मौसम ने ली करवट, पहाड़ों में गिरी बर्फ तो मैदान में गिरा पारा

Advertisements

NEWS IN HINDI

मौसम ने ली करवट, पहाड़ों में गिरी बर्फ तो मैदान में गिरा पारा

नई दिल्ली। पिछले दिनों गर्मी का अहसास दिलाने के बाद मौसम ने फिर से करवट बदली है। हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो रही है वहीं मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ गई है। उत्तर भारत में ठंड ने फिर दस्तक दी है। इतना ही नहीं देश के अन्य राज्यों में भी तापमान में अचानक गिरावट दर्ज हुई है। मसूरी और नैनीताल में मौसम का पहला हिमपात हुआ है तो देहरादून जिले के चकराता में भी हल्की बर्फबारी हुई है। वहीं हिमाचल प्रदेश में एक माह से रूठे मौसम ने बारिश और बर्फबारी की सौगात देकर लोगों के चेहरे पर रौनक ला दी है। मौसम विभाग ने कश्मीर घाटी में बर्फबारी या फिर बारिश का अनुमान भी जताया है। बारिश से किसानों को काफी राहत मिली है, वहीं कृषि विशेषज्ञों के मुताबिक, इस समय हल्की बारिश फसल के लिए अच्छी मानी जाती है। बता दें कि कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के ऊपरी इलाकों में मौसम पहले से सर्द है, जबकि मैदानी इलाकों में कोहरे से यातायात प्रभावित हुआ। आसमान में बादल छाए रहने से भी तापमान तेजी से गिरा है और सर्दी बढ़ी है। जानकारी के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश में शिमला और आस पास के इलाकों सिरमौर, सोलन और लाहौल तथा स्पीति में बर्फबारी हुई है। वहीं, कश्मीर के करगिल में तापमान शून्य से 19.2 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। श्रीनगर में शून्य से 3.7 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया, जबकि लेह में पारा शून्य से 14 डिग्री सेल्सियस कम रहा।

दिल्ली-NCR में लौट आई ठंड
दिल्ली-एनसीआर के लोगों को बुधवार की सुबह फिर सर्दी के लौटने का अहसास हुआ। दरअसल, मंगलवार को हुई झमाझम बारिश से तापमान ही नहीं, बल्कि वायु प्रदूषण का स्तर भी गिर गया। एयर क्वालिटी इंडेक्स में खासी गिरावट दर्ज की गई। बताया जा रहा है कि बुधवार को इसमें और कमी आने के आसार हैं। बारिश के कारण धूल-मिट्टी सब बैठ गई। ऐसे में वायु प्रदूषण घट गया। जिन इलाकों में आमतौर पर एयर इंडेक्स 400 से ऊपर रहता है, वहां भी यह घटकर 300 तक पहुंच गया। सफर इंडिया के मुताबिक अगले 24 घंटों में एयर इंडेक्स में और कमी आएगी। बुधवार को मौसम साफ रहेगा। आंशिक रूप से बादल भी छाए रहेंगे, लेकिन बाद में आसमान साफ हो जाएगा। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 20 और 6 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।
स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि अब धीरे-धीरे तापमान बढ़ना शुरू हो जाएगा। मतलब, ठिठुरन और सर्दी में कमी आएगी। बारिश होने की कोई संभावना नहीं है। वहीं, बारिश, कोहरा और ठंड का असर ट्रेनों के संचालन पर भी पड़ा है। जानकारी के मुताबिक 25 ट्रेनें देरी से चल रही है, वहीं 3 के समय में बदलाव किया गया है, जबकि 18 ट्रेनें रद कर दी गई हैं।

गेहूं की फसल के लिए बारिश की बूंदें अमृत समान
मंगलवार को हुई बारिश से किसानों के चेहरे खिल गए। पूसा स्थित भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के वैज्ञानिकों का कहना है कि इस बारिश का वैसे तो सभी फसलों को फायदा होगा, लेकिन सबसे अधिक फायदा गेहूं की फसल को होगा। इस बारिश से सरसों में अच्छी फली लगेगी। इसके अलावा चने की फसल को भी इससे फायदा पहुंचेगा।

