to 14 thousand 700 rupees. After this, on 1st April 2013, the salary band of Rupees 4500-25000 was sanctioned while revising the pay scale being given to teachers cadre. Assistant teacher, teacher and senior teacher was given salary bands post, 1250, 1650 and 1900 cadre salary and equal pay for government employees, which increased the salary of teacher cadre from Rs 1000 to Rs 2500. Not only this, the teacher cadre, the 6th pay scale payable to the government employees, which was to be given from September 1, 2017, was accepted one year ago from January 1, 2016. With the grant of sixth wage, newly appointed assistant teachers, teachers and senior teachers are getting monthly salary of 23 thousand 500, 29 thousand 500 and 33 thousand rupees respectively. Assistant teachers, teachers and senior teachers working in the past are getting 33 thousand 500, 37 thousand and 43 thousand 500 rupees monthly salary respectively. The teacher cadre is being given benefits of upgradation after 12 and 24 years of service. The school education department has issued orders to pay the corresponding pay scale as per the sixth pay scale.

Contractual school teacher two times monthly paycheck
For contractual teachers, two fold contractual monthly remuneration is being given 100% increase in the contractual monthly remuneration from November 1, 2011. Presently contractual school teacher category-3 is being given Rs 5000, category-2 to 7000 and class-1 is given monthly contractual wages of 9000 rupees. Also, after three years of service period, contractual teacher teacher is appointed as teacher and according to the government employees, he is given 6th pay scale.
 
Teacher cadre pay scale cadre pay
Senior teacher Rs. Rs 9300-34,800 3600
Teacher Rs. Rs 9300-34,800 3200
Assistant teacher Rs. 5200-20,200 2400

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.