आज 1 पहली जून से बदल जाएंगे ये नियम, जानिए यहां

Advertisements

जून माह की शुरुआत के साथ ही कई नए नियम भी लागू हो जाएंगे। भारतीय स्टेट बैंक (SBI), एक्सिस बैंक और इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के ग्राहक नए नियमों से प्रभावित होंगे। इसके अलावा भी कुछ अन्य नियमों के कारण ग्राहकों की जेब पर असर होगा। यहां जानें 1 जून से किन नियमों में होगा बड़ा बदलाव –

SBI होम लोन ब्याज दरें

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपने गृह ऋण ईबीएलआर को 40 आधार अंकों से बढ़ाकर 7.05 प्रतिशत कर दिया है। SBI की वेबसाइट के मुताबिक बढ़ी हुई ब्याज दरें 1 जून, 2022 से प्रभावी होंगी।

एक्सिस बैंक के सर्विस चार्ज में बढ़ोतरी

एक्सिस बैंक ने वेतन और बचत खाताधारकों के लिए सेवा शुल्क में वृद्धि की है। बैंक ने मिनिमम बैलेंस की आवश्यकता को 15,000 से संशोधित कर 25,000 रुपए कर दिया है।

थर्ड पार्टी इंश्योरेंस भी महंगा

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा घोषित विभिन्न श्रेणियों के वाहनों के लिए थर्ड पार्टी इंश्योरेंस की प्रीमियम बढ़ा दी गई है। 75cc से कम इंजन क्षमता वाले दोपहिया वाहनों के लिए थर्ड-पार्टी कवर की लागत ₹ 538 होगी। 75cc से 150cc तक इंजन क्षमता वाले दोपहिया वाहनों के लिए प्रीमियम की लागत ₹ 714 होगी । 150cc से 350cc तक प्रीमियम की लागत ₹1366 होगी। 350cc से अधिक इंजन क्षमता वाले दोपहिया वाहन के लिए थर्ड पार्टी प्रीमियम की लागत ₹ 2,804 होगी ।

कारों के लिए मोटर बीमा प्रीमियम

निजी चार पहिया वाहनों के लिए थर्ड पार्ट की दरों में भी वृद्धि की गई है। 1 जून से 1000cc से कम इंजन क्षमता वाली कार के लिए थर्ड पार्टी प्रीमियम ₹ 2,094 होगा। 1000cc से 1500cc से अधिक की इंजन क्षमता वाली कार के लिए प्रीमियम ₹ 3,416 होगा। 1500 सीसी से अधिक इंजन क्षमता वाली कारों के लिए थर्ड पार्टी प्रीमियम ₹ 7,897 होगा। इन दरों को अंतिम बार वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए संशोधित किया गया था और COVID-19 महामारी के दौरान अपरिवर्तित रखा गया था।

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक शुल्क

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) ने जानकारी दी है कि आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम (AIPS) के लिए जारीकर्ता शुल्क 15 जून, 2022 को लागू किया जाएगा। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक भारतीय डाक की एक सहायक कंपनी है। हर महीने पहले 3 एईपीएस लेनदेन मुफ्त होंगे, जिसमें एईपीएस नकद निकासी, एईपीएस नकद जमा और एईपीएस मिनी स्टेटमेंट शामिल हैं।

गोल्ड हाॅल मार्किंग 

गोल्ड हाॅल मार्किंग का दूसरा चरण 1 जून 2022 से लागू होगा। इस दूसरे चरण में 288 जिलों में हाॅल मार्किंग का नियम लागू होने जा रहा है। यानी 14, 18, 20, 22, 23 और 24 कैरेट गोल्ड के गहने इन जिलों में बिना हाॅल मार्किंग के नहीं बेच पाएंगे।

गूगल बदलेगा नियम

1 जून से किताबें पढ़ने के शौकीन लोगों को बड़ी परेशानी हो सकती है। इसकी वजह ये है कि 1 जून 2022 से ऐंड्रॉयड यूजर्स Amazon ऐप से किंडल ई-बुक्स नहीं खरीद पाएंगे। यह बदलाव Google की नई नीति के कारण हुआ है। इस नीति के तहत, ऐप डेवलपर्स को अपने स्वयं के बिलिंग सिस्टम के बजाय Play Store बिलिंग सिस्टम का उपयोग करना होगा। यानी ऐप डेवलपर्स को अब ऐप के जरिए बेची गई सब्सक्रिप्शन खरीदारी के लिए Google को 30 प्रतिशत टैक्स देना होगा। आपको बता दें कि IOS यूजर्स पहले से किंडल ई-बुक्स नहीं खरीद सकते थे। अब यह फीचर एंड्रॉयड यूजर्स के लिए भी बंद हो जाएगा।

Apple यूजर्स के लिए भी बदलाव

Apple यूजर्स के लिए भी 1 जून 2022 से एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है। इस दिन से भारत में Apple ID का उपयोग करके सब्सक्रिप्शन और ऐप्स खरीदने के लिए किसी भी तरह के कार्ड का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। यानी भारत में iPhone के उपयोगकर्ता अब क्रेडिट और डेबिट कार्ड का उपयोग करके ऐप स्टोर से खरीदारी नहीं कर पाएंगे।

उदाहरण के लिए अब iCloud+ और Apple Music की सदस्यता लेने के लिए उन्हें कार्ड के बजाय अन्य भुगतान विधियों का उपयोग करना होगा। दरअसल भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने अक्टूबर 2021 में नए ऑटो डेबिट भुगतान नियम पेश किया था। उसके लगभग 6 महीने बाद कंपनी ने यह फैसला लिया है।

मोबाइल यूजर्स को मिलेगी बड़ी सुविधा

वैसे, 1 जून से मोबाइल यूजर्स के लिए एक बड़ी सुविधा भी लागू हो जाएगी। मोबाइल यूजर्स को अब एटीएम मशीन से पैसे निकालने के लिए डेबिट या क्रेडिट कार्ड की जरूरत नहीं पड़ेगी। वे अब फोनपे, पेटीएम और गूगल पे आदि ऐप के जरिए क्यूआर कोड को स्कैन करके सभी बैंकों की एटीएम मशीन से पैसे निकाल सकते हैं।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.