दुर्लभ रक्त ग्रुप के दान के बाद संभव हो पाया महिला का ऑपरेशन

Advertisements

दुर्लभ रक्त ग्रुप के दान के बाद संभव हो पाया महिला का ऑपरेशन


बैतूल। नगर के युवा विनोद ठाकुर ने अपना रक्तदान कर जिला अस्पताल में भर्ती मरीज की जान बचाई। विनोद का रक्त दुर्लभ ब्लड ग्रुप बी नेगेटिव था। जो कि उपलब्ध नहीं हो पा रहा था। जबकि मरीज के लिए इस ग्रुप के रक्त की तत्काल जरूरत पड़ गई थी।

नगर में जिला अस्पताल में महिला को ऑपरेशन के लिए दुर्लभ रक्त ग्रुप ‘बी नेगिटिव’ रक्त समूह की आवश्यकता पड़ गई,ज़िस कारण उनका ऑपरेशन लबिंत हो रहा था तभी रक्तमित्र विकास मिश्रा, विक्रम वैध, अनिल पेशवे के अथक प्रयास से दुर्लभ रक्त की व्यवस्था संभव हो पाई।
इंसानों में खून के आठ ग्रुप होते हैं। इनमें चार पाजिटिव एवं चार निगेटिव श्रेणी के होते हैं। ओ पाजिटिव और निगेटिव, ए पाजिटिव और निगेटिव, बी पाजिटिव और निगेटिव, एबी पाजिटिव और निगेटिव ग्रुप के खून होते हैं।

रक्त मित्र व भाजपा के मंडल अध्यक्षो विकास विक्रम द्वारा लगातार दुर्लभ रक्त ग्रुप की व्यवस्था की जाती है साथ ही परिजन को भी रक्त के प्रति जाग्रत कर रक्तदान के लिए प्रेरित किया जाता है,जिले में 18 व्हाट्सअप ग्रुप है जिनमे लगभग 2600 रक्तदाता जुड़े है जो समय समय पर अपना रक्तदान कर मरीजों के लिए देव दूध बनते है।अगर आप भी रक्तदान करने के इछुक है तो जिला अस्पताल में जा कर रक्तदान कर सकते है।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.