कई राज्यों में हुई बारिश
दिल्ली से सटे हरियाणा, उत्तर प्रदेश के साथ पंजाब के कई इलाकों में हल्की बारिश हुई। पंजाब में अमृतसर, लुधियाना और पटियाला में तापमान क्रमश: 6.7 डिग्री, 6.4 डिग्री और 9.6 डिग्री दर्ज किया गया। हरियाणा के अंबाला में न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री दर्ज किया गया। पश्चिमी विक्षोभ के कारण राजस्थान के कुछ इलाकों में हल्की बारिश हुई। उत्तर प्रदेश में फुरसतगंज 3.6 डिग्री तापमान के साथ राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा।

 

NEWS IN English

The weather has slowed down, the snow dropped in the mountains and dropped in the ground

new Delhi. The weather has changed its course after getting the feeling of heat in the past. While snowfall is occurring in the highlands of Himachal Pradesh and Uttarakhand, the cold conditions have increased in the plains. In northern India the cold has knocked again. Not only this, in other states of the country, there has been a sudden drop in temperature. Mussoorie and Nainital have the first snowfall of the season, there is a slight snowfall in Chakrata of Dehradun district. In Himachal Pradesh, for one month from the beginning of the month, the weather has brought a lot of rain on the face of the people by giving rain and snowfall. The Meteorological Department has also expressed snowfall or rainfall estimates in the Kashmir valley. While rain has provided relief to the farmers, according to agricultural experts, light rain is considered good for the crop this time. It is clear that weather in the upper areas of Kashmir and Himachal Pradesh is pre-cooled, whereas the fog affected traffic in the plains. Temperatures in the sky have also dropped sharply and the cold has increased due to cloudy weather. According to the information, snowfall has occurred in Shimla and surrounding areas in Himachal Pradesh, Sirmaur, Solan and Lahaul and Spiti. Meanwhile, Kashmir’s Kargil was at minus 19.2 degree Celsius. In Srinagar, the mercury was recorded at minus 3.7 degree Celsius, while the mercury in Leh was minus 14 degree Celsius.

Cold return to Delhi-NCR
The people of Delhi-NCR felt the return of winter on Wednesday morning. Actually, the Jhajjam rain on Tuesday not only caused the temperature but also the level of air pollution falling. A high quality index was recorded in the air quality index. It is being said that there will be more deficit on Wednesday. Due to the rain, all the dust and clay settled. In this way, air pollution decreased. In areas where the air index is generally above 400, it also decreased to 300. According to Travel India, the air index will come down in the next 24 hours. The weather will be clean on Wednesday. Partly cloudy will remain cloudy, but later the sky will become clear. The maximum and minimum temperature is likely to be 20 and 6 degree Celsius respectively.
Chief Meteorologist Mahesh Palawat of SkyMate Weather told that now the temperature will start rising gradually. Meaning, chills and cold will decrease. There is no possibility of rains. At the same time, the effect of rain, fog and cold is also on the operation of trains. According to the information, 25 trains are running late, while 3 have been changed in time, while 18 trains have been canceled.

Rain drops for wheat crop similar to nectar
On Tuesday, the faces of the farmers bloomed. Scientists of the Indian Agricultural Research Institute located in Pusa say that all the crops will benefit from this rain, but the most profitable is the wheat crop. With this rain, good beans will be seen in mustard. Apart from this, gram crop will also benefit from this.

Rain in many states
Haryana, Uttar Pradesh, adjacent to Delhi, received moderate rainfall in many areas of Punjab. In Punjab, Amritsar, Ludhiana and Patiala recorded temperatures of 6.7 degrees, 6.4 degrees and 9.6 degrees, respectively. In Haryana, Ambala recorded a minimum temperature of 10.2 degrees. Due to western disturbances, there was light showers in some parts of Rajasthan. In Uttar Pradesh, Furastanganj was the coldest place in the state with 3.6 degree temperature.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.