मेघालय में किसकी बनेगी सरकार, UDP के 6 विधायकों के साथ पूर्व सीएम की बैठक

Advertisements

NEWS IN HINDI

मेघालय में किसकी बनेगी सरकार, UDP के 6 विधायकों के साथ पूर्व सीएम की बैठक

नई दिल्ली। मेघालय विधानसभा चुनाव के परिणामों में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिल पाने के कारण सरकार बनाने कोे लेकर दांव-पेंच की राजनीति शुरू हो गई है. सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर दोनकुपर रॉय यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीपी) के 6 विधायकों के साथ मीटिंग कर रहे हैं. मीटिंग के बाद इस बात की घोषणा की जाएगी कि वो किसे समर्थन करेंगे, इसी के साथ यह भी तय हो जाएगा कि बीजेपी और कांग्रेस में से कौन मेघालय में सत्ता की कुर्सी पर काबिज होगा.

यूडीपी नेता दोनकुपर रॉय 19 मार्च 2008 से 19 मार्च 2009 तक मेघालय के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. मुख्यम उनका कार्यकाल 365 दिन का था. इधर, बीजेपी और कांग्रेस भी अपने नेताओं के साथ मीटिंग कर रही है. इसमें बीजेपी असम भवन में अपने नेताओं के साथ मीटिंग कर रही है. बीजेपी के वरिष्ठ नेता किरण रिजिजू ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है कि पार्टी ने नव निर्वाचित विधायक एएल हेक को बीजेपी के विधायक दल का नेता बनाया गया है.

गौर हो कि 21 सीटों पर विजय हासिल करने वाली कांग्रेस ने शनिवार को परिणाम आने के तुरंत बाद राज्यपाल को पत्र सौंपा और सरकार बनाने का दावा पेश किया. सरकार बनाने के दावे को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीपी जोशी और विंसन पाला ने राज्यपाल से मुलाकात की और पत्र सौंपा.

बीजेपी भी लगा रही जोर, राज्यपाल से मिलेंगे अल्फोंस
वहीं, दूसरी ओर बीजेपी भी अपने सपोर्ट से गठबंधन की सरकार बनाने को लेकर पूरी ताकत लगा रही है. इस बाबत बीजेपी नेता और असम सरकार में मंत्री हेमंत विस्वा शर्मा नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं. वहीं, भाजपा के वरिष्ठ नेता किरण रिजिजू और केजे अल्फोंस भी शिलांग पहुंच रहे हैं. जानकारी के मुताबिक, हेमंत विस्वा और केजे अल्फोंस दोपहर 1 बजे राज्यपाल से मुलाकात कर सकते हैं.

गलती दोहराना नहीं चाहती कांग्रेस
मेघालय में सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी कांग्रेस गोवा और मणिपुर में हुई अपनी गलतियों को दोहराना नहीं चाहती है. यही कारण है कि मेघालय के नतीजे आने से पहले ही कांग्रेस पार्टी ने अपने तीन वरिष्ठ नेताओं अहमद पटेल, कमलनाथ और मुकुल वासनिक को दिल्ली से शिलांग के लिए रवाना कर दिया था. इन तीनों नेताओं ने शिलॉन्ग में आने के बाद मेघालय में कांग्रेस की सरकार बनाने के लिए रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी.

कमलनाथ ने बीजेपी पर साधा निशाना
कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि हमने मेघालय के गवर्नर से शनिवार देर रात मुलाकात की और उन्हें एक चिट्ठी दी थी. उन्होंने कहा कि नियम अनुसार जो सबसे बड़ी पार्टी होती है उसे ही पहले सरकार बनाने का न्योता दिया जाना चाहिए. ऐसे में कांग्रेस को यह मौका पहले मिलना चाहिए, जिसके बाद वो मेघालय असेंबली में फ्लोर टेस्ट के दौरान बहुमत सिद्ध करेंगे. कमलनाथ ने बीजेपी पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि बीजेपी के पास सिर्फ दो सीट हैं, उनके वरिष्ठ नेता यहां क्यों हैं? उन्होंने पूछा कि दो सीटों वाली भाजपा अन्य विधायकों को लुभा रही है.

कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी फिर भी हुआ नुकसान
मेघालय में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने सबसे ज्यादा 21 सीटों पर जीत हासिल की है, इसके बावजूद उसे पिछले चुनाव के मुकाबले नुकसान झेलना पड़ा है. बता दें कि पिछले चुनावों में पार्टी ने 60 में से 29 सीटें जीती थीं. वहीं, भाजपा की संभावित गठंबधन साझेदार नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) ने 19 सीटें जीत ली हैं और भाजपा को 2 सीटों पर जीत मिली है.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Who will be formed in Meghalaya, Former CM meeting with 6 MLAs of UDP

new Delhi. In the results of the Meghalaya assembly elections, due to the lack of clear majority for any party, politics of betting began to be started by forming a government. Former Chief Minister of the province, Doctor Twokupur is meeting with 6 MLAs of Roy United Democratic Party (UDP). After the meeting, it will be announced that who will support it, along with this it will also decide who among the BJP and the Congress will be in power in the Meghalaya.

UDP leader Binukupta Roy has been the Chief Minister of Meghalaya from March 19, 2008 to March 19, 2009. Chief of his time was 365 days. Here, BJP and Congress are also meeting with their leaders. In this, BJP is meeting with its leaders in Assam Bhawan. Senior BJP leader Kiran Rijiju tweeted that the party has created the newly elected legislator, AL Haq, leader of the BJP legislature party.

It may be noticed that Congress, which won 21 seats, submitted a letter to the Governor immediately after the results came out and claim to form the government. Senior Congress leader CP Joshi and Winson Pala met the governor and handed over the letter to claim the government’s claim of formation.

BJP joins Alfonso to meet governor
At the same time, BJP, on the other hand, is fully capable of forming a coalition government with its support. In this regard, the BJP leader and Hemant Vishwa Sharma, a minister in Assam government, is meeting the National People’s Party (NPP) leaders. At the same time, senior BJP leader Kiran Rijiju and KJ Alphonse are also reaching Shillong. According to the information, Hemant Vishwa and KJ Alphonse can meet Governor at 1 a.m.

Congress does not want to repeat the mistake
The Congress emerging as the largest party in Meghalaya does not want to repeat their mistakes in Goa and Manipur. This is the reason why even before Meghalaya’s results came, the Congress party had sent its three senior leaders Ahmed Patel, Kamal Nath and Mukul Wasnik to Shillong from Delhi. After these three leaders came to Shillong, they started preparing the strategy to form the government of Congress in Meghalaya.

Kamal Nath targets BJP
Congress leader Kamal Nath said that we met the governor of Meghalaya late on Saturday night and gave him a letter. He said that according to the rule the person who is the biggest party should be invited to first form the government. In such a situation, the Congress should get this opportunity first, after which they prove the majority during the floor test in the Meghalaya assembly. While addressing the BJP, Kamal Nath said that BJP has only two seats, why are her senior leaders here? He asked that the BJP with two seats is tempting other legislators.

Congress biggest party still suffered loss
In Meghalaya, the ruling Congress has won the highest number of 21 seats, despite this it has suffered losses against the previous elections. In the last elections, the party won 29 of the 60 seats. At the same time, the BJP’s possible alliance partner National People’s Party (NPP) has won 19 seats and the BJP has won two seats.

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.