पैसे नहीं निकले फिर भी खाते से कटे, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को देना पड़ा मुआवजा

Advertisements

NEWS IN HINDI

पैसे नहीं निकले फिर भी खाते से कटे, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को देना पड़ा मुआवजा

मुंबई। महाराष्ट्र के अकोला जिला उपभोक्ता फोरम ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को सेवा में त्रुटि का दोषी पाया है। एटीएम से निकासी विफल रहने पर भी स्टेट बैंक ने धारक के खाते से पैसे काट लिए। उपभोक्ता फोरम ने बैंक से खाता धारक को 3000 रुपए मुआवजा देने के लिए कहा है। अकोला जिला उपभोक्ता फोरम ने मुआवजा का आदेश देने के अलावा बैंक को गलत तरीके से खाते से दर्शाई गई 5000 रुपए की निकासी वापस करने को कहा है। इसके अलावा बैंक को खाता धारक को 2000 रुपए अदालती खर्च भी देना होगा। शिकायतकर्ता प्रदीप शितरे ने सितंबर 2017 में फोरम में वाद दायर किया था। शितरे ने कहा था कि बैंक ने उनके खाते से 5000 रुपए की निकासी दर्शा दी है, जबकि एटीएम से उन्हें राशि मिली ही नहीं। एसएम उंतावले की अध्यक्षता वाले फोरम ने इस सप्ताह के शुरू में मामले का एकतरफा निपटारा कर दिया। नोटिस जारी होने के बाद भी स्टेट बैंक हाजिर नहीं हुआ।

 

NEWS IN English

The State Bank of India will have to pay compensation even if the money is not withdrawn

Mumbai. State Bank of India, Akola District Consumer Forum has found guilty of error in service. Even if the withdrawal from the ATM is unsuccessful, the State Bank has withdrawn money from the holder’s account. The Consumer Forum has asked the bank to pay a compensation of Rs 3000 to the account holder. In addition to ordering compensation from the Akola District Consumer Forum, the bank has incorrectly asked to return the withdrawal of Rs 5000 deprecated from the account. Apart from this, the bank also has to pay a court cost of Rs 2000 to the account holder. Complainant Pradeep Shitre had filed a case in the forum in September 2017. Shitre had said that the bank has shown a withdrawal of Rs 5000 from his account, whereas the ATM does not get the amount from him. The forum, headed by SM Utdwal, unilaterally resolved the case earlier this week. The State Bank was not present even after the notice was issued.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.